Monday, Jun 1 2020 | Time 17:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रूस में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी
  • बिहार में शाह की वर्चुअल रैली 09 जून को : भाजपा
  • अटलांटा में प्रदर्शन के दौरान कॉलेज फुटबॉल हॉल ऑफ फ़ेम क्षतिग्रस्त
  • मध्यप्रदेश में अधिकांश स्थानों पर बाजारों में चहलपहल बढ़ी
  • झारखंड में जल संसाधान विभाग की तीन साल तक पुरानी निविदाओं की होगी जांच
  • रूस में एक दिन में कोरोना वायरस के रिकार्ड 9035 नये मामले
  • सऊदी गठबंधन ने यमन के तीन प्रांतों में 30 हवाई हमले किये
  • असम में कोरोना के 23 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 1,384 हुई
  • भारत-पाकिस्तान सीरीज दुनिया की सबसे हिट सीरीज होगी: वकार
  • भारत-पाकिस्तान सीरीज दुनिया की सबसे हिट सीरीज होगी: वकार
  • धनबाद नगर निगम में 200 करोड़ रुपये के घोटाले की जांच एसीबी को
  • ओडिशा के 11 जिलों में जून में हरेक शनिवार और रविवार को पूर्ण बंदी
  • एक दिन में तीन हजार करोड़ के कोलेट्रल फ्री ऋण स्वीकृत
  • बुलंदशहर में तीन और कोरोना पॉजिटिव मिले, संक्रमितों की संख्या 130 हुई
पार्लियामेंट


एएमयू में अंकित हो राजा महेंद्र प्रताप का नाम

नयी दिल्ली, 02 दिसम्बर (वार्ता) अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के लिए करीब सौ एकड़ जमीन उपलब्ध कराने और इस विश्वविद्यालय की स्थापना में अहम भूमिका निभाने वाले राजा महेंद्र प्रताप सिंह का नाम और उनके बारे में जानकारी के साथ एक शिलापट एएमयू में लगाने की सोमवार को लोकसभा में मांग की गयी।
बीजू जनता दल के भर्तृहरि महताब ने शून्यकाल में यह मामला उठाया और कहा कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह ने आजादी की लड़ाई में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। वह सभी धर्मों के अनुयाइयों का सम्मान करते थे और सबके प्रति सम भाव रखते थे।
उन्होंने कहा कि श्री महेंद्र प्रताप सिंह के पास बहुत जमीन थी और उन्होंने एएमयू के लिए 99 एकड़ भूमि उपलब्ध कराई थी लेकिन आश्चर्य इस बात का है कि इस विश्वविद्यालय में उनके योगदान को लेकर किसी तरह का उल्लेख नहीं किया गया है। विश्विविद्यालय में आने वाले लोगों को इसकी स्थापना को लेकर उनके योगदान की जानकारी मिले इसलिए परिसर में इस संबंध में उनके नाम के उल्लेख के साथ सूचना पट लगाया जाना चाहिए।
श्री महताब ने कहा कि यह केंद्रीय विश्वविद्यालय है और सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि एएमयू के लिए 99 एकड़ भूमि देने वाले राजा के बारे में विस्तृत जानकारी वाला सूचना पट लगाया जाए जिसमें उनके नाम तथा उनके काम का भी उल्लेख हो। इसमें देश की आजादी तथा समाज सुधार में उनके योगदान के बारे में भी जानकारी दी जानी चाहिए।
अभिनव.संजय
वार्ता
image