Monday, Aug 19 2019 | Time 15:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दिल्ली में बाढ़ का खतरा: अगले 48 घंटे खतरे की घंटी: केजरीवाल
  • पुलिस के हथियारों को जब्त करने की खबर फर्जी: काबरा
  • बंगाल में ट्रकों की हड़ताल से व्यापार हुआ ठप
  • स्टोक्स का शतक, स्मिथ बाहर, ऑस्ट्रेलिया ने कराया ड्रा
  • कोविंद ने पूर्व राष्ट्रपति शर्मा की जयंती पर अर्पित किये श्रद्धासुमन
  • बिसलपुर बांध का जलस्तर 315़ 41 आरएल मीटर पहुंचा
  • जुलाई में वाहनों की खुदरा बिक्री छह प्रतिशत घटी
  • बाढ़ से मरने वालों की संख्या 301 हुई, 47 लापता
  • येदियुरप्पा ने की कुमारस्वामी की खिंचायी
  • जेटली का हाल जानने आडवाणी पहुंचे एम्स
  • रिकॉर्ड स्तर से फिसला सोना, चाँदी भी लुढ़की
  • दिल्ली पर मंडराया बाढ़ का खतरा
  • कर्नाटक में करंट लगने से हाथी की मौत
  • यातायात नियम तोड़ने वाले ने पुलिस के साथ की मारपीट
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


हिमाचल सरकार ने किये अब तक 38 हजार करोड़ रूपये के निवेश समझौते

हिमाचल सरकार ने किये अब तक 38 हजार करोड़ रूपये के निवेश समझौते

चंडीगढ़, 14 अगस्त(वार्ता) हिमाचल प्रदेश सरकार सात-आठ नवम्बर को धर्मशाला में प्रस्तावित “उदीयमान हिमाचल वैश्विक निवेशक सम्मेलन“ के माध्यम से राज्य में 85 हजार करोड़ रूपये के लक्ष्य के मुकाबले अभी तक लगभग 38 करोड़ रूपये के निवेश के समझौते कर चुकी है।

राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भारतीय उद्याेग परिसंघ(सीआईआई) के सहयोग से मंगलवार देर शाम यहां निवेशकों के साथ आयोजित बैठक(रोड शो) के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि निवेशक सम्मेलन में निवेशकों को आकर्षित करने को लेकर राज्य सरकार का चंडीगढ़ में अंतिम रोड-शो था तथा यहां भी उन्हें निवेशकों से अच्छा समर्थन मिला है तथा लगभग पांच हजार करोड़ रूपये के समझौते हुये हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने निवेशक सम्मेलन के माध्यम से 85 हजार करोड़ रूपये का राज्य में निवेश लाने का लक्ष्य रखा है तथा अभी तक देश-विदेश में आयोजित छह रोड शो में लगभग 38 हजार करोड़ रूपये के निवेश समझौते हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि इन समझौतों में से लगभग सात हजार करोड़ रूपये के निवेश की परियोजनाओं पर सतही स्तर पर काम भी शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि सरकार निवेशक सम्मेलन के माध्यम से निवेश का पूरा लक्ष्य हासिल कर लेगी।

रोड शोक के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, मुख्य सचिव बृज कुमार अग्रवाल, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव(एसीएस) श्रीकांत बाल्दी, एसीएस (उद्योग) मनोज कुमार के अलावा राज्य के विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

राज्य सरकार निवेशक सम्मेलन में निवेशकों को आमंत्रित करने के लिये इससे पहले जर्मनी, नीदरलैंड, दुबई, मुम्बई और दिल्ली में रोड-शो कर चुकी है। वह पर्यटन, साहसिक पर्यटन, दवा, कृषि, बागवानी, खाद्य प्रसंस्करण, बुनियादी संरचना और लॉजिस्टिक समेत सभी क्षेत्रों में निवेश की सम्भावनाएं तलाश रही है। निवेशक सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी आने की सम्भावना है।

image