Tuesday, Jul 16 2019 | Time 01:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुतिन, ट्रम्प और रूहानी से करूंगा परमाणु समझौते पर चर्चा : मैक्रॉन
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


शंकर और जयकिशन के बीच भी हुयी थी अनबन

शंकर और जयकिशन के बीच भी हुयी थी अनबन

. जयकिशन की पुण्यतिथि 12 सितंबर
मुंबई 11 सितंबर (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत में सर्वाधिक कामयाब संगीतकार जोड़ी शंकर -जयकिशन ने अपने सुरों के जादू से श्रोताओं को कई दर्शकों तक मंत्रमुग्ध किया और उनकी जोड़ी एक मिसाल के रूप में ली जाती थी लेकिन एक वक्त ऐसा भी आया जब दोनो के बीच अनबन हो गयी थी ।

शंकर और जयकिशन ने एक दूसरे से वादा किया था कि वह कभी किसी को नहीं बतायेंगे कि धुन किसने बनायी है लेकिन एक बार जयकिशन इस वादे को भूल गये और मशहूर सिने पत्रिका फिल्मफेयर के लेख में बता दिया कि फिल्म संगम के गीत.. ये मेरा प्रेम पत्र पढ़कर कि तुम नाराज न होना.. की धुन उन्होंने बनाई थी ।
इस बात से शंकर काफी नाराज भी हुये।
बाद में पार्श्वगायक मोहम्मद रफी के प्रयास से शंकर और जयकिशन के बीच हुये मतभेद को कुछ हद तक कम किया जा सका ।

शंकर सिंह रघुवंशी का जन्म 15 अक्तूबर 1922 को पंजाब में हुआ था।
बचपन के दिनों से ही शंकर संगीतकार बनना चाहते थे और उनकी रूचि तबला बजाने में थी।
उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा बाबा नासिर खानसाहब से ली थी ।
इसके साथ ही उन्होंने हुस्न लाल भगत राम से भी संगीत की शिक्षा ली थी ।
अपने शुरूआती दौर मे शंकर ने सत्यनारायण और हेमावती द्धारा संचालित एक थियेटर ग्रुप में काम किया ।
इसके साथ ही वह पृथ्वी थियेटर के
सदस्य भी बन गये जहां वह तबला बजाने का काम किया करते थे ।
इसके साथ ही पृथ्वी थियेटर के नाटकों मे वह छोटे मोटे रोल भी किया करते थे ।

जयकिशन का पूरा नाम जयकिशन दयाभाई पांचाल था।
उनका जन्म चार नवम्बर 1929 को गुजरात के वंसाडा में हुआ था ।
जयकिशन हारमोनियम बजाने में निपुण थे और उन्होंने वाडीलालजी.प्रेम शंकर नायक और विनायक तांबे से शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ली थी हलांकि वह अभिनेता बनना चाहते थे।
अभिनेता बनने का सपना लिये जयकिशन ने मुंबई का रूख किया जहां वह एक फैक्ट्री में टाइमकीपर..समयपाल.. की नौकरी करने लगे ।
उसी दौरान उनकी मुलाकात शंकर से हुयी।
शंकर की सिफारिश पर जयकिशन को पृथ्वी थियेटर में हारमोनियम बजाने के लिये नियुक्त कर लिया गया ।

वर्ष 1948 में राजकपूर की पहली फिल्म आग में शंकर-जयकिशन ने संगीतकार राम गांगुली के सहायक के तौर पर काम किया।
बाद में राजकपूर और राम गांगुली के बीच किसी बात को लेकर मतभेद हो गया।
उन दिनों राजकपूर अपनी नयी फिल्म बरसात की तैयारी कर रहे थे।
राजकपूर ने शंकर जयकिशन को मिलने का न्योता भेजा ।
राज कपूर शंकर जयकिशन के संगीत बनाने के अंदाज से काफी प्रभावित हुये और उन्होंने शंकर जयकिशन से अपनी फिल्म बरसात में संगीत देने की पेशकश की ।

फिल्म बरसात मे शंकर-जयकिशन की जोड़ी ने जिया बेकरार है और बरसात में हमसे मिले तुम सजन जैसे सुपरहिट संगीत दिया ।
फिल्म बरसात की कामयाबी के बाद शंकर जयकिशन बतौर संगीतकार अपनी पहचान बनाने मे सफल हो गये ।
इसे महज एक संयोग ही कहा जायेगा कि फिल्म बरसात से ही गीतकार शैलेन्द्र और हसरत जयपुरी ने भी अपने सिने कैरियर की शुरूआत की थी ।
फिल्म बरसात की कामयाबी के बाद राजकपूर हसरत जयपुरी और शंकर जयकिशन की जोड़ी ने कई फिल्मो मे एक साथ काम किया ।

शंकर जयकिशन की जोड़ी गीतकार हसरत जयपुरी और शैलेन्द्र के साथ काफी पसंद की गयी।
शंकर .जयकिशन सर्वाधिक नौ बार सर्वश्रेष्ठ संगीतकार के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
शंकर की जोड़ी जयकिशन के साथ वर्ष 1971 तक कायम रही।
12 सितंबर 1971 को जयकिशन इस दुनिया को अलविदा कह गये।
अपने मधुर
संगीत से श्रोताओं को भावविभोर करने वाले संगीतकार शंकर भी 26 अप्रैल 1987 को इस दुनिया को अलविदा कह
गये ।


वार्ता

बेटे

बेटे को अपनी फिल्में नही दिखाना चाहते हैं तुषार कपूर

मुंबई 15 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता तुषार कपूर बेटे लक्ष्य को अपनी फिल्में नही दिखाना चाहते हैं।

स्टारडम

स्टारडम लंबे समय तक कायम रखना चुनौती:सलमान

मुंबई 13 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान स्टारडम को लंबे समय तक कायम रखना चुनौती मानते हैं।

गोलमाल

गोलमाल ने जिंदगी बदल दी : रोहित शेट्टी

मुंबई 15 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के जाने माने फिल्मकार रोहित शेट्टी का कहना है कि फिल्म गोलमाल ने उनकी जिंदगी बदल दी है।

कबीर

कबीर सिंह ने 250 करोड़ की कमाई की

मुंबई 13 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो शाहिद कपूर की फिल्म ‘कबीर सिंह’ ने बॉक्स ऑफिस पर 250 करोड़ से अधिक की कमाई कर ली है।

बॉलीवुड

बॉलीवुड में डेब्यू करेंगी प्रणति राय प्रकाश

मुंबई 15 जुलाई (वार्ता) इंडियाज नेक्सट टॉप मॉडल की विनर प्रणति राय प्रकाश बॉलीवुड में फिल्म ‘फैमिली ऑफ ठाकुरगंज’ से डेब्यू करने जा रही है।

कव्वाली

कव्वाली को संगीतबद्ध करने के महारथी थे रौशन

..जन्मदिन 14 जुलाई  ..
मुंबई 13 जुलाई(वार्ता) हिंदी फिल्मों में जब कभी कव्वाली का जिक्र होता है संगीतकार रौशन का नाम सबसे पहले लिया जाता है।

दिलकश

दिलकश अदा से दीवाना बनाया कैटरीना ने

..जन्मदिन 16 जुलाई के अवसर पर ..
मुंबई 15 जुलाई(वार्ता) बॉलीवुड में कैटरीना कैफ एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार की जाती है जिन्होंने अपनी दिलकश अदाओं से लगभग एक दशक से दर्शकों को अपना दीवाना बनाया हुआ है।

अपनी

अपनी ही फिल्म में रैप सॉन्ग गाएंगे नवाजुद्दीन सिद्दीकी

मुंबई 14 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड में अपने संजीदा अभिनय के लिये मशहूर नवाजउद्दीन सिद्दिकी अपनी फिल्म में रैप सांग गाने जा रहे हैं।

दर्शकों

दर्शकों को अपना दीवाना बनाया विमल राय ने

..जन्मदिवस 12 जुलाई ..
मुंबई 12 जुलाई (वार्ता) विमल राय को एक ऐसे फिल्मकार के रूप में याद किया जाता है जिन्होंने पारिवारिक सामाजिक और साफ सुथरी फिल्में बनाकर लगभग तीन दशक तक सिने प्रेमियों के दिल पर अपनी अमिट छाप छोड़ी है।

गोविंदा

गोविंदा से डांस सीखती थीं करिश्मा कपूर

मुंबई 14 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर का कहना है कि वह गोविंदा से डांस सीखा करती थीं।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थीं नसीम बानो

फिल्म जगत की ब्यूटी क्वीन थीं नसीम बानो

..पुण्यतिथि 18 जून के अवसर पर ..
मुंबई 17 जून (वार्ता)भारतीय सिनेमा जगत में अपनी दिलकश अदाओं से दर्शको को दीवाना बनाने वाली ना जाने कितनी अभिनेत्री हुयी लेकिन चालीस के दशक में एक ऐसी अभिनेत्री भी हुयी जिन्हें ‘ब्यूटी क्वीन’ कहा जाता था और आज के सिने प्रेमी उन्हें नहीं जानते, वह थीं ..नसीम बानो ..
नसीम बानो का जन्म चार जुलाई 1916 को हुआ था।

image