Friday, Aug 23 2019 | Time 12:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • छह-सात महीनों में करीब 55 प्रतिशत अपराध बढे-कटारिया
  • ‘पूजो’ के मूड में नजर आने लगा बंगाल
  • केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
  • तीन तलाक मामला: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को जारी किया नोटिस
  • तेलंगाना में आयुध फैक्ट्री के लाखों कर्मियों की हड़ताल जारी
  • हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन में नजर आएंगी प्रियंका
  • हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन में नजर आएंगी प्रियंका
  • अल्जीयर्स रैप कंसर्ट में भगदड़, 5 की मौत, 21 घायल
  • बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत, पुनर्वास कार्य तेज
  • सीतापुर में छेड़छाड़ का विरोध करने पर जलाई गई किशोरी की मृत्यु
  • जी-7 बैठकों में कश्मीर मसला ट्रंप के एजेंडे में शामिल
  • रूस ने 27 विदेशी टोही विमानों का पता लगाया
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 24 अगस्त)
  • मोदी-मेक्रों ने सीमा पार आतंकवाद को रोकने का अनुरोध किया
  • ट्रम्प ने जी-7 सम्मिट में आर्थिक मुद्दे पर बातचीत का अनुरोध किया
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


जन्म के समय पिता मीना को अनाथालय छोड़ आये थे

जन्म के समय पिता मीना को अनाथालय छोड़ आये थे

.. पुण्यतिथि 31 मार्च के अवसर पर ..
मुंबई 30 मार्च(वार्ता) अपने दमदार और संजीदा अभिनय से सिने प्रेमियों के दिलों पर छा जाने वाली ट्रेजडी क्वीन मीना कुमारी को उनके पिता अनाथालय छोड़ आये थे।

एक अगस्त 1932 का दिन था।
मुंबई में एक क्लीनिक के बाहर मास्टर अली बक्श नाम के शख्स बड़ी बेसब्री से अपनी तीसरी औलाद के जन्म का इंतजार कर रहे थे।
दो बेटियों के जन्म लेने के बाद वह इस बात की दुआ कर रहे थे कि अल्लाह इस बार बेटे का मुंह दिखा दे।
तभी अंदर से बेटी होने की खबर आयी तो वह माथा पकड़ कर बैठ गये।
मास्टर अली बख्श ने तय किया कि वह बच्ची को घर नहीं ले जायेंगे और वह बच्ची को अनाथालय छोड़ आये लेकिन बाद में उनकी पत्नी के आंसुओं ने बच्ची को अनाथालय से घर लाने के लिये उन्हें मजबूर कर दिया।
बच्ची का चांद सा माथा देखकर उसकी मां ने उसका नाम रखा ‘माहजबीं’।
बाद में यही माहजबीं फिल्म इंडस्ट्री में मीना कुमारी के नाम से मशहूर हुयीं।

वर्ष 1939 मे बतौर बाल कलाकार मीना कुमारी को विजय भटृ की ‘लेदरफेस’ में काम करने का मौका मिला।
वर्ष 1952 मे मीना कुमारी को विजय भटृ के निर्देशन में ही बैजू बावरा में काम करने का मौका मिला।
फिल्म की सफलता के बाद मीना कुमारी बतौर अभिनेत्री फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने में सफल हो गयीं।

वर्ष 1952 में मीना कुमारी ने फिल्म निर्देशक कमाल अमरोही के साथ शादी कर ली।
वर्ष 1962 मीना कुमारी के सिने कैरियर का अहम पड़ाव साबित हुआ।
इस वर्ष उनकी आरती, मैं चुप रहूंगी तथा साहिब बीबी और गुलाम जैसी फिल्में प्रदर्शित हुयीं।
इसके साथ ही इन फिल्मों के लिये वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिये नामित की गयी।
यह फिल्म फेयर के इतिहास मे पहला ऐसा मौका था जहां एक अभिनेत्री को फिल्म फेयर के तीन नोमिनेशन मिले थे।

      वर्ष 1964 में मीना कुमारी और कमाल अमरोही की विवाहित जिंदगी में दरार आ गयी।
इसके बाद मीना कुमारी और कमाल अमरोही अलग-अलग रहने लगे।
कमाल अमरोही की फिल्म ‘पाकीजा’ के निर्माण में लगभग चौदह वर्ष लग गये।
कमाल अमरोही से अलग होने के बावजूद मीना कुमारी ने शूटिंग जारी रखी क्योंकि उनका मानना था कि पाकीजा जैसी फिल्मों में काम करने का मौका बार-बार नहीं मिल पाता है ।

मीना कुमारी के करियर में उनकी जोड़ी अशोक कुमार के साथ काफी पसंद की गयी।
मीना कुमारी को उनके बेहतरीन अभिनय के लिये चार बार फिल्म फेयर के सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार से नवाजा गया है।
इनमें बैजू बावरा, परिणीता, साहिब बीबी और गुलाम तथा काजल शामिल है।

मीना कुमारी यदि अभिनेत्री नहीं होती तो शायर के रूप में अपनी पहचान बनातीं।
हिंदी फिल्मों के जाने माने गीतकार और शायर गुलजार से एक बार मीना कुमारी ने कहा,“ये जो एक्टिंग मैं करती हूं उसमें एक कमी है।
ये फन, ये आर्ट मुझसे नहीं जन्मा है।
ख्याल दूसरे का, किरदार किसी का और निर्देशन किसी का।
मेरे अंदर से जो जन्मा है, वह लिखती हूं जो मैं कहना चाहती हूं वह लिखती हूं।
” मीना कुमारी ने अपनी वसीयत में अपनी कविताएं छपवाने का जिम्मा गुलजार को दिया जिसे उन्होंने ‘नाज’ उपनाम से छपवाया।

सदा तन्हा रहने वाली मीना कुमारी ने अपनी रचित एक गजल के जरिये अपनी जिंदगी का नजरिया पेश किया है-
.. चांद तन्हा है आसमां तन्हा
दिल मिला है कहां कहां तन्हा
राह देखा करेगा सदियों तक
छोड़ जायेगें ये जहां तन्हा ..
लगभग तीन दशक तक अपने संजीदा अभिनय से दर्शकों के दिल पर राज करने वाली हिन्दी सिने जगत की महान अभिनेत्री मीना कुमारी 31 मार्च 1972 को सदा के लिये अलविदा कह गयीं।
मीना कुमारी के करियर की अन्य उल्लेखनीय फिल्में हैं..आजाद, एक हीं रास्ता, यहूदी, दिल अपना और प्रीत पराई, कोहीनूर, दिल एक मंदिर, चित्रलेखा, फूल और पत्थर, बहू बेगम, शारदा, बंदिश, भींगी रात, जवाब,दुश्मन आदि

 

करीना

करीना कपूर को अच्छी दोस्त मानती है सारा अली खान

मुंबई 23 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सारा अली खान का कहना है कि वह करीना कपूर को अच्छी दोस्त मानती है और उनकी बहुत इज्जत करती है।

दिलकश

दिलकश अंदाज से दर्शकों को दीवाना बनाया सायरा बानु ने

.जन्मदिन 23 अगस्त.
मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड में सायरा बानु को एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने साठ और सत्तर के दशक में अपनी दिलकश अदाओं और दमदार अभिनय से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया।

हॉलीवुड

हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन में नजर आएंगी प्रियंका

मुंबई 23 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा अपने नये हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन अवतार में नजर आएंगी।

हाउसफुल

हाउसफुल 4 में अक्षय-राणा गाएंगे कव्वाली

मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार और राणा दग्गुबाती आने वाली फिल्म हाउसफुल 4 में कव्वाली गाते नजर आयेंगे।

ओ

ओ साथी रे तेरे बिना भी क्या जीना

..पुण्यतिथि 24 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 23 अगस्त (वार्ता)
..जिंदगी से बहुत प्यार हमने किया
मौत से भी मोहब्बत निभायेगें हम
रोते रोते जमाने में आये मगर
हंसते हंसते जमाने से जायेगे हम.
जिंदगी के अनजाने सफर से बेहद प्यार करने वाले हिन्दी सिने जगत के मशहूर संगीतकार कल्याण जी का जीवन से प्यार उनकी संगीतबद्ध इन पंक्तियों मे समाया हुआ है।

बॉलीवुड

बॉलीवुड इंडस्ट्री के लीडर बनना चाहते हैं रणवीर सिंह

मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) जाने माने अभिनेता रणवीर सिंह बॉलीवुड इंडस्ट्री के लीडर बनना चाहते हैं।

पिता

पिता को लगता था कि मैं एक्ट्रेस नही बन पाऊंगी : रवीना टंडन

मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन का कहना है कि उनके पिता रवि टंडन को लगता था कि वह कभी एक्ट्रेस नही बन पायेगी।

भूल

भूल भुलैया-2 में अक्षय का काम करना खुशी की बात : अनीस बज्मी

मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड निर्देशक अनीस बज्मी का कहना है कि फिल्म भूल-भुलैया 2 में अक्षय कुमार का काम करना खुशी की बात होगी।

हमेशा

हमेशा से ही एक्ट्रेस बनना चाहती थी दीपिका

मुंबई 22 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड की डिंपल गर्ल दीपिका पादुकोण का कहना है कि वह बचपन से ही एक्ट्रेस बनने का ख्वाब देखा करती थी।

वेबसीरीज

वेबसीरीज में काम करेंगी माही गिल

मुंबई 21 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री माही गिल वेब सीरीज में मराठी यौनकर्मी का किरदार निभाती नजर आयेंगी।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

ओ साथी रे तेरे बिना भी क्या जीना

ओ साथी रे तेरे बिना भी क्या जीना

..पुण्यतिथि 24 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 23 अगस्त (वार्ता)
..जिंदगी से बहुत प्यार हमने किया
मौत से भी मोहब्बत निभायेगें हम
रोते रोते जमाने में आये मगर
हंसते हंसते जमाने से जायेगे हम.
जिंदगी के अनजाने सफर से बेहद प्यार करने वाले हिन्दी सिने जगत के मशहूर संगीतकार कल्याण जी का जीवन से प्यार उनकी संगीतबद्ध इन पंक्तियों मे समाया हुआ है।

image