Thursday, Jul 2 2020 | Time 22:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मुंगेर में पुलिस मुठभेड़ में हथियार के साथ कुख्यात गिरफ्तार
  • जालौन: चार नये मरीज मिलने से जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 192
  • सीकर में शहीद की अंतिम विदाई में उमड़ा जनसैलाब
  • जमुई में कपड़ा दुकान के कर्मचारी से डेढ़ लाख की लूट
  • भारतीय सेना की कार्रवाई में दो पाकिस्तानी सैनिक मरे, कई बंकर ध्वस्त
  • बोकारो से कुख्यात गांजा तस्कर विनोद कुमार समेत दो गिरफ्तार
  • ट्रम्प ने सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने का किया समर्थन
  • पश्चिम चंपारण में ट्रैक्टर चोर गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार
  • कोरोना मामले 6 18 लाख के पार, रिकवरी दर 60 फीसदी के करीब
  • पद्म पुरस्कारों के लिए नामांकन 15 सितम्बर तक
  • अप्रैल 2023 में शुरू होगा निजी ट्रेनों का परिचालन : यादव
  • जालौन: पुलिस ने सत्रह साल बाद दबोचा ईनामी बदमाश
  • कोरोना गुजरात मुख्यमंत्री बैठक दो अंतिम गांधीनगर
  • अंकित का बीसीसीआई से आजीवन प्रतिबंध फैसले पर पुनर्विचार का आग्रह
  • कोविड-19 पर नियंत्रण में प्रधानमंत्री एवं गृह मंत्री के मार्गदर्शन का लाभ मिला:योगी
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


अभिनेत्री नहीं,डॉक्टर बनना चाहती थीं नरगिस

अभिनेत्री नहीं,डॉक्टर बनना चाहती थीं नरगिस

(पुण्यतिथि 03 मई  )
मुम्बई 02 मई (वार्ता) अपने दिलकश अदाओं से लगभग चार दशक तक सिने प्रेमियों की दिलों पर राज करने वाली मशहूर अदाकारा नरगिस अभिनेत्री नहीं, डॉक्टर बनना चाहती थीं।

कलकत्ता(अब कोलकाता) में एक जून 1929 को जन्मी कनीज फातिमा राशिद उर्फ नरगिस के घर में मां जद्दन बाई के अभिनेत्री और फिल्म निर्माता होने के कारण फिल्मी माहौल था।
इसके बावजूद बचपन में नरगिस की अभिनय में कोई दिलचस्पी नहीं थी ।
उनकी तमन्ना डाक्टर बनने की थी जबकि उनकी मां चाहती थीं कि वह अभिनेत्री बनें ।

एक दिन उनकी मां ने उनसे स्क्रीन टेस्ट के लिए फिल्म निर्माता एवं निर्देशक महबूब खान के पास जाने को कहा ।
चूंकि नर्गिस अभिनय क्षेत्र में जाने की इच्छुक नहीं थीं इसलिए उन्होंने सोचा कि यदि वह स्क्रीन टेस्ट में फेल हो जाती हैं तो उन्हें अभिनेत्री नहीं बनना पड़ेगा।
स्क्रीन टेस्ट के दौरान नर्गिस ने अनमने ढंग से संवाद बोले और सोचा कि महबूब खान उन्हें स्क्रीन टेस्ट में फेल कर देंगे लेकिन उनका यह विचार गलत निकला।
महबूब खान ने अपनी फिल्म ‘तकदीर’ के लिए बतौर नायिका उन्हें चुन लिया।

इसके बाद वर्ष 1945 मे महबूब खान द्वारा ही निर्मित फिल्म ‘हुमाँयूं’में नरगिस को काम करने का मौका मिला।
वर्ष 1949 नरगिस के सिने कैरियर में अहम पड़ाव साबित हुआ ।
इस वर्ष उनकी ‘बरसात’ और ‘अंदाज’ जैसी सफल फिल्में प्रदर्शित हुयी ।
प्रेम त्रिकोण बनी फिल्म अंदाज में उनके साथ दिलीप कुमार और राजकपूर जैसे नामी अभिनेता थे इसके बावजूद भी नरगिस दर्शको का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने में सफल रही ।

वर्ष 1950 से 1954 तक का वक्त नरगिस के सिने कैरियर के लिये बुरा साबित हुआ ।
इस दौरान उनकी शीशा,बेवफा,आशियाना,अंबर, अनहोनी,शिकस्त,पापी,धुन,अंगारे जैसी कई फिल्में बॉक्स आफिस पर असफल हो गयी लेकिन वर्ष 1955 मे उनकी राजकपूर के साथ ‘ श्री 420’ फिल्म प्रदर्शित हुयी जिसकी कामयाबी के बाद वह एक बार फिर से शोहरत की बुंलदियों पर जा पहुंची ।

नरगिस के सिने कैरियर मे उनकी जोड़ी राज कपूर के साथ काफी पसंद की गयी ।
राज कपूर और नरगिस ने सबसे पहले फिल्म वर्ष 1948 मे प्रदर्शित फिल्म ‘आग’ मे एक साथ अभिनय किया था ।
इसके बाद नरगिस ने राजकपूर के साथ बरसात,अंदाज,जान-पहचान,प्यार,आवारा अनहोनी,आशियाना,.आह,धुन, पापी,श्री 420,जागते रहो,चोरी चोरी जैसी कई फिल्मों में भी काम किया।
वर्ष 1956 मे प्रदर्शित फिल्म ‘चोरी चोरी’ नरगिस और राजकपूर की
जोड़ी वाली अंतिम फिल्म थी।
राजकपूर की फिल्म ‘जागते रहो’में भी नरगिस ने अतिथि कलाकार की भूमिका निभायी इस फिल्म के अंत मे लता मंगेश्कर की आवाज मे नरगिस पर ‘जागो मोहन प्यारे’ गाना फिल्माया गया था ।

वर्ष 1957 में महबूब खान की फिल्म ‘मदर इंडिया’ने नरगिस के सिने कैरियर के साथ ही व्यक्तिगत जीवन मे भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।
इस फिल्म में नरगिस ने सुनील दत्त की मां का किरदार निभाया था।
इस फिल्म
की शूटिंग के दौरान सुनील दत्त ने नरगिस को आग से बचाया था ।
इस घटना के बाद नरगिस ने कहा था कि पुरानी नरगिस की मौत हो गयी है और नयी नरगिस का जन्म हुआ है।
नरगिस ने अपनी उम्र और हैसियत की परवाह किये बिना सुनील दत्त को अपना जीवन साथी चुन लिया।

शादी के बाद नरगिस ने फिल्मों में काम करना कुछ कम कर दिया।
करीब 10 वर्ष के बाद अपने भाई अनवर हुसैन और अख्तर हुसैन के कहने पर नरगिस 1967 में फिल्म ‘रात और दिन’ में काम किया।
इस फिल्म के लिये उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
यह पहला मौका था जब किसी अभिनेत्री को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया था।
नरगिस ने अपने सिने करियर में लगभग 55 फिल्मों में का किया।
उन्हें अपने सिने करियर में बहुत मान-सम्मान मिला।
वह पहली अभिनेत्री थी जिन्हे पदमश्री से नवाजा गया।
उन्हें राज्यसभा सदस्य भी बनाया गया।
अपने संजीदा अभिनय से सिने प्रेमियों को भावविभोर करने वाली नरगिस 03 मई 1981 को इस दुनिया से रूखसत हो गयी ।

नेपोटिज्म

नेपोटिज्म के शिकार हुये थे सैफ अली खान

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान का कहना है कि वह भी नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) के शिकार हो चुके हैं।

‘साइकल

‘साइकल गर्ल’ ज्योति के पिता का किरदार निभायेंगे संजय मिश्रा

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बिहार की बेटी ‘साइकल गर्ल’ ज्योति पर बनने वाली फिल्म में संजय मिश्रा , ज्योति के पिता का किरदार निभाते नजर आयेंगे।

बेलबॉटम

'बेलबॉटम' में अक्षय के साथ काम करेंगी वाणी कपूर

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री वाणी कपूर फिल्म 'बेलबॉटम' में अक्षय कुमार के साथ काम करती नजर आयेंगी।

आलोचनाएं

आलोचनाएं मुझे विचलित नहीं करतीं: पूजा भट्ट

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री-फिल्मकार पूजा भट्ट का कहना है कि आलोचनायें उन्हें विचलित नहीं करती है।

अमिताभ

अमिताभ को पसंद आया ब्रीद का ट्रेलर

मुंबई, 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को अपने पुत्र अभिषेक बच्चन की आने वाली वेब सीरीज ‘ब्रीद 2 इंटू द शैडोज़’ का ट्रेलर बेहद पसंद आया है।

अभिमान

अभिमान को त्याग कर प्रियंका ने शुरू किया हॉलीवुड में सफर

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के साथ ही हॉलीवुड में अपनी पहचान बना चुकी प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि हॉलीवुड में जब उन्होंने अपना करियर बनाने का प्रयास किया, तो पहले उन्हें अपने अभिमान को त्यागना पड़ा।

किसी

किसी भी फिल्म को ठुकराने का अफसोस नहीं :करीना

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर का कहना है कि उन्हें किसी भी फिल्म को ठुकराने का अफसोस नहीं है।

संवाद

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

.. पुण्यतिथि 03 जुलाई  ..
मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) हिन्दी सिनेमा जगत में यूं तो अपने दमदार अभिनय से कई सितारों ने दर्शकों के दिलों पर राज किया लेकिन एक ऐसा भी सितारा हुआ जिसने न सिर्फ दर्शकों के दिल पर राज किया बल्कि फिल्म इंडस्ट्री ने भी उन्हें ..राजकुमार.. माना. वह थे ..संवाद अदायगी के बेताज बादशाह कुलभूषण पंडित उर्फ राजकुमार .. ।

पवन

पवन सिंह की 'घातक' का फर्स्ट लुक आउट

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) भोजपुरी फिल्म अभिनेता पवन सिंह की आने वाली फिल्म 'घातक' का फर्स्ट लुक आउट हो गया है।

नेपोटिज़्म

नेपोटिज़्म की वजह से फिल्म से बाहर कर दी गयी :प्रियंका

मुंबई 01 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि नेपोटिज़्म (भाई-भतीजावाद) के कारण वह एक बार फिल्म से बाहर कर दी गयी थी।

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

.. पुण्यतिथि 03 जुलाई  ..
मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) हिन्दी सिनेमा जगत में यूं तो अपने दमदार अभिनय से कई सितारों ने दर्शकों के दिलों पर राज किया लेकिन एक ऐसा भी सितारा हुआ जिसने न सिर्फ दर्शकों के दिल पर राज किया बल्कि फिल्म इंडस्ट्री ने भी उन्हें ..राजकुमार.. माना. वह थे ..संवाद अदायगी के बेताज बादशाह कुलभूषण पंडित उर्फ राजकुमार .. ।

बिंदास अभिनय से पहचान बनायी करिश्मा कपूर ने

बिंदास अभिनय से पहचान बनायी करिश्मा कपूर ने

.जन्मदिन 25 जून .
मुंबई, 25 जून (वार्ता) बॉलीवुड में करिश्मा कपूर को एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने अभिनेत्रियों को फिल्मों में परंपरागत रूप से पेश किये जाने के तरीके को बदलकर अपने बिंदास अभिनय से दर्शको के बीच अपनी खास पहचान बनायी।

image