Monday, Aug 19 2019 | Time 12:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के सड़क हादसे की जांच के लिए सीबीआई को दो सप्ताह और मिला
  • कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा: अफगानिस्तान
  • तेजपाल की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ जगन्नाथ मिश्रा का निधन
  • उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता और उसके वकील की सड़क दुर्घटना की जांच दो सप्ताह में पूरी करे सीबीआई: सुप्रीम कोर्ट
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का निधन
  • सड़क 2 को खास फिल्म मानती है आलिया भट्ट
  • बलात्कार दोषी निरस्त करने संबंधी तरुण तेजपाल की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज
  • दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार
  • तमिलनाडु सरकार मृतकों के परिवारों को देगी को दो-दो लाख रुपये
  • दिल्ली में मंडराया बाढ़ का खतरा, यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पार
  • पुलिस मुठभेड़ में दो कुख्यात बदमाश ढेर
  • काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा
  • एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो
  • रामगढ़ के चुट्टुपालु घाटी मे ट्रक पलटा , दो की मौत
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


बंगला सिनेमा को विशिष्ट पहचान दिलाई कानन देवी ने

बंगला सिनेमा को विशिष्ट पहचान दिलाई कानन देवी ने

..पुण्यतिथि 17 जुलाई के अवसर पर..
मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत में कानन देवी का नाम एक ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने न सिर्फ फिल्म निर्माण की विद्या से बल्कि अभिनय और पार्श्वगायन से भी दर्शकों के बीच अपनी खास पहचान बनायी।

काननदेवी मूल नाम काननबाला का जन्म पश्चिम बंगाल के हावड़ा में 1916 को एक मध्यम वर्गीय बंगाली परिवार में हुआ था।
बचपन के दिनों में ही उनके पिता की मृत्यु हो गयी।
इसके बाद परिवार की आर्थिक जिम्मवारी को देखते हुये कानन देवी अपनी मां के साथ काम में हाथ बंटाने लगी।
कानन देवी जब महज 10 वर्ष की थी तब अपने एक पारिवारिक मित्र की मदद से उन्हें ज्योति स्टूडियो द्वारा निर्मित फिल्म जयदेव में काम करने का अवसर मिला।
इसके बाद कानन देवी को ज्योतिस बनर्जी के निर्देशन में राधा फिल्मस के बैनर तले बनी कई फिल्म में बतौर बाल कलाकार काम करने का अवसर मिला।

वर्ष 1934 में प्रदर्शित फिल्म .मां. बतौर अभिनेत्री कानन देवी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुयी।
कुछ समय के बाद कानन देवी न्यू थियेटर में शामिल हो गयी।
इस बीच उनकी मुलाकात राय चंद बोराल से हुयी जिन्होंने कानन देवी को हिंदी फिल्मों में आने का प्रस्ताव दिया।
तीस और चालीस के दशक में फिल्म अभिनेता या अभिनेत्रियों को फिल्मों में अभिनय के साथ ही पार्श्वगायक की भूमिका भी निभानी होती थी जिसको देखते हुये कानन देवी ने भी संगीत की शिक्षा लेनी शुरू कर दी।
उन्होंने संगीत की प्रारंभिक शिक्षा उस्ताद अल्ला रक्खा और भीष्मदेव चटर्जी से हासिल की ।
इसके बाद उन्होंने अनादी दस्तीदार से रवीन्द्र संगीत भी सीखा।

    वर्ष 1937 में प्रदर्शित फिल्म .मुक्ति. बतौर अभिनेत्री कानन देवी के सिने करियर की सुपरहिट फिल्म साबित हुयी।
पी.सी.बरूआ के निर्देशन में बनी इस फिल्म की जबरदस्त कामयाबी के बाद कानन देवी न्यू थियेटर की चोटी की कलाकार में शामिल हो गयी।
वर्ष 1941 में न्यू थियेटर छोड़ देने के बाद कानन देवी स्वतंत्र तौर पर काम करने लगी।
वर्ष 1942 में प्रदर्शित फिल्म .जवाब. बतौर अभिनेत्री कानन देवी के सिने करियर की सर्वाधिक हिट फिल्म साबित हुयी।
इस फिल्म में उन पर फिल्माया यह गीत .दुनिया है तूफान मेल. उन दिनों श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ।
इसके बाद कानन देवी की हॉस्पिटल. वनफूल और राजलक्ष्मी जैसी फिल्में प्रदर्शित हुयी जो टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी।

वर्ष 1948 में कानन देवी ने मुंबई का रूख किया।
इसी वर्ष प्रदर्शित चंद्रशेखर बतौर अभिनेत्री कानन देवी की अंतिम हिंदी फिल्म थी।
फिल्म में उनके नायक की भूमिका अशोक कुमार ने निभायी।
वर्ष 1949 में कानन देवी ने फिल्म निर्माण के क्षेत्र में भी कदम रख दिया।
अपने बैनर श्रीमती पिक्चर्स के बैनर तले कानन देवी ने कई सफल फिल्मों का निर्माण किया।
वर्ष 1976 में फिल्म निर्माण के क्षेत्र में कानन देवी के उल्लेखनीय योगदान को देखते हुये उन्हें फिल्म जगत के सर्वोच्च सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
कानन देवी बंगाल की पहली अभिनेत्री बनी जिन्हें यह पुरस्कार दिया गया था।

कानन देवी ने अपने तीन दशक लंबे सिने करियर में लगभग 60 फिल्मों में अभिनय किया ।
उनकी अभिनीत उल्लेखनीय फिल्मों में .जयदेव .प्रह्ललाद .विष्णु माया .मां .हरि भक्ति .कृष्ण सुदामा .खूनी कौन .विद्यापति .साथी .स्ट्रीट सिंगर . हारजीत .अभिनेत्री .परिचय.लगन कृष्ण लीला .फैसला .देवत्र .आशा आदि शामिल है।
कानन देवी ने अपने बैनर श्रीमती पिक्चर्स के तहत कई फिल्मों का निर्माण किया।
उनकी फिल्मों में कुछ है .वामुनेर में.अन्नया. मेजो दीदी.दर्पचूर्ण. नव विद्यान.देवत्र.आशा.आधारे आलो.राजलक्ष्मी ओ श्रीकांता.इंद्रनाथ श्रीकांता औ अनदादीदी.अभया ओ श्रीकांता।
अपनी निर्मित फिल्मों .पार्श्वगायन और अभिनय के जरिये दर्शको के बीच खास पहचान बनाने वाली कानन देवी 17 जुलाई 1992 को इस दुनिया को अलविदा कह गयी।

अनन्या

अनन्या पांडे की एक्टिंग से खुश डायरेक्टर ने दिया 500 रुपये इनाम

मुंबई 19 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री अनन्या पांडे की एक्टिंग से खुश होकर निर्देशक मुदस्सर अजीज ने उन्हें 500 रूपये इनाम दिये हैं।

शिल्पा

शिल्पा शेट्टी ने ठुकरायी स्लिमिंग पिल के इंडोर्समेंट की 10 करोड़ की डील

मुंबई 18 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड की जानी मानी अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने स्लिमिंग पिल के इंडोर्समेंट की 10 करोड़ की डील ठुकरा दी है।

कुछ

कुछ कुछ होता है के रीमेक में रणवीर सिंह को लेना चाहते हैं करण जौहर!

मुंबई 18 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड फिल्मकार करण जौहर अपनी सुपरहिट फिल्म कुछ कुछ होता है के रीमेक के लिये रणवीर सिंह को लेना चाहते हैं।

अशआर

अशआर मेरे यूं तो जमाने के लिये है ..

..पुण्यतिथि 19 अगस्त  ..
मुंबई 18 अगस्त ( वार्ता ) भारतीय सिनेमा जगत में जां निसार अख्तर को एक ऐसे फिल्म गीतकार के रूप याद किया जाता है जिन्होंने अपने गीतों को आम जिंदगी से जोड़कर एक नये युग की शुरूआत की ।

भावपूर्ण

भावपूर्ण अभिनय करने में माहिर है सचिन

. .जन्मदिवस 17 अगस्त ..
मुंबई 17 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड सिनेमा में सचिन को एक ऐसे अभिनेताओं में शुमार किया जाता है जिन्होंने अपने भावपूर्ण अभिनय से दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी है।

बहुमुखी

बहुमुखी प्रतिभा से लोगों को मंत्रमुग्ध कर रहे हैं गुलजार

..जन्मदिन 18 अगस्त  ..
मुबई 17 अगस्त (वार्ता) मुशायरों और महफिलों से मिली शोहरत तथा कामयाबी ने कभी मोटर मैकेनिक का काम करने वाले ..गुलजार .. को पिछले पांच दशक में फिल्म जगत का एक अजीम शायर और गीतकार बना दिया है।

इंशा

इंशा अल्लाह का ऑफर मिलने पर काफी उत्साहित हो गयी थी आलिया भट्ट

मुंबई 17 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट का कहना है कि जब उन्हें फिल्म 'इंशा अल्लाह' में काम करने का प्रस्ताव मिला था तब वह काफी उत्साहित हो गयी थी।

जादूज

जादूज मिनी थियेटर सिनेमा के क्षेत्र में नयी क्रांति : निरहुआ

पटना, 17 अगस्त (वार्ता) भोजपुरी सिनेमा के जुबली स्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ का कहना है कि जादूज मिनी थियेटर के जरिये न सिर्फ सिनेमा के क्षेत्र में नयी क्रांति आयेगी बल्कि इसके जरिये शिक्षा को भी जोड़ा जायेगा।

बाढ़

बाढ़ पीड़ितों के लिये 500 घर बनायेंगे नाना पाटेकर

मुंबई 16 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर महाराष्ट्र के बाढ़ पीड़ितो के लिये 500 घर बनाने जा रहे हैं।

बॉलीवुड

बॉलीवुड डेब्यू की तैयारी कर रही हैं सुहाना खान

मुंबई 15 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड के किंग खान शाहरूख खान की बेटी सुहाना खान बॉलीवुड डेब्यू के लिये तैयारी कर रही है।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

खलनायकी के बेताज बादशाह थे अमजद खान

खलनायकी के बेताज बादशाह थे अमजद खान

..पुण्यतिथि 27 जुलाई के अवसर पर .
मुंबई 26 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड की ब्लॉक बस्टर फिल्म ..शोले.. के किरदार गब्बर सिंह ने अमजद खान को फिल्म इंडस्ट्री में सशक्त पहचान दिलायी लेकिन फिल्म के निर्माण के समय गब्बर सिंह की भूमिका के लिये पहले डैनी
का नाम प्रस्तावित था।

image