Thursday, Apr 2 2020 | Time 21:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ई-नाम में तीन नयी सुविधाएं शुरू
  • पद्मश्री ज्ञानी निर्मल सिंह के निधन पर अश्वनी शर्मा ने जताया शोक
  • इसरो के कर्मचारियों ने दी पांच करोड़ रु की मदद
  • कोरोना महामारी को लेकर आयुष डॉक्टरों की सेवाएं लेने पर विचार: खट्टर
  • निजामुद्दीन मरकज से तमिलनाडु लौटे 74 और लोग संक्रमित निकले
  • ट्रक ने मारी टक्कर, साइकल रिक्शा चालक की मौत
  • कांग्रेस ने डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिस बल पर हमले की निंदा की
  • छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस परीक्षण केंद्रों की संख्या बढ़ाने की मांग
  • मरकज से वापिस लौटे ऊना के तीन लोग कोरोना पॉजिटिव
  • मास्क, सेनिटाइजर की जमाखोरी करने वाला दो गिरफ्तार
  • कोरोना से बचाव के लिए डीआरडीओ ने बनाया बायो सूट
  • देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2069 हुई, 53 की मौत
  • जीएसटी संग्रह में 18 फीसदी वृद्धि के साथ बिहार देश में अव्वल
  • गाजीपुर में11जमातियों में मिला एक कोरोना पाजेटिव
  • प्रधानमंत्री केयर फंड में दो साल का वेतन देंगे गंभीर
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


भारतीय सिनेमा के युगपुरूष थे चित्रगुप्त

भारतीय सिनेमा के युगपुरूष थे चित्रगुप्त

(पुण्यतिथि 14 जनवरी के अवसर पर)
मुंबई 13 जनवरी (वार्ता)भारतीय सिनेमा के ‘युगपुरूष’ चित्रगुप्त का नाम एक ऐसे संगीतकार के रूप में याद किया जाता है जिन्होंने लगभग चार दशक तक अपने सदाबहार एवं रूमानी गीतों से श्रोताओं के दिलों पर अमिट छाप छोड़ी।

सोलह नवंबर 1917 को बिहार के गोपाल गंज जिले में जन्में चित्रगुप्त श्रीवास्तव को बचपन से ही संगीत के प्रति रूचि थी।
चित्रगुप्त ने अर्थशास्त्र तथा पत्रकारिता में स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त की।
इसके बाद वह पटना में व्याख्याता के रूप में काम करने लगे।
लेकिन बाद में उनका मन इस काम में नहीं लगा और वह बतौर संगीतकार फिल्म इंडस्ट्री में अपना कैरियर बनाने के लिये वह मुंबई आ गये ।

मुंबई आने के बाद चित्रगुप्त को काफी संघर्ष करना पड़ा।
इस दौरान उनकी मुलाकात संगीतकार एस.एन.त्रिपाठी से हुयी और वह उनके सहायक के तौर पर काम करने लगे।
वर्ष 1946 में प्रदर्शित फिल्म ‘तूफान क्वीन’ से चित्रगुप्त ने बतौर संगीतकार अपने कैरियर की शुरूआत की लेकिन फिल्म की विफलता से चित्रगुप्त अपनी पहचान बनाने में असफल रहे।

इस बीच चित्रगुप्त ने अपना संघर्ष जारी रखा।
अपने वजूद को तलाश में चित्रगुप्त को फिल्म इंडस्ट्री में लगभग 10 वर्ष तक संघर्ष करना पड़ा।
वर्ष 1952 में प्रदर्शित फिल्म ‘सिंदबाद द सेलर ’ चित्रगुप्त के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुयी।
इस फिल्म ने सफलता के नये कीर्तिमान स्थापित किये।

     इस बीच उनकी मुलाकात महान संगीतकार एस.डी.बर्मन से हुयी जिनके कहने पर चित्रगुप्त को उस जमाने के मशहूर बैनर ‘एवीएम’ की फिल्म ‘शिव भक्त’ में संगीत देने का मौका मिला।
इस फिल्म की सफलता के बाद चित्रगुप्त ए.वी.एम बैनर के तले बनने वाली फिल्मों के निर्माताओं के चहेते संगीतकार बन गये ।

वर्ष 1957 में प्रदर्शित फिल्म ‘भाभी’की सफलता के बाद चित्रगुप्त सफलता के शिखर पर जा पहुंचे।
फिल्म ‘भाभी’ में उनके संगीत से सजा यह यह गीत ‘चल उड़ जा रे पंछी कि अब ये देश हुआ बेगाना’श्रोताओं के बीच आज भी काफी लोकप्रिय है।

बहुमुखी प्रतिभा के धनी चित्रगुप्त ने संगीत निर्देशन के अलावा अपने पार्श्वगायन से भी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया।
इन सब के साथ हीं चित्रगुप्त ने कई फिल्मों के लिये गीत भी लिखे।
चित्रगुप्त ने हिंदी फिल्मों के अलावा भोजपुरी,गुजराती और पंजाबी फिल्मों के लिये भी संगीत दिया जिसमें सभी फिल्में सुपरहिट साबित हुयीं।

सत्तर के दशक में चित्रगुप्त ने फिल्मों में संगीत देना काफी हद तक कम कर दिया क्योंकि उनका मानना था कि अधिक फिल्मों के लिये संगीत देने से अच्छा है बढिया संगीत देना।
चित्रगुप्त ने लगभग चार दशक अपने सिने कैरियर में 150 फिल्मों को संगीतबद्ध किया।
अपने संगीतबद्ध गीतों से लगभग चार दशक तक श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने वाले महान संगीतकार चित्रगुप्त 14 जनवरी 1991 को इस दुनिया से अलविदा कह गये।

अमिताभ

अमिताभ बच्चन का ट्वीट हुआ वायरल

मुंबई 02 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन का एक ट्वीट वायरल हो गया है।

सौंन्दर्य

सौंन्दर्य और अभिनय का अनूठा संगम है जयाप्रदा

..जन्मदिन 03 अप्रैल ..
मुंबई 02 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड में जया प्रदा का नाम उन गिनी-चुनी अभिनेत्रियों में हैं जिनमें सौंदर्य और अभिनय का अनूठा संगम देखने को मिलता है।

कोरोना

कोरोना से जंग में अजय-कंगना ने दिया डोनेशन

मुंबई 02 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन और अभिनेत्री कंगना रनौत ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में डोनेशन दिया है।

दिलीप

दिलीप कुमार ने लोगों से की घर में रहने की अपील

मुंबई 02 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के अभिनय सम्राट दिलीप कुमार ने लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये घर में रहने की अपील की है।

कोरोना

कोरोना वायरस के विरूद्ध जंग में आगे आयी माधुरी-करीना

मुंबई 01 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित, करीना कपूर और निर्देशक रोहित शेट्टी ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में डोनेशन दिया है।

निर्देशक

निर्देशक बनना चाहते थे अजय देवगन

..जन्मदिन 02 अप्रैल ..
मुम्बई 01 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन ने अपने दमदार अभिनय से सिने प्रेमियों को अपना दीवाना बनाया है लेकिन कम लोगों को पता होगा कि वह पहले निर्देशक बनना चाहते थे।

अप्रैल

अप्रैल फूल के नाम से बनायी गयी थी फिल्म

मुंबई 01 अप्रैल (वार्ता) पूरी दुनिया में मूर्ख दिवस या अप्रैल फूल एक अप्रैल को मनाया जाता है।

मधुबाला

मधुबाला का किरदार निभाना चाहती हैं कंगना

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत सिल्वर स्क्रीन पर बेपनाह हुस्न की मल्लिका मधुबाला का किरदार निभाना चाहती हैं।

कैटरीना

कैटरीना कैफ बनेंगी सुपरहीरो

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ सिल्वर स्क्रीन पर सुपरहीरो का किरदार निभाती नजर आ सकती हैं।

विक्की,

विक्की, सारा ने दिये पीएमकेयर फंड में डोनेशन

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल और अभिनेत्री सारा अली खान ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में पीएम केयर्स फंड में डोनेशन दिया है।

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

..पुण्यतिथि 25 मार्च के अवसर पर ..
मुम्बई 25 मार्च (वार्ता)बॉलीवुड में अपनी दिलकश अदाओं से अभिनेत्री नंदा ने लगभग तीन दशक तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया लेकिन बहुत कम लोगो को पता होगा कि वह फिल्म अभिनेत्री न बनकर सेना में काम करना चाहती थीं ।

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

.. जन्मदिन 20 मार्च के अवसर पर पर ..
मुंबई 19 मार्च (वार्ता) आकाशवाणी कोलकाता से अपने करियर की शुरूआत करके शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचने वाली बॉलीवुड की सुप्रसिद्ध पार्श्वगायिका अलका याज्ञनिक अपने गानों से आज भी श्रोताओं के दिलों पर राज कर रही हैं।

image