Sunday, Sep 27 2020 | Time 09:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जसवंत सिंह ने एक कुशल राजनीतिज्ञ के रूप में की देशसेवा: बिरला
  • मोदी ने जसवंत सिंह के निधन पर जताया शोक
  • पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह का निधन
  • पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह का निधन
  • पाकिस्तान में वैन में आग लगने से 13 की मौत, पांच घायल
  • मराठवाड़ा में कोरोना के 1441 नये मामले, 27 की मौत
  • पाकिस्तान: वैन में आग लगने से 13 की मौत
  • उमा भारती कोरोना संक्रमित
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 28 सितंबर)
  • चीन: कार्बन मोनोऑक्साइड की मात्रा बढ़ने से कोयला खदान में 17 लोग फंसे
  • ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो का ऑपरेशन सफल, मिली अस्पताल से छुट्टी
  • ब्रिटेन में कोरोना के 6042 नए मामले साम
  • लेबनान में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 13 आतंकी ढेर
  • डोनाल्ड ट्रम्प ने कोनी बैरेट को सुप्रीम कोर्ट के नए जज के तौर पर नामित किया
  • पश्चिम बंगाल: एनआईए ने अल-कायदा के संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया
मनोरंजन » जानीमानी हस्तियों का जन्म दिन


पार्श्वगायक बनना चाहते थे ओ.पी.नैय्यर

पार्श्वगायक बनना चाहते थे ओ.पी.नैय्यर

जन्मदिवस 16 जनवरी के अवसर पर ..
मुंबई 15 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड में ओ.पी.नैय्यर का नाम एक ऐसे संगीतकार के रूप में याद किया जाता है जिन्होंने आशा भोंसले और गीता दत्त समेत कई गायक-गायिकाओं को कामयाबी के शिखर पर पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

लाहौर शहर (अब पाकिस्तान में) के एक मध्यम वर्गीय परिवार में 16 जनवरी 1926 को जन्में ओ.पी.नैयर का रूझान बचपन से ही संगीत की ओर था और वह पार्श्वगायक बनना चाहते थे।
दस वर्ष की उम्र में सबसे पहले उन्हें पंडित गोविंदराम के संगीत निर्देशन में पंजाबी फिल्म ‘दुल्हा भट्टी’ में कोरस के रूप में गाने का अवसर मिला।
उन्हें बतौर पारिश्रमिक दस रुपये मिले।

इस बीच उन्होंने आकाशवाणी द्वारा प्रसारित कई कार्यक्रमों मे भी अपना संगीत दिया।
भारत विभाजन के पश्चात उनका पूरा परिवार लाहौर छोड़कर अमृतसर चला आया।
वर्ष 1949 मे बतौर संगीतकार फिल्म इंडस्ट्री में पहचान बनाने के लिये ओ.पी.नैयर मुंबई आ गये।
मुंबई मे उनकी मुलाकात जाने माने निर्माता निर्देशक कृष्ण केवल से हुयी जो उन दिनो फिल्म ‘कनीज’ का निर्माण कर रहे थे ।

कृष्ण केवल उनके संगीत बनाने के अंदाज से काफी प्रभावित हुये और उन्होंने फिल्म के बैक ग्राउंड संगीत देने की पेशकश की।
वर्ष 1951 मे अपने एक मित्र के कहने पर वह मुंबई से दिल्ली आ गये और बाद में उसी मित्र के कहने पर उन्होंने निर्माता पंचोली से मुलाकात की जो उन दिनों फिल्म नगीना का निर्माण कर रहे थे।
बतौर संगीतकार ओ पी नैय्यर ने वर्ष 1952 में प्रदर्शित फिल्म आसमान से अपने सिने कैरियर की शुरूआत की।

     इस बीच ओ.पी.नैय्यर की छमा छम छम और बाज जैसी फिल्में भी प्रदर्शित हुयी लेकिन इन फिल्मों के असफल होने से उन्हें गहरा सदमा पहुंचा।
वर्ष 1953 में पार्श्वगायिका गीता दत्त ने ओ.पी.नैयर को गुरूदत्त से मिलने की सलाह दी।

वर्ष 1954 में गुरूदत्त ने अपनी निर्माण संस्था शुरू की और अपनी फिल्म ‘आरपार’ के संगीत निर्देशन की जिम्मेदारी ओ. पी. नैयर को सौंप दी।
फिल्म ‘आरपार’ ओ .पी.नैयर के निर्देशन में संगीतबद्ध गीत सुपरहिट हुये और इस सफलता के बाद ओ.पी. नैयर अपनी पहचान बनाने मे सफल हो गये।

संगीतकार ओ पी नैयर के पसंदीदा गायकों में मोहम्मद रफी का नाम सबसे पहले आता है।
पचास और साठ के दशक में ओ.पी. नैयर के संगीत निर्देशन में रफी ने कई गीत गाये।
ओ पी नैय्यर मोहम्मद रफी के गाने के अंदाज से बहुत प्रभावित थे।
उन्होंने किशोर कुमार के लिये मोहम्मद रफी से ‘मन मोरा बांवरा’ गीत फिल्म रंगीली के लिये गवाया।

ओ पी नैयर मोहम्मद रफी के प्रति अपने प्रेम को दर्शाते हुए अक्सर कहा करते थे ..इफ देयर हैड बीन नो मोहम्मद रफी ..देयर वुड हैव बीन नो ओ. पी नैयर।
यानी ...मोहम्मद रफी नहीं होते तो ओ पी नैयर भी नहीं होते।

       पचास के दशक में ओ पी नैयर शोहरत की बुंलदियो पर जा पहुंचे।
तुमसा नहीं देखा, बाप रे बाप, सीआईडी, फागुन और हावड़ा ब्रिज जैसी फिल्मे आज भी नैयर के बेमिसाल संगीत के कारण याद की जाती है।
वर्ष 1958 मे प्रदर्शित फिल्म हावड़ा ब्रिज का गीत ...मेरा नाम चिनचिनचू श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ।

वर्ष 1957 में प्रदर्शित फिल्म नया दौर ओ.पी.नैयर के सिने कैरियर का अहम मोड साबित हुआ।
इस फिल्म में उनके संगीतबद्ध गीत ...उड़े जब जब जुल्फे तेरी तथा मांग के साथ तुम्हारा... सुपरहिट साबित हुये।
साथ ही फिल्म के उन्हें अपने सिने कैरियर का पहला फिल्म अवार्ड भी मिला।

साठ के दशक में भी नैयर ने अपने जादुई संगीत से श्रोताओं को अपनी ओर बाधें रखा।
वर्ष 1966 में प्रदर्शित फिल्म बहारे फिर भी आयेगीं में उन्होंने ... आपके हसीं रूख पर... जैसे गानों में सारंगी और पियानो का इस्तेमाल करके इसे और अधिक मधुर और लोकप्रिय बना दिया।

लगभग चार दशक तक अपनी मधुर संगीत लहरियों से श्रोताओं के दिलों में खास पहचान बनाने वाले ओ.पी.नैयर 28 जनवरी 2007 को इस दुनिया को अलविदा कह गये।

मां

मां से दस महीने बाद मिलकर खुश है जैकलीन

मुंबई, 26 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीस दस महीने बाद अपनी मां से मिलकर बहुत खुश हैं।

सात

सात साल से बीमारी से जूझ रही हैं सोनम कपूर

मुंबई, 26 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर सात सालों से एक बीमारी से जूझ रही है।

सोनीलिव

सोनीलिव के ‘केबीसी प्ले अलॉन्ग’ ने केबीसी 12 के साथ दर्शकों की खुशियां बढ़ाईं

मुंबई, 26 सितंबर (वार्ता) सोनी पिक्चर्स नेटवर्क डिजिटल प्लेटफार्म सोनीलिव ने ‘केबीसी प्ले अलॉन्ग’ के अंतर्गत ‘हर दिन 10 लखपति’ की अभूतपूर्व पेशकश के साथ लोगों को घर पर रहकर इनाम जीतने का ऑफर दिया है।

आलिया-रणबीर

आलिया-रणबीर को दर्शकों ने स्टार बनाया : विक्रम भट्ट

मुंबई, 23 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड फिल्मकार विक्रम भट्ट ने आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का नाम नेपोटिज्म को लेकर घसीटे जाने पर उनका बचाव करते हुये कहा है कि दर्शकों ने उन्हें स्टार बनाया है।

तीन

तीन दशक में काम से लंबा ब्रेक नहीं लिया: सलमान

मुंबई, 25 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान का कहना है कि उन्होंने पिछले 30 वर्षों में काम से इतना लंबा ब्रेक नहीं लिया है।

टाइगर

टाइगर श्रॉफ का पहला गाना ‘अनबिलिवेबल’ रिलीज

मुंबई, 23 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड के एक्शन स्टार टाइगर श्रॉफ का पहला गाना ‘अनबिलिवेबल’ रिलीज हो गया है।

इंस्टाग्राम

इंस्टाग्राम पर दिशा पाटनी के हुये 40 मिलियन फॉलोअर्स

मुंबई, 25 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री दिशा पाटनी के फॉलोअर्स की संख्या इंस्टाग्राम पर 40 मिलियन हो गयी है।

टाइम 100

'टाइम 100' की लिस्ट में शामिल हुये आयुष्मान

मुंबई, 23 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना को टाइम 100 की सबसे प्रभावशाली लोगों की साल 2020 की सूची में शामिल किया गया है।

इंजीनियर

इंजीनियर बनना चाहते थे एसपी बालासुब्रमण्यम

मुंबई, 25 सितंबर (वार्ता) अपनी आवाज के जादू से करीब पांच दशक तक श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने वाले एसपी बालासुब्रमण्यम इंजीनियर बनना चाहते थे।

कार्तिक

कार्तिक ने 75 करोड़ में साइन की तीन फिल्मों की डील!

मुंबई, 22 सितंबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन के तीन फिल्मों के लिये 75 करोड़ में डील साइन किये जाने की चर्चा है।

राम मंदिर शिलान्यास से स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा आज का दिन : अरुण गोविल

राम मंदिर शिलान्यास से स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा आज का दिन : अरुण गोविल

मुंबई, 05 अगस्त (वार्ता) लोकप्रिय टीवी सीरियल ‘रामायण’ में भगवान श्री राम का किरदार निभाने वाले अरूण गोविल का कहना है कि श्रीराम मंदिर के शिलान्यास से पांच अगस्त का दिन इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो जायेगा।

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

..पुण्यतिथि 14 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 14 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड के ‘याहू्’ स्टार कहे जाने वाले शम्मी कपूर ने उदासी, मायूसी और देवदास नुमा अभिनय की परम्परागत शैली को बिल्कुल नकार करके अपने अभिनय की नयी शैली विकसित कर दर्शकों का मनोरंजन किया।

image