Saturday, Oct 31 2020 | Time 10:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नायडू ने सरदार पटेल को अर्पित की पुष्पांजलि
  • विश्वभर में 11 87 लाख से अधिकलोग चढ़े कोरोना की बलि
  • चीन के शिंजियांग उइगुर स्वायत्त क्षेत्र में कोरोना ने छह नये मामले
  • पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार 29 वें दिन स्थिर
  • मोदी ने इंदिरा को किया नमन
  • मोदी ने सरदार पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित की
  • कोविंद ,नायडू, शाह और बैजल ने सरदार पटेल को दी श्रद्धांजलि
  • मराठवाड़ा में कोरोना के 481 नये मामले, 17 की मौत
  • ब्राजील में कोविड-19 से अब तक 1 59 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • सरदार पटेल ने रखी थी मजबूत भारत की नींव: शाह
  • अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या 90 लाख के पार
  • तुर्की में शक्तिशाली भूकंप, 20 लोगों की मौत, 786 घायल
  • अर्मेनिया और अजरबैजान के विदेश मंत्रियों के बीच हुई मुलाकात
  • पेरू में 5 5 तीव्रता का भूकंप
  • मध्य अमेरिकी देश अल साल्वाडोर में भूस्खलन, छह लोगों की मौत
मनोरंजन » जानीमानी हस्तियों का जन्म दिन


कार मैकेनिक से बॉलीवुड के अजीम शायर-गीतकार बनें गुलजार

कार मैकेनिक से बॉलीवुड के अजीम शायर-गीतकार बनें गुलजार

..जन्मदिन 18 अगस्त के अवसर पर ..
मुबई 18 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड में अपने रचित गीतों और फिल्म निर्देशन से दर्शकों के बीच सशक्त पहचान बनाने वाले गुलजार अपने करियर के शुरुआती दौर में कार मैकेनिक का काम करते थे।

पश्चिमी पंजाब के झेलम जिले, अब पाकिस्तान के एक छोटे से कस्बे दीना में कालरा अरोरा सिख परिवार में 18 अगस्त 1936 को जन्में संपूर्ण सिंह कालरा उर्फ गुलजार को स्कूल के दिनों से ही शेरो-शायरी और वाद्य संगीत का शौक था ।
कालेज के दिनों में उनका यह शौक परवान चढने लगा और वह अक्सर मशहूर सितार वादक रविशंकर और सरोद वादक अली अकबर खान के कार्यक्रमों में जाया करते थे ।

भारत विभाजन के बाद गुलजार का परिवार अमृतसर में बस गया लेकिन गुलजार ने अपने सपनों को पूरा करने के लिए मुंबई का रुख किया और वर्ली में एक गैराज में कार मकैनिक का काम करने लगे।
फुर्सत के वक्त में वह कविताएं लिखा करते थे।
गैरेज के पास ही एक बुकस्टोर वाला था जो आठ आने के किराए पर दो किताबें पढ़ने को देता था।

फिल्मकार विमल रॉय अपनी कार बनवाने के लिये उसी गैराज में पहुंचे, जहां गुलजार काम किया करते थे।
विमल रॉय ने गैरेज पर किताबें देखी और गुलज़ार से पूछा, ये किताबें कौन पढता है।
गुलज़ार ने कहा, मैं! विमल रॉय ने गुलज़ार को अपना पता देते हुए अगले दिन मिलने को बुलाया।
गुलज़ार जब विमल रॉय के दफ़्तर गये तो उन्होंने कहा कि अब कभी गैरेज में मत जाना।
इसके बाद वह विमल रॉय के सहायक बन गए।
गीतकार के रूप मे गुलजार ने पहला गाना मेरा गोरा अंग लेई ले वर्ष 1963 मे प्रदर्शित विमल राय की फिल्म बंदिनी के लिये लिखा।

   इसके बाद कवि के रूप में गुलजार प्रोग्रेसिव रॉयटर्स एसोसिऐशन (पी.डब्लू.ए) से जुड़े गये।
गुलजार ने वर्ष 1971 मे फिल्म मेरे अपने के जरिये निर्देशन के क्षेत्र मे भी कदम रख।
इस फिल्म की सफलता के बाद गुलजार ने कोशिश, परिचय, अचानक, खूशबू, आंधी, मौसम, किनारा, किताब, नमकीन, अंगूर ,इजाजत, लिबास, लेकिन, माचिस और हू तू तू जैसी कई फिल्में निदेर्शित भी की।
प्रारंभिक दिनों में गुलजार का झुकाव वामपंथी विचारधारा की तरफ था जो फिल्म मेरे अपने, और आंधी जैसी उनकी शुरआती फिल्मों में दिखाई देता है ।
गुलजार साहित्यिक कहानियों और विचारों को फिल्मों में ढ़ालने की कला में भी सिद्धहस्त हैं।
उनकी फिल्म अंगूर शेक्सपीयर की कहानी कामेडी आफ एरर्स, फिल्म मौसम ए जे क्रोनिन्स के जूडास ट्री और फिल्म परिचय हालीवुड की क्लासिक फिल्म द साउंड आफ म्यूजिक पर आधारित थी ।

संजीव कुमार, जीतेन्द्र और जया भादुड़ी के अभिनय को निखारने में गुलजार ने अहम भूमिका निभायी थी।

निर्देशन के अलावा गुलजार ने कई फिल्मों की पटकथा और संवाद भी लिखे।
इसके अलावा गुलजार ने वर्ष 1977 में किताब और किनारा फिल्मों का निर्माण भी किया।
गुलजार को अपने गीतों के लिये अब तक 12 बार फिल्म फे यर अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है।
गुलजार को तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।
गुलजार ने अभिनेत्री राखी के साथ शादी की है।
गुलजार की पुत्री मेघना गुलजार फिल्म निर्देशक हैं।

गुलजार के चमकदार कैरियर में एक गौरवपूर्ण नया अध्याय तब जुड़ गया जब वर्ष 2009 में फिल्म स्लमडॉग मिलियनेय में उनके गीत जय हो को आस्कर अवार्ड से सम्मानित किया गया।
भारतीय सिनेमा में उनके योगदान को देखते हुये वर्ष 2004 में उन्हें देश के तीसरे बड़े नागरिक सम्मान पदभूषण से अलंकृत किया गया।
उर्दू भाषा में गुलजार की लघु कहानी संग्रह धुआं को 2002 में साहित्य अकादमी पुरस्कार भी मिल चुका है ।
गुलजार ने काव्य की एक नयी शैली विकसित की है, जिसे त्रिवेणी..कहा जाता है ।
भारतीय सिनेमा जगत में उल्लेखनीय योगदान को देखते हुये गुलजार फिल्म इंडस्ट्री के सर्वोच्च सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है।

प्रेम सूरज
वार्ता

सिल्वर

सिल्वर स्क्रीन पर फिर बागी बनेंगे टाइगर श्राफ

मुंबई, 29 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड के एक्शन स्टार टाइगर श्राफ सिल्वर स्क्रीन पर फिर से बागी बनने जा रहे हैं।

सलमान

सलमान को लेकर ‘अंतिम’ बनायेंगे महेश मांजरेकर

मुंबई, 29 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड के जाने माने फिल्मकार महेश मांजरेकर दबंग स्टार सलमान खान को लेकर फिल्म ‘अंतिम’ बनाने जा रहे हैं।

सिल्वर

सिल्वर स्क्रीन पर नागिन का किरदार निभायेगी श्रद्धा कपूर

मुंबई, 28 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर सिल्वर स्क्रीन पर नागिन का किरदार निभाती नजर आयेंगी।

इंस्टाग्राम

इंस्टाग्राम पर आलिया के पांच करोड़ हुए फॉलोअर्स

मुंबई, 26 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट के प्रशंसकों की संख्या फोटो शेयरिंग साइट इंस्टाग्राम पर पांच करोड़ हो गयी है।

करीना-सोनम

करीना-सोनम स्टारर वीरे दी वेडिंग का बनेगा सीक्वल

मुंबई, 26 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर और सोनम कपूर स्टार सुपरहिट फिल्म वीरे दी वेडिंग का सीक्वल बनाया जा रहा है।

अमिताभ

अमिताभ ने शेयर की दुल्हन बनीं कैटरीना की तस्वीर

मुंबई, 25 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ की दुल्हन के लिबास में एक तस्वीर शेयर की है।

इंस्टाग्राम

इंस्टाग्राम पर जैकलीन के 46 मिलियन फॉलोवर्स

मुंबई, 24 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीस के प्रशंसकों की संख्या इंस्टाग्राम पर 46 मिलियन हो गयी है।

मनमर्जियां

'मनमर्जियां' का सीक्वल बनायेंगे अनुराग कश्यप !

मुंबई, 24 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड फिल्मकार अनुराग कश्यप अपनी हिट फिल्म 'मनमर्जियां' का सीक्वल बना सकते हैं।

नमक

नमक हलाल के रीमेक में काम करेंगे वरुण धवन!

मुंबई, 24 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो वरूण धवन सुपरहिट फिल्म नमक हलाल के रीमेक में काम करते नजर आ सकते हैं।

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

बालीवुड के ‘याहू्’ स्टार थे शम्मी कपूर

..पुण्यतिथि 14 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 14 अगस्त (वार्ता) बॉलीवुड के ‘याहू्’ स्टार कहे जाने वाले शम्मी कपूर ने उदासी, मायूसी और देवदास नुमा अभिनय की परम्परागत शैली को बिल्कुल नकार करके अपने अभिनय की नयी शैली विकसित कर दर्शकों का मनोरंजन किया।

image