Saturday, Jan 19 2019 | Time 03:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • घृणापूर्ण भाषण से गुरेज करें लोग: गुटेरेस
  • मेक्सिको में 6 0 तीव्रता के भूकंप झटके
  • राहुल ने मल्लू को पार्टी के विधायक दल का नेता नियुक्त किया
  • मोदी दादर एवं नगर हवेली में कई विकास योजनाओं का करेंगे लोकार्पण
  • कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में देखी फिल्म मणिकर्णिका
मनोरंजन » फिल्म समीक्षा Share

भोजपुरी सिनमा की नयी इबारत लिखेगी मेंहदी लगा के रखना

भोजपुरी सिनमा की नयी इबारत लिखेगी मेंहदी लगा के रखना

पटना 06 फरवरी (वार्ता) सुपरस्टार खेसारी लाल यादव और क्वीन काजल राघवानी की रोमांटिक जोड़ी से सजी फिल्म मेंहदी लगा के रखना के जरिये भोजपुरी सिनेमा के गौरवपूर्ण इतिहास को पुन: लौटाने की कोशिश की गयी है जिसमें सुपरहिट फिल्म ‘पटना से पाकिस्तान’ फेम निर्माता अनंजय रघुराज और संगीतकार से निर्देशक बने रजनीश मिश्रा ने सफलता सुपर सफतला हासिल की।
भोजपुरी फिल्मों के इतिहास में एक लंबे अंतराल के बाद ‘मेंहदी लगा के रखना’ के रूप में पारंपरिक और पारिवारिक भोजपुरी फिल्म प्रदर्शित हुयी है।
नदिया के पार ,हम आपके हैं कौन और दिलवाले दुल्हनियां ले जायेंगे जैसी फिल्मों की याद दिलाती मेंहदी लगा के रखना रजनीश मिश्रा की बतौर निर्देशक यह पहली फ़िल्म है लेकिन अपने इस पहले प्रयास में ही उन्होंने बेहतरीन पारिवारिक फिल्म दर्शकों के सामने प्रस्तुत की है ।
‘मेंहदी लगा के रखना’ रजनीश मिश्रा के सिनेमाई प्रतिभा का विस्‍तार है।
कैसे एक संगीतज्ञ लोक रागों को अपनी लोकप्रिय शैली का वियोजन सिनेमा के मनभावन दृश्‍यों को रचने में किया है, यह इस फिल्‍म में साफ नजर आता है।
कैसे लगभग सभी दृश्‍य नवीनता और भोजपुरी अहसासों के साथ शिद्दत से दिल में उतरते हैं और कैसे लगभग सारे कलाकारों का अभिनय अच्‍छी टाइमिंग और ठ‍हराव के साथ बेहतर हो जाता है।
खेसारी लाल यादव अपने करियर के सबसे उम्‍दा किरदार में नजर आ रहे हैं।
अभिनय के हर शेड में उन्होंने अपने किरदार से सबको प्रभावित किया है कॉमेडी और एक्शन तो खासकर के देखने लायक है ।
अपने रूमानी अभिनय से दर्शकों का दिल जीतने वाली काजल राघवानी मेंहदी लगा के रखना में नये अंदाज में नजर आयी।
फिल्म में उन्होंने संगीत शिक्षिका का किरदार निभाया है जो निश्चित तौर पर दर्शकों को पसंद आयेगी।
भोजपुरी इंडस्‍ट्री में खलनायक के रूप में पहचाने जाने वाले अभिनेता अवधेश मिश्रा का अपने सकारात्‍मक किरदार में डूबना एक पिता के आत्मिक भाव को बढ़ाने वाला है।
वहीं संजय पांडे के तल्‍ख अंदाज भी सराहनीय हैं।
फिल्म में हास्य का अनूठा प्रयोग किया गया ।
फिल्म ‘मेंहदी लगा के रखना ’से भोजपुरी फिल्म जगत को एक नई दिशा मिलने की उम्मीद है क्योंकि अब यहां कोई द्विअर्थी गानों को पसंद नहीं करता और आप किसी को जबरदस्ती वैसी चीजें लंबे समय तक नहीं परोस सकते हैं ।
पिछले कुछ समय से भोजपुरी फिल्मों में से भोजपुरिया महक गायब करके केवल पश्चिमी सभ्यता दिख रही थी जिससे दर्शकों का लगाव भोजपुरी फिल्मों से भटक सा गया था ।
इन्हीं सभी मुद्दों को लेकर भोजपुरिया समाज को देखते हुए निर्माता अनंजय रघुराज ने यह फिल्म बनाई है जिसको की दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा है ।
फिल्‍म के सारे पहलुओं को गौर करें तो पता चलता है कि भोजुपरी सिनेमा में प्रेम के दृश्‍यों को नए अंदाज में फिल्‍माया गया है।
अश्‍लीलता को दरकिनार कर रोमांस की अलग और इनोवेटिव प्रस्‍तुति इस फिल्‍म को और भी खास बनाती है।
उम्मीद है कि फिल्म कमाई के मामले में भी नया आयाम स्थापित करेगी ।
 

कहानी :

फिल्‍म की शुरूआत राजा (खेसारी लाल यादव) के उद्यम से होता है, जो निकम्‍मा और बेरोजगार है।
लेकिन हर पिता की तरह राजा के पिताजी रामनारायण (अवधेश मिश्रा) की चाहते हैं कि राजा सुधकर कोई काम काज करे, पर राजा हर काम को इतना उल्टा पलट करता कि नौकरी से निकाल दिया जाता, रामनारायण उसकी इन हरकतों से बहुत परेशान है ।
एक दिन राजा को एक खूबसूरत लड़की काजल (काजल राघवानी) मिल जाती और पता चलता की वो स्कूल में संगीत टीचर है, काजल के चक्कर राजा स्कूल में चपरासी की नौकरी करने लगता है, रामनारायण राजा के सुधरने और नौकरी करने से बहुत खुश है।
कुछ दिनों के बाद पूरा स्कूल स्वच्छ्ता अभियान पर जाता है जहां राजा काजल से अपने प्यार का इज़हार कर देता है, काजल को ये बहुत बुरा लगता और वो राजा को थप्पड़ मार देती है।
रामनारायण को पूरी बात पता चलती है और वो राजा का दिल हल्का करने के लिए उसको अपने एक मित्र के घर ले जाते जहां मित्र के बेटी की शादी है, राजा अपने पिता के मित्र के परिवार के सारे लोगो से मिलता है।
लेकिन उसके आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहता जब वो देखता है कि जिस लड़की की शादी में आया है वो कोई और नहीं बल्कि काजल है, जिसको वो प्यार करता है।
इसके बाद राजा वही पे रुकता है, और अपनी ही मेहबूबा की शादी की तैयारी में मदद करता फिर धीरे धीरे राजा की अच्छाईयों से काजल इतना प्रभावित हो जाती है और राजा को प्यार करने लगती है और जिस दिन काजल राजा से अपने प्यार का इज़हार करती है उसके दो दिन बाद ही उसकी बारात आने वाली होती है।
मुहब्बत और संस्कारों के भवर में पड़े राजा और काजल क्या फैसला करते इसी का ताना बाना है - मेहंदी लगा के रखना।

संगीत :

फिल्म में गीत संगीत भी उच्च कोटि का है जो की एकबार सुन लेने के बाद स्वतः ही जुबान पर आने लगेगा।
यहां भी रजनीश झा का काम कमाल का रहा है ।
फिल्म में गीत श्याम देहाती आज़ाद सिंह एवं प्यारेलाल यादव का है ।
वहीं अन्य कलाकार रितु सिंह और आनंद मोहन ने भी अपने अपने किरदारों को बेहद ही संजीदगी से जिया है ।
फिल्‍म के सारे गाने पहले ही हिट हो चुके हैं।

देखे या न देखे :- रेटिंग :- इस फिल्म को पांच में से चार स्टार (4*/5*) 

 

‘पति

‘पति पत्नी और वो’ :दुखी है तापसी पन्नू

मुंबई 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू सुपरहिट फिल्म ‘पति पत्नी और वो’ के रीमेक में काम नहीं कर पाने को लेकर बेहद दुखी हैं।

कम

कम फीस मिलने पर दीपिका ने छोड़ी थी फिल्म

नयी दिल्ली 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की ‘डिंपल गर्ल’ दीपिका पादुकोण का कहना है कि एक बार एक्टर से कम फीस मिलने के कारण उन्होंने फिल्म छोड़ दी थी।

सूर्यवंशी

सूर्यवंशी में अक्षय के साथ जोड़ी जमायेगी कैटरीना!

मुंबई 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की ‘बार्बी गर्ल’ कैटरीना कैफ सिल्वर स्क्रीन पर एक बार फिर ‘खिलाड़ी’ कुमार अक्षय कुमार के साथ जोड़ी जमाती नजर आ सकती हैं।

रणवीर

रणवीर और वरुण दिखायेंगे ‘अंदाज़ अपना -अपना’

मुंबई 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह और वरुण धवन सुपरहिट फिल्म ‘अंदाज अपना अपना’ के रीमेक में काम करते नजर आ सकते हैं।

सलमान

सलमान के साथ काम करना चाहती हैं कंगना

मुंबई 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ‘दबंग’ स्टार सलमान खान के साथ जोड़ी जमाना चाहती हैं।

फातिमा

फातिमा शेख के साथ जोड़ी जमायेंगे राजकुमार राव

मुंबई 18 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव ‘दंगल गर्ल’ फातिमा सना शेख के साथ जोड़ी जमाने जा रहे हैं।

सिनेमा

सिनेमा जगत के पहले महानायक थे सहगल

पुण्यतिथि 18 जनवरी
मुंबई 17 जनवरी (वार्ता) भारतीय सिने जगत के पहले ‘महानायक’ का दर्जा प्राप्त करने वाले के. एल. सहगल ने अपने दो दशक के लंबे करियर में महज 185 गीत ही गाये जिनमें 142 फिल्मी और 43 गैर फिल्मी शामिल हैं।

अक्षय

अक्षय कुमार फिर बनेंगे खलनायक!

मुंबई 17 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार सिल्वर स्क्रीन पर फिर से खलनायक का किरदार निभाते नजर आ सकते हैं।

बॉक्सर

बॉक्सर का किरदार निभायेंगे फरहान अख्तर

मुंबई 17 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता एवं फिल्मकार फरहान अख्तर सिल्वर स्क्रीन पर बॉक्सर का किरदार निभाते नजर आयेंगे।

रैपर

रैपर बनने के लिये रणवीर ने ली ट्रेनिंग

मुंबई 17 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह ने रैपर बनने के लिये ट्रेनिंग ली है।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म पर मचा रही धूम

माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म पर मचा रही धूम

नयी दिल्ली 25 मार्च (वार्ता) दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दू कॉलेज के छात्रों की जिंदगी पर आधारित फिल्म माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म जिओ सिनेमा, एयरटेल मूवीज, बिगफ्लिक्स, चिल्क्स, हंगामा मूवी, नेट्टीवुड आदि के जरिये वैश्विक स्तर पर धूम मचा रही है।

रियलिटी शो अवसर सिद्ध करने का मजबूत प्लेटफार्म : तान्या

रियलिटी शो अवसर सिद्ध करने का मजबूत प्लेटफार्म : तान्या

लखनऊ 26 अक्टूबर (वार्ता) नन्ही पार्श्व गायिका तान्या तिवारी का मानना है कि छोटे पर्दे पर रियलिटी शो की भरमार ने चुनौतियों के बावजूद अवसरों को यर्थाथ में बदलने का मजबूत प्लेटफार्म युवा गायकों को मुहैया कराया है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..

मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..

(पुण्यतिथि 6 जनवरी के अवसर पर )
मुंबई 05 जनवरी (वार्ता)...मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..
हर फ्रिक को धुंए में उड़ाता चला गया ..
अपने संगीतबद्ध गीतों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने वाले महान
संगीतकार जयदेव का अपनी जिंदगी के प्रति नजरिया कुछ ऐसा ही था।

माचोमैन के तौर पर पहचान बनायी ऋतिक ने

माचोमैन के तौर पर पहचान बनायी ऋतिक ने

..जन्मदिन 10 जनवरी के अवसर पर ..
मुंबई 09 जनवरी (वार्ता)बॉलीवुड में ऋतिक रौशन एक ऐसे अभिनेता के तौर पर शुमार किये जाते है जिन्होंने न सिर्फ रूमानी भूमिकाओं से बल्कि अपनी माचोमैन छवि से भी दर्शकों को अपना दीवाना बनाया है।

image