Wednesday, Nov 14 2018 | Time 20:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जी20 सम्मेलन में होगी पुतिन आबे के बीच बैठक
  • कमलनाथ के विवादास्पद वीडियो के संबंध में निर्वाचन आयोग से शिकायत
  • पाकिस्तान में आतंकवादियों का राजनीतिक मुख्यधारा में आना चिंताजनक : मोदी
  • अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा
  • पटियाला की मानवीर ने 100 मीटर फर्राटे में जीता स्वर्ण
  • नेहरू स्टेडियम में 18 साल के एथलीट ने की आत्महत्या
  • विकास के मुद्दे पर 2019 का चुनाव लड़ेगी भाजपा: मौर्य
  • उप्र में निवेश की असीम संभावनायें: मुख्य सचिव
  • बागेश्वर में आतंक का पर्याय बना आदमखोर तेंदुआ मारा गया
  • कीटनाशक की गंध से युवती की मौत
  • गुजरात सरकार ने 200 करोड़ से अधिक के विनय शाह घोटाले की जांच के आदेश दिये
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • जूनागढ मेले के लिए चलेंगी अतिरिक्त ट्रेनें
  • हरियाणा रोडवेज की बस ने बच्चे को कुचला,मौत
  • पहली बार जॉर्डन से भिड़ेगा भारत
स्टार्टअप वर्ल्ड » बढ़ते कदम Share

देश में स्टार्टअप कार्यक्रम के माध्यम से रोजगार और स्वरोजगार के अवसर मिलेंगे:योगी

देश में स्टार्टअप कार्यक्रम के माध्यम से  रोजगार और स्वरोजगार के अवसर मिलेंगे:योगी

लखनऊ 30 अगस्त (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भारत जैसे विशाल आबादी वाले देश में स्टार्टअप कार्यक्रम के माध्यम से जहां लोगों को रोजगार और स्वरोजगार के अवसर प्राप्त होंगे, वहीं विकास को नई गति भी मिलेगी।
मुख्यमंत्री ने आज यहां साइंटिफिक कन्वेंशन सेण्टर में स्टार्टअप यात्रा, 2017 के उद्घाटन अवसर पर कहा कि कोई भी समाज तभी प्रगति करता है, जब वहां के सभी वर्ग के लोगों को अवसर प्रदान किए जाएं।
भारत की ऋषि परम्परा में बताया गया है कि कोई भी अक्षर ऐसा नहीं है, जो मंत्र नहीं बन सकता है।
कोई वनस्पति ऐसी नहीं है, जो औषधि न बन सके।
अर्थात समाज में हर चीज उपयोगी है।
आवश्यकता है एक योजक की, जो किसी की भी प्रतिभा को समाज के लिए उपयोगी बना सकता है।
स्टार्टअप कार्यक्रम ऋषि परम्परा का एक रूप है।
उन्होंने कहा कि उन्नति के लिए आवश्यक है कि टीम स्प्रिट की भावना से काम किया जाए।
स्टार्टअप यात्रा प्रदेश के 15 जिलों में शुरू की गयी है।
उन्होंने कहा कि नव परिवर्तन और युवाओं के लिए नये अवसरों के बिना किसी भी प्रकार का विकास सम्भव नहीं है।
स्टार्टअप एक सोच है, एक विचार है, जिसे मूर्त रूप देकर युवा अपने सपनों को साकार कर सकेंगे।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य और युवाओं का प्रदेश है।
इसलिए इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए राज्य सरकार संकल्पित है।

श्री योगी ने कहा कि समाज और राष्ट्र के दायित्व को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने समझा है।
इसीलिए वर्तमान राज्य सरकार ने भी गरीब, किसान, महिलाओं तथा नौजवानों को ध्यान में रखते हुए योजनाएं बनायी है।
उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य है कि शासन की योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को मिल सके, जिससे वह भी समाज की मुख्य धारा से जुड़ सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि स्टार्टअप कार्यक्रम के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 1,000 करोड़ रुपए के काॅरपस फण्ड की व्यवस्था की गयी है।
आने वाले दिनों में सिडबी के साथ एक एम0ओ0यू0 भी हस्ताक्षरित किया जाएगा।
कार्यक्रम को प्रोत्साहित करने के लिए काॅल सेण्टर और पाॅलिसी इंप्लीमेन्ट एप को भी शुरू किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से एक भारत, श्रेष्ठ भारत की संकल्पना को साकार किया जा सकेगा।
उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है इसलिए उत्तर प्रदेश का दायित्व भी ज्यादा है।
उन्होंने कहा कि शिक्षा को व्यावहारिक बनाना होगा, जिससे लोगों को स्वावलम्बी बानाने में मदद मिलेगी।
स्टार्टअप कार्यक्रम के माध्यम से ब्रेन ड्रेन को रोकने में भी मदद मिलेगी।
श्री योगी ने कहा कि प्रदेश में 16,500 बैंक शाखाएं हैं।
प्रत्येक शाखा को एक अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति और एक महिला को गोद लेकर आसान किस्तों पर ऋण उपलब्ध कराएंगी, जिसकी धनराशि 10 लाख से एक करोड़ रुपए होगी।
उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत की संकल्पना को साकार करने के लिए आवश्यक है कि कूड़ा प्रबन्धन को अपनाया जाए।
कूड़ा प्रबन्धन को अपनाकर साॅलिड वेस्ट को साॅलिड बेस्ट में बदलने का काम युवाओं पर है।
उन्होंने कहा कि तिरुपति बालाजी मन्दिर में बाल कटवाकर चढ़ाने की प्रथा है, जहां पहले इन बालों के कचरे से परेशानी होती थी, वहीं अब इसका शोधन करके इससे मन्दिर प्रबन्धन को बड़ी आय हो रही है।
इससे पता चलता है कि समाज की परेशानी का निराकरण समाज में ही निहित है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान की आय दोगुनी करने के लिए किसानों को तकनीक से जोड़ना होगा।
इसके लिए स्टार्टअप कार्यक्रम एक महत्वपूर्ण कड़ी साबित हो सकता है।
तकनीक के माध्यम से खर्च को कम करके उत्पादन को बढ़ाया जा सकता है।
27,000 गांवों को आॅप्टिकल फाइबर से जोड़ने के लिए काम किया जा रहा है।
तकनीक को अपनाकर ही भ्रष्टाचार पर नियंत्रण स्थापित किया जा सकता है।
प्रदेश के 75 जिलों को 75 प्रोडक्ट्स के रूप में पहचान देने के लिए सरकार संकल्पित है।
इस अवसर पर श्री योगी ने हिमांशु बिन्दल और मोहित अग्रवाल को यंग एण्टरप्रेन्योर अवार्ड से सम्मानित किया।
यह कार्यक्रम यूथ इण्टीग्रेटेड डेवलपमेंट सोसायटी के तत्वावधान में आयोजित किया गया था।
इस मौके पर छात्र-छात्राओं सहित अनेक उद्यमी और अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।
त्यागी अवधेश वार्ता

एयरबस

एयरबस का तीन भारतीय स्टार्टअप के साथ समझौता

बेंगलुरु 13 जुलाई (वार्ता) विमान निर्माता फ्रांसीसी कंपनी एयरबस ने अपनी इकाइयों नैवब्लू और एरिअल के जरिये डाटा सेवा, फ्लाइट ऑपरेशन और इमेजरी सेवाओं के क्षेत्र में काम करने वाली तीन भारतीय स्टार्टअप कंपनियों के साथ समझौता किया है।

जून

जून तक एक लाख कामगारों को किया जाएगा प्रशिक्षित : गडकरी

नयी दिल्ली, 22 दिसम्बर (वार्ता) सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज कहा कि अगले वर्ष जून तक देशभर में एक लाख से अधिक कामगारों का काैशल विकास किया जाएगा।

टेक्सटाइल

टेक्सटाइल क्षेत्र के लिए कौशल विकास स्कीम

नयी दिल्ली 20 दिसंबर (वार्ता) सरकार ने टेक्सटाइल क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर सुनिश्चित करने के लिए 1300 करोड़ रुपये की लागत से नयी कौशल विकास योजना को मंजूरी प्रदान की है।

कौशल

कौशल विकास के नये कोर्स शुरू किये जायेंगे :चन्नी

चंडीगढ़, 08 दिसंबर (वार्ता)पंजाब के नौजवानों को भविष्य की आवश्यकताओं के अनुसार कुशल बनाकर रोजगार मुहैया करवाने के लिए कौशल विकास के कम अवधि के नवीन कोर्स आरंभ किये जायेंगे।

एक

एक करोड़ 24 लाख युवाओं का कौशल विकास किया सरकार ने:अनंत हेगड़े

नयी दिल्ली 07 दिसंबर (वार्ता) केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने आज कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी और कच्छ से कोहिमा तक कौशल ही भविष्य के भारत का निर्माण करेगा और सरकार पिछले साढ़े तीन साल में एक करोड़ 24 लाख युवाओं का कौशल विकास कर चुकी है।

‘स्टार्ट

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

नयी दिल्ली 12 नवंबर (वार्ता) पूर्वोत्तर क्षेत्र पूरे देश के युवाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल के रूप में तेजी से उभर कर सामने आ रहा है।

रोजगार

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

नयी दिल्ली 08 नवंबर (वार्ता) कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर जोर देते हुए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने जुटाये पांच लाख डॉलर

नयी दिल्ली 09 नवंबर (वार्ता) धार्मिक पर्यटन क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनी काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने इंटेल तथा जेननेक्स्ट वेंचर्स के पूर्व निदेशकों से पांच लाख डॉलर की पूंजी जुटायी है।

क्लियरटैक्स

क्लियरटैक्स ने शुरू किया ई केवाईसी

नयी दिल्ली 03 नवंबर (वार्ता) टैक्स ई फाइलिंग प्लेटफार्म क्लियरटैक्स ने म्युचुअल फंड में निवेश करने की चाहत रखने वालों के लिए ई केवाईसी पंजीकरण फीचर शुरू किया है।

मार्च

मार्च तक 100 शहरों में विस्तार करेगी रुबिक

नयी दिल्ली 16 अक्टूबर (वार्ता) प्रमुख फिनटैक कंपनी रुबिक ने चालू वित्त वर्ष के अंत तक देश में 100 शहरों तक कारोबार विस्तार करने की योजना बनायी है।

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

नयी दिल्ली 08 नवंबर (वार्ता) कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर जोर देते हुए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

इसरो ने इस तरह रचा इतिहास

इसरो ने इस तरह रचा इतिहास

बेंगलुरु 21 फरवरी (वार्ता) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक साथ 104 उपग्रह छोड़ने वाले पीएसएलवी-सी37 मिशन को अनूठे और नवाचारी तरीके अपनाकर सफल बनाया।

काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने जुटाये पांच लाख डॉलर

नयी दिल्ली 09 नवंबर (वार्ता) धार्मिक पर्यटन क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनी काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने इंटेल तथा जेननेक्स्ट वेंचर्स के पूर्व निदेशकों से पांच लाख डॉलर की पूंजी जुटायी है।

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

नयी दिल्ली 12 नवंबर (वार्ता) पूर्वोत्तर क्षेत्र पूरे देश के युवाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल के रूप में तेजी से उभर कर सामने आ रहा है।

image