Wednesday, Sep 18 2019 | Time 19:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कंपनी कानून के प्रावधानों की समीक्षा के लिए समिति गठित
  • सेना प्रमुख बिपिन रावत ने किये केदारनाथ, बदरीनाथ के दर्शन
  • आखिर रामलला कब तक टेंट में बैठे रहेंगे : शाहनवाज़
  • कोयला खनन, अनुबंधित विनिर्माण, एकल ब्रांड खुदरा में एफडीआई में ढील
  • रैगिंग : पटियाला मेडिकल कॉलेज के चार एमबीबीएस छात्र तीन महीने के लिए निलंबित
  • सिगरेट, पान मसाला पर भी प्रतिबंध लगाए सरकार : कांग्रेस
  • हरियाणा में 16 नये कॉलेज खोलने को मंजूरी
  • पुर्नप्रतिष्ठा का युग शुरु हो चुका है,जनता को रहा है पूर्वाभास :योगी
  • बिहार में पीएमएवाई के तहत बने 6 52 लाख आवास
  • उपचुनावों में भी भाजपा लहराएगी परचम, स्थानीयों को मिलेगा टिकट: सत्ती
  • विनेश ने जीता कांस्य और पहला ओलंपिक कोटा
  • विनेश ने जीता कांस्य और पहला ओलंपिक कोटा
  • असम में तीन महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार मामले में महिला आयोग सख्त
  • उत्तराखण्ड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए नामांकन पत्र लेने की प्रक्रिया शुरू
दुनिया


कुवैत ने की जॉर्डन घाटी को वेस्ट बैंक मे मिलाने की नेतन्याहू की घोषणा की निंदा

कुवैत सिटी 12 सितंबर (वार्ता) कुवैत ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के दोबारा चुनाव जीतने के बाद जॉर्डन घाटी को इजरायल के नियंत्रण वाले वेस्ट बैंक में मिलाने के इरादे की कड़ी निंदा की है।
कुवैत के विदेश मंत्रालय ने यहां एक बयान जारी कर कहा कि श्री नेतन्याहू की यह घोषणा फिलीस्तीनी लोगों के अधिकारों और अंतरराष्ट्रीय कानून एवं प्रस्तावों का गंभीर तथा निदंनीय उल्लंघन है। इजरायली प्रधानमंत्री का बयान समावेशी शांति स्थापना की सभी कोशिशों के खिलाफ है।
गौरतलब है कि श्री नेतन्याहू ने मंगलवार को कहा था कि वह दोबारा चुनाव जीतकर आने पर जॉर्डन घाटी का फिलीस्तीनी बहुल वेस्ट बैंक में विलय कर देंगे। उन्होंने कहा कि वह इजरायल की संप्रुभता को जॉर्डन घाटी और उत्तरी मृत सागर तक लेकर जाएंगे। इजरायल ने 1967 में ही वेस्ट बैंक को कब्जे में ले लिया था लेकिन यह क्षेत्र अब तक पूर्ण रूप से उसका हिस्सा नहीं बन पाया है।
यामिनी राम
वार्ता
image