Wednesday, Feb 20 2019 | Time 15:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में पीडीएस के लाभान्वितों को मिल रहा अनाज-किरासन तेल : मंत्री
  • पेट्रोल पंप के कर्मी से 11 लाख से अधिक की लूट
  • स्वराज इंडिया पार्टी कर्नाटक में लोकसभा चुनाव लड़ेगी
  • झांसी: रेलवे धरोहर प्रर्दशनी देखने बड़ी संख्या में पहुंचे लोग
  • सरकार ने दिये पाक के साथ क्रिकेट पर प्रतिबंध के संकेत
  • पुलिस विभाग में आरक्षकों के पदोन्नति के लिए जारी विज्ञापन पर रोक
  • सरकार ने दिये पाक के साथ क्रिकेट पर प्रतिबंध के संकेत
  • चीनी उत्पादन बढ़कर 219 लाख टन हुआ
  • उत्तरी अफगानिस्तान में तालिबान कमांडर ढ़ेर
  • दुबई में नयी फिल्म की शूटिंग करेंगे जैकी चैन
  • फ्रांस ने राफेल चुनने के लिए भारत का आभार जताया
  • दुबई में नयी फिल्म की शूटिंग करेंगे जैकी चैन
  • लाँच हुआ 32 एमपी पॉप अप सेल्फी कैमरा स्मार्टफोन विवो 15 प्रो
  • अखबार में छपी खबर पर सदन में नहीं होती कोई चर्चा : अध्यक्ष
  • नवीनगर परियोजना की तीसरी इकाई से उत्पादन शुरू
राज्य Share

स्वाति शाकंभरी को मैसाम युवा सम्मान

स्वाति शाकंभरी को मैसाम युवा सम्मान

समस्तीपुर 05 सितम्बर (वार्ता) मैथिली साहित्य महासभा, नई दिल्ली ने मैथिली कविता जगत में लगातार नए कीर्तिमान स्थापित कर रही स्वाति शाकम्भरी को प्रतिष्ठित मैसाम युवा सम्मान 2018 से सम्मानित करने का निर्णय लिया है।

मैथिली साहित्य महासभा के अध्यक्ष अमरनाथ झा ने आज यहां बताया कि संस्था द्वारा यह सम्मान हर वर्ष 40 वर्ष से कम आयु के मैथिली साहित्यकार को प्रदान किया जाता है। स्वाति को यह सम्मान उनके मैथिली कविता संग्रह 'पूर्वागमन' के लिए दिया जाएगा। मैथिली महासभा की ओर से स्वाति को पुरस्कारस्वरूप 25 हजार रुपये की राशि और प्रशस्ति पत्र दिया जायेगा।

समस्तीपुर जिले के खानपुर निवासी और मैसाम युवा सम्मान से सम्मानित होने वाली स्वाती भारतीय सूचना सेवा के अधिकारी ऋतेश पाठक की पत्नी हैं। श्रीमती शाकम्भरी बी.एन. मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा में एम.ए. संस्कृत (अंतिम वर्ष) की छात्रा हैं। उनकी पहली कृति 'पूर्वागमन' साहित्य अकादमी से प्रकाशित है और उन्हें वर्ष 2017 में काका साहेब कालेलकर स्मृति युवा साहित्य सम्मान से भी सम्मानित किया जा चुका है।

श्रीमती शाकम्भरी को यह सम्मान आगामी नौ सितंबर को दिल्ली में आयोजित चतुर्थ विद्यापति स्मृति एकल व्याख्यानमाला के दौरान दिया जाएगा। इस दौरान प्रसिद्ध मैथिली साहित्यकार डॉ. महेंद्र नारायण राम द्वारा ‘मैथिली लोक साहित्य आ दलित विमर्श’ विषय पर व्याख्यान प्रस्तुत किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रसिद्ध साहित्यकार एवं पूर्व प्रशासनिक अधिकारी डॉ मंत्रेश्वर झा करेंगे।

सं.उमेश.सतीश

वार्ता

image