Wednesday, Sep 26 2018 | Time 14:35 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता कुछ शर्तों के साथ बरकरार
  • भार वितरक बनाने वाले छात्र और सारस के परीक्षण पायलट सम्मानित
  • चांदी 460 रुपये महंगी; सोना 75 रुपये सस्ता
  • गंगा-यमुना प्रदूषण के मामले में केन्द्र समेत चार राज्यों से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब
  • आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत:भाजपा
  • नंबर वन हालेप वुहान ओपन से बाहर
  • जस्टिस गोगोई की नियुक्ति के खिलाफ याचिका खारिज
  • दिल्ली पुलिस अरुणाचल के युवाओं की भर्ती करेगी
  • अदालती सुनवाई के सीधे प्रसारण की अनुमति, जल्द बनेंगे कायदे कानून
  • उत्तरी दिल्ली में इमारत गिरी, दो बच्चों की मौत
  • ताइ‌वान को हथियार ना बेचे अमेरिका: चीन
  • ईरान पर अमेरिका नीत पाबंदियां ‘आर्थिक आतंकवाद’: रूहानी
  • रुपये की संदर्भ दर
  • दिल्ली में सुबह का मौसम खुशनुमा
  • अंपायरिंग से नाराज़ धोनी ने किया कटाक्ष
भारत Share

देश से टी बी उन्मूलन पांच साल पहले: नड्डा

देश से टी बी उन्मूलन पांच साल पहले: नड्डा

नयी दिल्ली 03 सितम्बर (वार्ता) सरकार देश में तपेदिक (टी बी) के उन्मूलन का लक्ष्य निर्धारित समय से पांच साल पहले ही पूरा कर लेगी,  केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा ने सोमवार को यहाँ विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण एशियाई क्षेत्र के स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में यह बात कही। श्री नड्डा ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 2030 तक पूरी दुनिया से टी बी के उन्मूलन का लक्ष्य रखा है लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2025 तक यह लक्ष्य पूरा करने का संकल्प व्यक्त किया है।

उन्होंने बताया कि सरकार ने टी बी के मरीजों के पोषण का भी कार्यक्रम भी शुरू किया है जिसके तहत इलाज़ के दौरान उन्हें पोषक तत्व दिए जायेंगे।

उन्होंने बताया कि सरकार ने हाइपरटेंशन, मधुमेह, स्तन कैंसर, गर्भाशय कैंसर और मुख कैंसर की रोकथाम के लिए देश भर में जांच का राष्ट्रीय कार्यक्रम भी शुरू किया है।

उन्होंने बताया कि जन औषधि केंद्र खोलने के अलावा कैंसर एवं दिल के मरीजों के लिए सस्ती दावा आदि उपलब्ध करने का भी कार्यक्रम शुरू किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने आयुष्मान भारत योजना की चर्चा करते हुए कहा कि इसमें देश की 40 प्रतिशत आबादी को शामिल किया जायेगा। इसके लिए डेढ़ लाख स्वास्थ्य केन्द्र इस बीमा योजना को उपलब्ध कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार हर जरूरतमंद लोगों को समय पर इलाज एवं मुफ्त दवाएं तथा जांच की सुविधा उपलब्ध करना चाहती है।

बैठक में नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कान्त, स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूडान, विश्व स्वास्थ्य संगठन की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम क्षेत्रपाल सिंह भी मौजूद थीं।

अरविन्द.श्रवण

More News
अदालती सुनवाई के सीधे प्रसारण की अनुमति, जल्द बनेंगे कायदे कानून

अदालती सुनवाई के सीधे प्रसारण की अनुमति, जल्द बनेंगे कायदे कानून

26 Sep 2018 | 2:24 PM

नयी दिल्ली, 26 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को एक अहम फैसला सुनाते हुए व्यापक जनहित में संवैधानिक महत्व के मामलों की सुनवाई के सीधे प्रसारण की अनुमति दे दी।

 Sharesee more..
image