Monday, Apr 15 2024 | Time 15:52 Hrs(IST)
image
भारत


देश को एक ईमानदार और मजबूत विकल्प की जरूरत : ‘आप’

देश को एक ईमानदार और मजबूत विकल्प की जरूरत : ‘आप’

नयी दिल्ली, 24 फ़रवरी (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को कहा कि जिस तरह से देश की जनता महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही है उसमें आज देश को एक ईमानदार और मजबूत विकल्प की जरूरत है।

‘आप’ के राष्ट्रीय संगठन महासचिव संदीप पाठक ने यहां कहा,“ आज देश जिस परिस्थिति से गुजर रहा है, जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी की सरकार एक-एक करके देश की सारी संस्थाओं को खत्म कर रही है, जिस तरह से चुनावों की चोरी हो रही है, चुनावों को जीतने के लिए विपक्षी नेताओं को जेल में डाला जा रहा है, किसानों के साथ अन्याय हो रहा है, जिस तरह से देश की जनता महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही है, उसमें आज देश को एक ईमानदार और मजबूत विकल्प की जरूरत है। इसी को ध्यान में रखते हुए और अपने निजी हितों को दरकिनार करके देश के हितों को ध्यान में रखकर गठबंधन में आए हैं। हमारे लिए देश महत्वपूर्ण है, पार्टी देश के बाद आती है। इस चुनाव को इंडिया लड़ेगी। कुछ सीटों पर आम आदमी पार्टी और कुछ पर कांग्रेस अपने प्रत्याशी उतारेगी। भाजपा ने जो रणनीति बनाई थी, इस गठबंधन के बाद उसमें उलटफेर हो जाएगा। इंडिया गठबंधन देश की जनता के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगा और जीतेगा।”

पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं कैबिनेट मंत्री आतिशी ने कहा,“ ‘आप’ शुरू से ही इंडिया समूह का एक महत्वपूर्ण स्तंभ रहा है। हम शुरू से ही इंडिया समूह की सफलता के लिए काम करते आए हैं। हालांकि कांग्रेस के साथ सीट बटवारे में कुछ समय लगा। आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने देश हित को आगे रखा है। हमने पार्टी हित के बारे में नहीं सोचा है। देश हित को आगे रखते हुए इस बात को लेकर प्रतिबद्ध थे कि इस गठबंधन को सफल बनाएंगे। इसमें हम दोनों ने कुछ-कुछ समझौता किया है। अब मिलकर मजबूती से इंडिया समूह चुनाव लड़ेगा और हम दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, गुजरात में भी जीतेंगे। अब हम चुनाव प्रचार को लेकर एक को-आर्डिनेशन कमिटी बनाएंगे।”

सुश्री आतिशी ने कहा ,“ यह सत्य बात है कि जब से यह बात मीडिया में आई कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच सीट शेयरिंग लगभग तय हो गया है तब से हर तरफ से केजरीवाल को धमकियां आने लगीं। हमें यह कहा गया कि अगर आम आदमी पार्टी इंडिया समूह से बाहर नहीं आती है तो ईडी के साथ-साथ अब सीबीआई के माध्यम से अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की योजना है। अभी भी हमारे पास खबर है कि सोमवार को सीबीआई का नोटिस आएगा और शायद कुछ दिनों में गिरफ्तारी हो जाए।”

उल्लेखनीय है कि इंडिया समूह के घटक दल ‘आप’ और कांग्रेस दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, चंडीगढ़ और गोवा में मिलकर चुनाव लड़ेगी। दिल्ली की सात में से चार लोकसभा सीटों पर ‘आप’और तीन सीटों पर कांग्रेस अपना प्रत्याशी उतारेगी। दिल्ली की नयी दिल्ली, वेस्ट दिल्ली, साउथ दिल्ली और ईस्ट दिल्ली सीट ‘आप’ के हिस्से आई है, जबकि चांदनी चौक, नॉर्थ ईस्ट और नॉर्थ वेस्ट सीट कांग्रेस के पास है। इसके अलावा, गुजरात की 26 में से भरूच और भाव नगर और हरियाणा की कुरूक्षेत्र सीट पर भी ‘आप’’ का प्रत्याशी होगा जबकि गुजरात की शेष 24, हरियाणा की नौ और गोवा की दोनों सीटों पर कांग्रेस के प्रत्याशी होगें।

आज़ाद,आशा

वार्ता

More News
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ: संजय सिंह

आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ: संजय सिंह

15 Apr 2024 | 2:45 PM

नयी दिल्ली, 15 अप्रैल (वार्ता) आम आदमी पार्टी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भले ही मनोबल तोड़ने के लिए फर्जी मामले लगाकर पार्टी के शीर्ष नेताओं को जेल भेज दिया, लेकिन इससे उनका मनोबल टूटने की बजाय और मजबूत हुआ है।

see more..
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई

केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई

15 Apr 2024 | 2:40 PM

नई दिल्ली,15 अप्रैल (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने दिल्ली आबकारी नीति कथित घोटाले से संबंधित धनशोधन के एक मुकदमे में अपनी गिरफ्तारी और हिरासत को बरकरार रखने के दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की याचिका पर सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया।

see more..
मुख्य न्यायाधीश चंद्रचूड़ को 21 पूर्व न्यायाधीशों ने लिखी चिट्ठी

मुख्य न्यायाधीश चंद्रचूड़ को 21 पूर्व न्यायाधीशों ने लिखी चिट्ठी

15 Apr 2024 | 2:18 PM

नई दिल्ली,15 अप्रैल (वार्ता) उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालयों के लगभग 21 पूर्व न्यायाधीशों ने 'न्यायपालिका पर दबाव बनाने और उसे कमजोर करने' के लिए किए जा रहे कथित प्रयासों से भारत के मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ को एक पत्र के जरिए अपनी चिंताओं से अवगत कराया है।

see more..
image