Monday, Sep 16 2019 | Time 15:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इंडिगो ने शुरू की दिल्ली-चेंगडू उड़ान
  • मुख्यमंत्री के पद को लेकर भूपेश से किसी टकराव से सिंहदेव का इंकार
  • अफगानिस्तान में कमांडर समेत 24 आतंकवादियों ने किया आत्मसमर्पण
  • गहलोत ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वे
  • दूरदर्शन करेगा पेशेवरों की नियुक्ति
  • ग्रीको रोमन में बचे हुये तीनों पहलवान भी हारे
  • जम्मू-पठानकोट राजमार्ग पर वाहन टक्कर में कई घायल
  • मेट्रो के सामने कूदकर महिला की आत्महत्या
  • अफगानिस्तान से हारने के बाद बंगलादेश ने किये कई बदलाव
  • आजाद ने जताया उच्चतम न्यायालय का अाभार
  • सीबीआई ने राजीव कुमार का पता लगाने के लिए बंगाल सरकार की मांगी मदद
  • सोना 200 रुपये चमका, चाँदी में 975 रुपये की उछाल
  • एयर इंडिया एसेट होल्डिंग ने पूँजी बाजार से जुटाये 7000 करोड़ रुपये
  • अमेज़न का ग्रेट इंडियन फेस्टिवल 29 सितंबर से
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


घाघरा चोली पहन भगवान बनते सखी, सिर्फ महिलाओं को मिलता प्रवेश

घाघरा चोली पहन भगवान बनते सखी, सिर्फ महिलाओं को मिलता प्रवेश

पन्ना, 23 मार्च (वार्ता) मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में आज चैत्र माह की तृतीया पर रंगों के पर्व होली के बाद सुप्रसिद्ध भगवान श्री जुगल किशोर जी मंदिर में जुगल किशोर जी सखी वेष में दर्शन देते हैं।

भगवान की इस अनोखी छटा को निहारने तृतीया को मंदिर में सुबह पांच बजे से 11 बजे तक सिर्फ महिलाओं को प्रवेश मिलता है।

भगवान के इस नयनाभिराम अलौकिक स्वरूप के दर्शन वर्ष में सिर्फ एक बार होली के बाद तृतीया को ही होते हैं। यही वजह है कि सखी वेष के दर्शन करने पन्ना के श्री जुगुल किशोर जी मन्दिर में श्रद्धालुओं का

सैलाब उमड़ पड़ता है। कृष्ण की भक्ति में लीन महिलायें जब ढोलक की थाप पर होली गीत गाते हुये गुलाल उड़ाकर नृत्य करती हैं तो पन्ना शहर के इस मन्दिर में वृन्दावन जीवंत हो उठता है। सुबह 5 बजे से ही महिला श्रद्धालुओं का सैलाब भगवान के सखी वेष को निहारने और उनके सानिद्ध में गुलाल की होली खेलने के लिये उमड़ पड़ा।

यह अनूठी परम्परा श्री जुगुल किशोर जी मन्दिर में साढ़े तीन सौ वर्ष से भी अधिक समय से चली आ रही है जो आज भी कायम है। मन्दिर के प्रथम महन्त बाबा गोविन्ददास दीक्षित जी के वंशज देवी दीक्षित ने बताया कि सखी वेष के दर्शन की परम्परा प्रथम महन्त जी के समय ही शुरू हुई थी। मान्यता है कि चार धामों की यात्रा श्री जुगुल किशोर जी के दर्शन बिना अधूरी है। आज के दिन महिलाओं को प्रसाद के तौर पर भी सिर्फ गुलाल ही मिलता है।

More News
बारिश से तबाह किसानों की मदद के लिए इंतजाम करे सरकार : शिवराज

बारिश से तबाह किसानों की मदद के लिए इंतजाम करे सरकार : शिवराज

16 Sep 2019 | 3:26 PM

नीमच, 16 सितम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर और नीमच जिले में अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में सरकारी इंतजाम को अपर्याप्त बताते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग की है कि भारी बारिश से तबाह हुए किसानों और आम नागरिकों की भरपूर मदद के लिए शासन प्रभावी इंतज़ाम करे।

see more..
मुरैना में चंबल में बाढ, 89 गांव पानी से घिरे, 35 को खाली कराया

मुरैना में चंबल में बाढ, 89 गांव पानी से घिरे, 35 को खाली कराया

16 Sep 2019 | 3:20 PM

मुरैना, 16 सितंबर (वार्ता) राजस्थान के कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने के चलते मध्यप्रदेश के मुरैना में चंबल खतरे के निशान से पांच मीटर ऊपर बह रही है, इसके चलते मुरैना, अंबा और पोरसा के 89 गांव पानी से घिर गए हैं। प्रशासन ने बाढ़ की आशंका के मद्देनजर 35 गांवों को खाली करा लिया गया है।

see more..
पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दो डकैत

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दो डकैत

16 Sep 2019 | 2:32 PM

सतना, 16 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के सतना जिले के धारकुंडी थाना क्षेत्र में पुलिस ने मुठभेड़ में दो दुर्दांत डकैतों को मार गिराया। ये डकैत मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश की सीमा में सक्रिय थे।

see more..
image