Monday, Jan 21 2019 | Time 19:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्याम लाल मेमोरियल हॉकी टूर्नामेंट 23 जनवरी से
  • जेल्पमॉक का प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव 23 जनवरी से शुरू
  • सफाईकर्मी की मौत पर आयोग ने दिल्ली के मुख्य सचिव को थमाया नोटिस
  • गुलमर्ग में हिमपात, मैदानी क्षेत्रों में भारी बारिश
  • गुलमर्ग में हिमपात, मैदानी क्षेत्रों में भारी बारिश
  • झारखंड में बजटीय आवंटन का महज 52 16 प्रतिशत ही हुआ खर्च
  • नंबर एक हालेप बाहर, सेरेना और जोकोविच क्वार्टरफाइनल में
  • कुएं में गिरी शेरनी को जीवित निकाला गया
  • राकांपा का ‘निर्धार परिवर्तन संकल्प यात्रा’ पहुंचा औरंगाबाद
  • श्रीनगर नगर निगम की बैठक में उप महापौर पर हमला
  • इसरो करेगा नये स्पेस टेलीस्कोप का प्रक्षेपण
  • आईएमएफ ने भारत का विकास अनुमान बढ़ाया
  • केएफसी का एलेक्सा से करार
खेल Share

चीन की दादागिरी में इस बार लगी सेंध

चीन की दादागिरी में इस बार लगी सेंध

जकार्ता, 02 सितंबर (वार्ता) एशियाई खेलों की महाशक्ति चीन की इन खेलों में चली आ रही दादागिरी में इस बार सेंध लग गयी और उसने पिछले 20 साल का अपना सबसे कमजोर प्रदर्शन किया। इसके बावजूद चीन पदक तालिका में लगातार 10वीं बार शीर्ष पर रहा।

चीन ने 1982 के दिल्ली एशियाई खेलों से हर बार पदक तालिका में शीर्ष स्थान अपने कब्जे में रखा है और किसी अन्य देश को अपने आसपास भी फटकने नहीं दिया है। लेकिन इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबंग में हुये 18वें एशियाई खेलों में उसके वर्चस्व में सेंध लग गयी और पिछले 20 वर्षाें में यह पहला मौका है जब वह अपनी स्वर्ण संख्या को 150 नहीं पहुंचा सका।

इन खेलों में चीन ने 132 स्वर्ण, 92 रजत और 65 कांस्य सहित कुल 289 पदक जीते। जापान 75 स्वर्ण, 56 रजत और 74 कांस्य सहित कुल 205 पदक जीतकर दूसरे तथा कोरिया 49 स्वर्ण, 58 रजत और 70 कांस्य सहित कुल 177 पदक जीतकर तीसरे स्थान पर रहा।

चार साल पहले इंचियोन में चीन ने 151 स्वर्ण सहित कुल 345 पदक जीते थे। लेकिन इस बार न केवल उसके स्वर्ण पदकों बल्कि कुल पदकों की संख्या में भी गिरावट आ गयी। पिछले 16 वर्षाें में यह पहला मौका है जब चीन कुल पदकों में 300 का आंकड़ा पार नहीं कर सका है।

राज प्रीति

जारी वार्ता

More News
जैकब मार्टिन की मदद के लिए आगे आए गांगुली

जैकब मार्टिन की मदद के लिए आगे आए गांगुली

21 Jan 2019 | 7:15 PM

कोलकाता, 2 जनवरी (वार्ता) पूर्व भारतीय कप्तान सौरभ गांगुली पूर्व भारतीय क्रिकेटर जैकब मार्टिन की मदद के लिए आगे आए हैं जो इस समय वडोदरा के एक अस्पताल में जीवन की जंग लड़ रहे हैं।

 Sharesee more..
image