Tuesday, Feb 19 2019 | Time 08:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 फरवरी)
  • अमेरिका में तीन बच्चे सहित मृत पायी गयी महिला
  • अमेरिका में आपातकाल की घोषणा के विरोध में देश व्यापी प्रदर्शन
  • अल अजहर ने की नाइजीरिया में हुए आत्मघाती हमले की निंदा
  • मिस्र: बम विस्फोट में दो पुलिसकर्मी, एक आतंकवादी की मौत
  • सीरिया में आतंकवादी हमले में दो लोगों की मौत
  • तुर्की में यिल्दिरिम ने की इस्तीफा देने की घोषणा
  • इराक में आतंकवादियों ने की एक की हत्या और सात का अपहरण
  • यमन में सुरक्षा बलों के साथ झड़प में 10 हौती विद्रोही मारे गए
  • पुड्डुचेरी में बेदी से बातचीत के बाद नारायणसामी का धरना समाप्त
  • बिहार में 17 आईएएस अधिकारियों का तबादला
  • बेकाबू ट्रक की चपेट में आने से नौ लोगों की मौत, 22 घायल
  • भाजपा-शिवसेना गठबंधन ही महाराष्ट्र में ‘केवल विकल्प’: मोदी
दुनिया Share

तीन अपहृत रोहिंग्या बचाए गए, तीन अन्य लापता

तीन अपहृत रोहिंग्या बचाए गए, तीन अन्य लापता

ढाका 04 सितंबर (वार्ता) बंगलादेश में कॉक्स बाजार के चकमार्कुल शिविर के पास एक पहाड़ी जंगल से पुलिस ने तीन अपहृत रोहिंग्या शरणार्थियों को घायल अवस्था में मुक्त करा लिया है लेकिन उनके तीन अन्य सहयोगी अब भी लापता हैं।


पुलिस द्वारा सोमवार को बचाए गए शरणार्थियों में बालुखली शिविर का मोहम्मद आलम (45) और कुतुपालोंग शिविर का अब्दुल खलिक (23) तथा मोहम्मद अनवर (33) हैं। तीनों की गर्दन आधी कटी हुयी थी।

टेकनाफ मॉडल थाना के प्रभारी रणजीत कुमार बरूआ ने बताया कि बचाए गए और लापता शरणार्थियों को दैनिक मजदूरी करने के लिए बालुखली शिविर से बैट्री चालित तीपहिया वाहन पकड़ने को कहा गया था। पहले सबों को चकमार्कुल शिविर और बाद में पास के जंगल ले जाया गया। अपहर्ताओं ने उनमें भय पैदा करने और फिरौती वसूलने के इरादे से उनकी गर्दन के आधे हिस्से को काट दिया।

उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर पुलिस ने तलाश अभियान शुरू किया और तीनों को मुक्त करा लिया। तीनों को पहले स्थानीय अस्पताल में भर्ती किया किया जहां से उन्हें कॉक्स बाजार सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। तीन में से दो मुश्किल से बोल पा रहे हैं जबकि तीसरा कुछ भी बोल नहीं पा रहा है क्योंकि उसका वोकल कोर्ड कट चुका है।

बताया जाता है कि रोहिंग्या शरणार्थियों के खिलाफ अपराध में राेहिंग्या अपराधी ही शामिल है। कॉक्स बाजार के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मोहम्मद इकबाल हुसैन ने अपहरण के उक्त मामले में राेहिंग्या अपराधियों के हाथ होने की आशंका व्यक्त की है। उनके मुताबिक पिछले एक वर्ष के दौरान 19 रोहिंग्या शरणार्थियों की हत्या हो चुकी है जिनमें राेहिंग्या अपराधियों के हाथ थे।

 

image