Tuesday, Sep 18 2018 | Time 20:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संविधान सर्वोच्च, ‘हिन्दू राष्ट्र’ में मुसलमानों की भी जगह : भागवत
  • पंजाब की 22 जिला परिषदों, 150 पंचायत समितियों के चुनाव कल
  • झारखंड की स्वास्थ्य परियोजनाओं को मिलेगा पूर्ण सहयोग : नड्डा
  • अवैध हथियार की आपूर्ति करने वाला सरगना गिरफ्तार
  • इंफोसिस को पूर्व सीएफओ को 12 करोड़ देने का निर्देश
  • पेंशनभोगियों की सहूलियत के लिए किये गये अनेक सुधार : जितेंद्र
  • मैडम तुसाद में सनी लियोन ने अपने पुतले का किया अनावरण
  • खालसा कालेज ने क्रास कंट्री में हासिल किया पहला स्थान
  • तारांकित प्रश्नों का निर्धारित अवधि से पहले ही उत्तर देकर फिर रचा इतिहास
  • आठ संसदीय समितियों का पुनर्गठन
  • राजस्थान में सरकारी निधि से हो रही हैं भाजपा के कार्यक्रम : गहलोत
  • किसी गैरकानूनी तौर तरीके में हमारा कोई विश्वास नहीं: डेरा सच्चा सौदा
  • राज्यसभा की आठ समितियों का पुनर्गठन
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • अवाना ने जूनियर चयनकर्ता पद छोड़ा, रणजी गेंदबाजी कोच बने
दुनिया Share

अमेरिका में शरणार्थी परिवारों की पुनर्मिलन योजना मंजूर

अमेरिका में शरणार्थी परिवारों की पुनर्मिलन योजना  मंजूर

वाशिंगटन 18 अगस्त (रायटर) अमेरिका के एक संघीय न्यायधीश ने शुक्रवार को मेक्सिको में अमेरिका से प्रवेश करने पर सीमा अधिकारियों द्वारा अलग किये गये सैंकड़ों शरणार्थी परिवारों के पुनर्मिलन योजना को मंजूरी दे दी।

अमेरिकी जिला न्यायधीश डाना सबराव ने सेंट डिएगो में मामले की सुनवायी करते हुए कहा, “न्यायालय संयुक्त प्रस्तावित योजना को मंजूर करता है।” सुनवायी में न्याय मंत्रालय तथा नागरिक स्वतंत्रता वकीलों भी मौजूद थे।

अमेरिकी सरकार और शरणार्थी अधिकारों के पेरोकार द्वारा सहमति के आधार पर तैयार इस योजना को पांच से 17 वर्ष की आयु के 2,551 बच्चों के उनके परिवारों के साथ पुनर्मिलन के दूसरे चरण के रूप में देखा जा रहा है। इन परिवारों को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की शरणार्थी के प्रति ‘जीरो टोलरेंस’ नीति के अंतर्गत अलग किया गया था।

पुनर्मिलन योजना के अंतर्गत इन बच्चों के देश के बाहर रह रहे अभिभावको का पहचान करके, बच्चों के प्रति उनकी नीयत का पता लगाया जाएगा। इस सप्ताह इस बात पर भी सहमति बनी है कि सरकार पुनर्मिलन योजना में आने वाला यात्रा का खर्च भी वहन करेगी और भविष्य में शरण के उनके अधिकार को भी प्रभावित नहीं किया जाएगा।।

गुरुवार तक 2000 बच्चों को अपने अभिभावकों से फिर से मिलाया जा चुका है जबकि 541 बच्चे अभी शरणार्थी शिविरों कार्यालय के अधीन अपने अभिभावकों से अलग है। इसके अलावा पांच वर्ष से कम की आयु के 24 बच्चे अमेरिकी सरकार की देखदेख में हैं।

गौरतलब है कि श्री ट्रंप की शरणार्थियों अभिभावकों और बच्चों से अलग करने की नीति की अमेरिका और विभिन्न देशों में कड़ी आलोचना की गयी थी।

दिनेश

रायटर

More News
पाकिस्तान के स्कूल में झंडा फराने के दौरान करंट लगने से चार मरे

पाकिस्तान के स्कूल में झंडा फराने के दौरान करंट लगने से चार मरे

18 Sep 2018 | 5:42 PM

इस्लामाबाद 18 सितम्बर (वार्ता) पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एक निजी स्कूल में आज झंडा फहराने के दौरान करंट लगने से एक शिक्षक और तीन छात्रों की मौत हो गयी।

 Sharesee more..
image