Thursday, Sep 20 2018 | Time 16:28 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारत , पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों की न्यूयार्क में होगी बैठक
  • साल के आखिर तक होगा उत्तर प्रदेश का कोना कोना रोशन : सिंह
  • कांग्रेस खुलासा करे कि हवाला से उसे कितना पैसा मिला :भाजपा
  • कश्मीर में मुठभेड़: एक आतंकवादी ढेर
  • वाम दलों ने तीन तलाक अध्यादेश को राजनीति से प्रेरित बताया
  • राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने खरे के निधन पर शोक जताया
  • अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर
  • अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर
  • गिर वन के पूर्वी विस्तार में 48 घंटे में तीन शेरों के शव मिलने से सनसनी
  • भारत से औपचारिक जवाब का इंतजार: पाकिस्तान
  • प्रख्यात कवि विष्णु खरे पंच तत्त्व में विलीन
  • उत्तर कोरिया से बातचीत के लिए तैयार: पोम्पियो
  • शहीद के साथ बर्बरता का करार जवाब दे सरकार : कांग्रेस
  • पिता से प्रेरणा लेते हैं शाहिद कपूर
भारत Share

संयुक्त राष्ट्र ने समलैंगिकता पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का किया स्वागत

संयुक्त राष्ट्र ने समलैंगिकता पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का किया स्वागत

नयी दिल्ली 06 सितंबर (वार्ता) संयुक्त राष्ट्र ने समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से हटाए जाने के उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत किया है और कहा है कि समलैंगिकों को बुनियादी एवं मौलिक अधिकार देने की दिशा में यह पहला कदम है।

संयुक्त राष्ट्र सूचना केन्द्र की ओर से गुरुवार को जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि किसी व्यक्ति की लैंगिक अभिव्यक्ति और यौनिक झुकाव उसके व्यक्तित्व का अविभाज्य हिस्सा है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि उच्चतम न्यायालय के इस फैसले से उम्मीद है कि समलैंगिकों के साथ हो रहे भेदभाव और उन पर लगे कलंक अब मिट जायेंगे।

विज्ञप्ति में यह भी कहा गया है कि इस तरह का भेदभाव मानवाधिकारों का भी उल्लंघन है और किसी व्यक्ति को लिंग के आधार पर उसके साथ भेदभाव नहीं किया जा सकता है। अब भारत में ऐसे लोगों को न्याय मिल सकेगा और उन्हें सामाजिक एवं सांस्कृतिक अधिकार मिल पायेंगे। दुनियाभर में समलैंगिक व्यक्तियों के साथ भेदभाव होता रहा है और उन्हें हिंसा का शिकार बनाया जाता रहा है।

अरविंद.रवि.श्रवण

वार्ता

image