Saturday, Feb 29 2020 | Time 11:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोरोना वायरस से लड़ने के लिए चीन और अमेरिका परस्पर सहयोग करें: कुई
  • सुरक्षा परिषद के चार सदस्य देशों ने की सीरिया में सैन्य तनाव समाप्त करने की अपील
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
  • अपनी फिल्मों से दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया मनमोहन देसाई ने
  • मोदी ने मोरारजी देसाई को दी श्रद्धांजलि
  • शादी करने का अभी इरादा नहीं: कंगना
  • एक्शन फिल्म में काम करना चाहती हैं दिशा पटानी
  • कैथी के रीमेक में काम करेंगे अजय देवगन
भारत


उन्नाव बलात्कार पीड़िता के बयान दर्ज करने के लिए एम्स में लगी अदालत

उन्नाव बलात्कार पीड़िता के बयान दर्ज करने के लिए एम्स में लगी अदालत

नयी दिल्ली, 11 सितम्बर (वार्ता) अखिल भारतीय आयुर्विग्यान संस्थान (एम्स) में बुधवार को उन्नाव बलात्कार मामले में पीड़िता के बयान दर्ज कराने के लिए अस्थायी अदालत स्थापित की गई।

यह अदालत एम्स के ट्रामा सेंटर में बनाई गई है। उन्नाव बलात्कार पीड़िता के बयान दर्ज कराने के लिए यह अदालत बनाई गई है। न्यायाधीश धर्मेश शर्मा के समक्ष पीड़िता के बयान दर्ज किए जायेंगे ।

उन्नाव बलात्कार मामले में जिले की बांगरमऊ सीट से विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मुख्य आरोपी हैं। सेंगर और मामले में अन्य आरोपी शशि सिंह को भी अस्थायी अदालत में लाया गया।

यह मामला 2017 का है जब पीड़िता के साथ बलात्कार किया गया।

उस समय पीड़िता नाबालिग थी। गौरतलब है कि पीड़िता 28 जुलाई को जब अपने परिवार के साथ रायबरेली से उन्नाव वापस लौट रही थी तो जिस वाहन में वह और उसका परिवार सवार था उसे एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी। इस हादसे में पीड़िता की मां समेत उसके दो परिजनों की मौत हो गई थी। पीड़िता इस मामले में गंभीर रुप से घायल हो गई थी। उसे बाद में उपचार के लिए एम्स लाया गया था और उसका यहां इलाज जारी है। इस घटना में पीड़िता का वकील भी घायल हो गया था ।

एम्स में अस्थायी अदालत जय प्रकाश नारायण एपेक्स ट्रामा केंद्र की प्रथम मंजिल के सेमिनार हाल में बनाई गई है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने आदेशानुसार इस बात के पुख्ता प्रबंध किये गये हैं जिससे पीड़िता और आरोपी विधायक का आमना.सामना नहीं हो।

पीड़िता के बयान लेने की प्रक्रिया बंद कमरे में हो रही है और इस दौरान किसी तरह की आडियो-वीडियो रिकार्डिंग की पूरी तरह मनाही है। न्यायालय ने एम्स प्रशासन को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हुए हैं। मामले की सुनवाई के दौरान एम्स के सेमिनार हाल में लगे सीसीटीवी कैमरे भी बंद रहेंगे।

मिश्रा.श्रवण

वार्ता

More News
बुनियादी ढ़ांचा परियोजनाओं की समीक्षा की पीयूष ने

बुनियादी ढ़ांचा परियोजनाओं की समीक्षा की पीयूष ने

28 Feb 2020 | 11:20 PM

नयी दिल्ली 28 फरवरी (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने परियाेजना निगरानी समूह (पीएमजी) की अध्यक्षता करते हुए बुनियादी ढ़ांचा क्षेत्र की 17 परियोजनाओं के 36 विषयों की समीक्षा की है।

see more..
पुलवामा हमला मामले में एनआईए को मिली बड़ी सफलता

पुलवामा हमला मामले में एनआईए को मिली बड़ी सफलता

28 Feb 2020 | 11:14 PM

नयी दिल्ली, 28 फरवरी (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के पुलवामा हमला मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को शुक्रवार को उस समय एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब इसने आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर फिदायीन हमले की योजना बनाने में मदद करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

see more..

28 Feb 2020 | 11:14 PM

see more..
बैंक धोखाधड़ी मामलों में तीन स्थानों पर सीबाआई के छापे

बैंक धोखाधड़ी मामलों में तीन स्थानों पर सीबाआई के छापे

28 Feb 2020 | 11:14 PM

नयी दिल्ली, 28 फरवरी (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बैंकों के साथ करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी से जुड़े दो अलग-अलग मामलों में राजधानी के तीन स्थानों पर छापेमारी की है।

see more..
image