Sunday, Apr 22 2018 | Time 15:55 Hrs(IST)
image
image image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में कांग्रेस की अंतिम सूची जारी, सिद्दारामैया दो सीट से मैदान में
  • कर्नाटक में कांग्रेस की अंतिम सूची जारी, सिद्दारामैया दो सीट से मैदान में
  • भाजपा कर रही है दुष्कर्म के आरोपियों का संरक्षण: कांग्रेस
  • गुरु गोपी ने चुने 14 प्रतिभाशाली युवा
  • झांसी में थम नहीं रहा अपराधों का सिलसिला
  • भाजपा को झटका, बेलूर गोपालकृष्ण कांग्रेस में शामिल
  • सीताराम येचुरी फिर से चुने गए माकपा के महासचिव
  • भाजपा को झटका, बेलूर गोपालकृष्ण कांग्रेस में शामिल
  • महाभियोग प्रस्ताव पर राजनीति नहीं करे भाजपा: कांग्रेस
  • आईएस ने ली काबुल विस्फोट की जिम्मेदारी
  • एसएसबी ने जूडो क्लस्टर में जीती ओवरआल ट्रॉफी
  • अफगानिस्तान में आत्मघाती बम विस्फोट में 31 लोगों की मौत
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी Share

बैतूल के जंगलों में हो रही यूरेनियम की खोज

बैतूल के जंगलों में हो रही यूरेनियम की खोज

बैतूल, 16 मार्च (वार्ता) मध्यप्रदेश के बैतूल के जंगलों में इन दिनों वैज्ञानिक दुनिया के दुर्लभ परमाणु खनिज यूरेनियम की तलाश में जुटे हुए हैं। उत्तर वन मण्डल के वन मंडल अधिकारी संजीव झा ने बताया कि परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय (एएमडीईआर) को इस बारे में संकेत मिले थे, जिसके बाद जिले के शाहपुर वन क्षेत्र की 989.076 हैक्टेयर क्षेत्र में यूरेनियम का पता लगाने की अनुमति दी गई है। बड़े पैमाने पर बोरिंग की जा रही है और हेलीकाॅप्टर में अत्याधुनिक कैमरे लगा कर सर्वे शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि यह सतपुड़ा टाइगर रिजर्व व कॉरीडोर के निकट स्थित है। साथ ही पचमढ़ी बायोस्फियर रिजर्व की सीमा से 10 किमी की परिधि में है। यदि यहाँ यूरेनियम मिल जाता है तो बैतूल जिले का नाम दुनिया के पटल पर अंकित हो जाएगा। सूत्रों के मुताबिक परमाणु खनिज निदेशालय मध्यप्रदेश के साथ-साथ छत्तीसगढ़ के सूरजपुर तथा राजनांदगांव में भी इस दुर्लभ खनिज की तलाश कर रहा है। बैतूल में अलग-अलग 10 स्थान चिन्हित करके सर्वे किया जा रहा है। वन विभाग के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि निदेशालय से सर्वे का प्रस्ताव मिला था जिसे राज्य सरकार को भेजा गया, जहां से खोज की अनुमति मिली। यह संभवत: यूरेनियम खोज का प्रदेश में पहला प्रस्ताव है। भारत में आंध्रप्रदेश के तम्मलपल्ली और झारखंड के जादूगोडा में यूरेनियम की बड़ी खदानें हैं। यूरेनियम का मुख्य उपयोग परमाणु बम बनाने और बिजली उत्पादन में होता है। सं. गरिमा 11.06 वार्ता

More News
नयी राष्ट्रीय फ़ेलोशिप शुरू करेगा आईसीएसएसआर

नयी राष्ट्रीय फ़ेलोशिप शुरू करेगा आईसीएसएसआर

04 Feb 2018 | 12:27 PM

नयी दिल्ली 04 फरवरी (वार्ता) भारतीय सामाज विज्ञान अनुसंधान परिषद (आई सी एस एस आर) के अध्यक्ष डॉ बी बी कुमार ने देश की समस्यायों को सुलझाने वाले विषयों पर मौलिक शोध कार्यों पर जोर देते हुए कहा है कि वह इस संस्थान में पहले से चली आ रही गड़बड़ियों को ठीक करने में लगे है तथा नियमों का उल्लंघन कर दी गई शोध परियोजनाओं की जांच करवा रहे हैं।बिहार के बक्सर जिले के डुमरी गाँव मे जन्में डॉ कुमार ने यूनीवार्ता को एक विशेष भेंटवार्ता में यह भी कहा कि देश में शोध एवं अनुसंधान कार्यों का भी राजनीतिकीकरण हुआ है और एक ही विषय पर बार-बार शोध से दुहराव हुआ है। इसलिए आज मौलिक शोध कार्य करने की अधिक जरूरत है।

 Sharesee more..
महामारी का रूप ले सकता है मुंह का कैंसर

महामारी का रूप ले सकता है मुंह का कैंसर

04 Feb 2018 | 12:00 PM

नयी दिल्ली 04 फरवरी (वार्ता) देश में ओरल (मुंह) कैंसर जिस तरह से महामारी के रूप में फैल रहा है उसको देखते हुए समय रहते उचित कदम नहीं उठाए गए तो अकेले भारत में अगले तीन साल में करीब नौ लाख लोगों का असामयिक निधन हो सकता है।

 Sharesee more..
कम सुनने वालों के लिए ‘ हियरिंग एड ’ वरदान

कम सुनने वालों के लिए ‘ हियरिंग एड ’ वरदान

30 Jan 2018 | 12:53 PM

नयी दिल्ली 30 जनवरी (वार्ता) आंशिक अथवा पूर्ण रूप से सुन पाने में असमर्थ लोगों के लिए ‘ हियरिंग एड ’ न केवल वरदान साबित हुये हैं बल्कि उन्हें हीनता के अवसाद से छुटकारा दिला रहे हैं और इनका जितना जल्द इस्तेमाल शुरू कर दिया जाये उतना ही फायदेमंद है।

 Sharesee more..
मानवाें का क्लोन बनाने का इरादा नहीं: चीनी वैज्ञानिक

मानवाें का क्लोन बनाने का इरादा नहीं: चीनी वैज्ञानिक

29 Jan 2018 | 5:12 PM

बीजिंग,29 जनवरी(वार्ता) बंदर का क्लाेन बनाने वाले चीनी वैज्ञानिकों का कहना है कि उनका मानव क्लोन बनाने का कोई इरादा नहीं है।

 Sharesee more..
भारत में ‘समुद्री ज्ञान मंथन’ की व्यापक जरूरत: पर्रिकर

भारत में ‘समुद्री ज्ञान मंथन’ की व्यापक जरूरत: पर्रिकर

07 Nov 2017 | 8:24 PM

पणजी 07 नवंबर (वार्ता) गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने भारत की अर्थव्यवस्था में समुद्री संसाधनों के महत्व को रेखांकित करते हुए आज कहा कि इस क्षेत्र में व्यापक स्तर पर शोध किये जाने की जरूरत है।

 Sharesee more..
image