Friday, Apr 19 2019 | Time 23:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विराट शतक से बेंगलुरु को मिली दूसरी जीत
  • ओडिशा में कर्तव्य में लापरवाही को लेकर 14 चुनाव अधिकारी निलंबित
  • मां की पिटाई से घायल बेटे की मौत
  • फोटो कैप्शन-तीसरा सेट
  • मोदी को वोट देने का मतलब पाकिस्तान को वोट देना है: तृणमूल
  • मायावती ने कहा कि नमो की सरकार जा रही और जय भीम की आ रही है।
  • सोनिया, सतीश सहित पांच भारतीय मुक्केबाज जीते
  • सोनिया, सतीश सहित पांच भारतीय मुक्केबाज जीते
  • जेट एयरवेज की बंदी के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार: अखिलेश यादव
  • विराट का शतक, बेंगलुरु के 213
  • विराट का शतक, बेंगलुरु के 213
  • भाजपा ने बंगाल, ओडिशा और त्रिपुरा में निष्पक्ष चुनाव को लेकर आयोग को पत्र लिखा
  • भ्रष्टाचार में लिप्त बीजद सरकार को उखाड़ फेंके: राजनाथ
  • सत्ता का अर्थ सेवा करना है न कि जेब भरना : नीतीश
States


ण्ण्ण्ण्ण् नहीं रहे वीरेन दा

बरेली 28 सितंबर (वार्ता) हिन्दी कविता की नई पीढ़ी के सबसे चहेते और आदर्श कवि वीरेन डंगवाल का आज भोर यहां निधन हो गया। वह 68 वर्ष के थे, वीरेन दा के नाम से लोकप्रिय डा डंगवाल काफी समय से बीमार चल रहे थे। करीब तीन साल तक उपचार के सिलसिले में दिल्ली प्रवास के बाद वह पिछले रविवार को ही ण्ण्अपने शहर ण्ण् बरेली वापस लौटे थे। बरेली आने पर अगले दिन ही अचानक ज्यादा तबियत बिगडने पर 21 सितंबर को उनको यहां एसआरएमएस मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया थाएजहां आज तडके करीब चार बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके परिवार में पत्नी श्रीमती रीता डंगवाल के अलावा दो पुत्र प्रशांत और प्रफुल्ल का भरा पूरा परिवार है। साहित्य अकादमी द्वारा पुरस्कृत वीरेन दा पेशे से हिन्दी के प्रोफ़ेसर और शौक से बेइंतहा कामयाब पत्रकार थे। हिमांशु

image