Sunday, Nov 18 2018 | Time 09:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारत और ईरान ने की व्यापारिक सहयोग पर चर्चा
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 19 नवंबर)
  • इराक के साथ हों मजबूत संबंध: ईरान
  • अमेरिका ने खशोगी हत्या की ‘गलत’ रिपोर्ट का किया खंडन
  • आतंकियों के हमले में 18 सीरियाई सैनिकों की मौत
  • अमेरिका ने खशोगी हत्या की ‘गलत’ रिपोर्ट का किया खंडन
  • फ्रांस के प्रदर्शनों में घायलों की संख्या बढ़कर 227 हुई
  • सीरियाई शरणार्थियों का राष्ट्रीयकरण स्वीकार नहीं: लेबनान
  • फ्रांस में पेट्रोल, डीजल की मंहगाई को लेकर प्रदर्शन, एक की मौत, 106 घायल
  • 112वें नंबर की टीम जॉर्डन से कड़े संघर्ष में हारा भारत
भारत Share

विवेकानंद की प्रेरणा से नया भारत बनाना है : मोदी

विवेकानंद की प्रेरणा से नया भारत बनाना है : मोदी

नयी दिल्ली 11 सितम्बर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामी विवेकानंद की प्रेरणा से नये भारत के निर्माण का आह्वान करते हुये कहा है कि स्वामी जी ने आज से सवा सौ साल पहले अमेरिका में भारत की संस्कृति, सभ्यता और प्राचीन परंपरा का परचम पूरी दुनिया में लहराया था तथा आज हम उनके बताये रास्तों पर चलते हुये देश के लोगों में वह आत्मविश्वास और गौरव भरने का फिर से प्रयास कर रहे हैं।

स्वामी विवेकानंद के शिकागो विश्व धर्म सम्मेलन में दिये ऐतिहासिक भाषण के 125वीं जयंती समारोह को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुये श्री मोदी ने यह बात कही। समारोह का आयोजन कोयम्बटूर के रामकृष्ण मठ ने किया था।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि स्वामी विवेकानंद ने जब शिकागो में अपना भाषण दिया था उस समय सभागार में चार हजार लोग मौजूद थे। उन्होंने भारत के वैदिक दर्शन के बारे में दुनिया को बताया था। यह समारोह इस बात का प्रतीक है कि स्वामी जी के उस भाषण का कितना असर हुआ था और उस भाषण ने भारत के प्रति पश्चिम के दृष्टिकोण को न केवल बदला था बल्कि भारतीय दर्शन और विचार परंपरा को भी दुनिया में एक उचित स्थान मिला था।

श्री मोदी ने कहा कि आज भारत स्वामी विवेकानंद के उस दृष्टिकोण को अपनाकर पूर्ण आत्मविश्वास के साथ प्रगति कर रहा है और 125वीं जयंती समारोह में बड़ी संख्या में उपस्थित संतों के सात्विक गुणों तथा युवकों के उत्साह और ऊर्जा का मिलन भारत की वास्तविक ताकत को दर्शाता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें पता चला है कि समारोह के साथ ही स्वामी विवेकानंद के संदेशों के प्रसार के लिए स्कूलों और कॉलेजों में कई तरह की प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया है। युवा पीढ़ी केवल विचार-विमर्श ही नहीं करेगी बल्कि वह भारत के सामने उपस्थित चुनौतियों का हल निकालने का भी प्रयास करेगी। विवेकानंद ने भी ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ के दर्शन का प्रतिपादन किया था और भारतीय संस्कृति, दर्शन तथा प्राचीन परंपराओं का प्रकाश पूरी दुनिया में फैलाया था। उन्होंने देशवासियों में आत्मविश्वास की भावना जगायी थी और राष्ट्रप्रेम तथा खुद पर विश्वास करने का मंत्र भी दिया था।

अरविंद अजीत

वार्ता

More News

दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश का तबादला

18 Nov 2018 | 12:03 AM

नयी दिल्ली 17 नवंबर (वार्ता) दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश का तबादला करके उन्हें केन्द्र में दूरसंचार विभाग में भेज दिया गया है।

 Sharesee more..
ए बी पी पांडे राजस्व सचिव नियुक्त

ए बी पी पांडे राजस्व सचिव नियुक्त

17 Nov 2018 | 11:48 PM

नयी दिल्ली, 17 नवंबर (वार्ता) सरकार ने भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ए बी पी पांडे को राजस्व सचिव नियुक्त किया है।

 Sharesee more..
सिग्नेचर ब्रिज मामले में अमानतुल्ला खां को अग्रिम जमानत

सिग्नेचर ब्रिज मामले में अमानतुल्ला खां को अग्रिम जमानत

17 Nov 2018 | 8:22 PM

नयी दिल्ली 17 नवंबर(वार्ता) उत्तर पूर्वी दिल्ली में सिग्नेचर ब्रिज के चार नवंबर को उद्घाटन के दौरान भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी के साथ धक्का-मुक्की के मामले में आम आदमी पार्टी(आप) के विधायक अमनातुल्ला खां को अग्रिम जमानत मिल गई है ।

 Sharesee more..
सुभाष चंद्रा मानहानि मामले में केजरीवाल बरी

सुभाष चंद्रा मानहानि मामले में केजरीवाल बरी

17 Nov 2018 | 7:26 PM

नयी दिल्ली 17 नवंबर (वार्ता) दिल्ली की एक अदालत ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को राज्यसभा सांसद सुभाष चंद्रा की तरफ से दायर मानहानि मामले में बरी कर दिया है ।

 Sharesee more..
राजनाथ से सिद्धू को सुरक्षा कवर देने की मांग

राजनाथ से सिद्धू को सुरक्षा कवर देने की मांग

17 Nov 2018 | 7:20 PM

नयी दिल्ली,17 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस ने केंद्र सरकार से पूर्व क्रिकेटर तथा पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को सुरक्षा कवर देने की मांग की है।

 Sharesee more..
image