Friday, Jul 19 2019 | Time 07:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका ने इराक के चार नागरिकों पर लगाया प्रतिबंध
  • मैक्सिको में बस पलटने से 15 की मौत, 21 घायल
  • मैक्सिको में बस पलटने से 15 की मौत, 21 घायल
  • अफगानिस्तान में पुलिस थाना में हमला, 12 लोगों की मौत
  • तुर्की में बाढ़ से सात लोग लापता, 69 लोगों को बचाया गया
  • हवाई हमले में आईएस के छह आतंकवादी की मौत
मनोरंजन


जो भी हो तुम खुदा की कसम लाजवाब हो

जो भी हो तुम खुदा की कसम लाजवाब हो

.. जन्मदिवस 03 अगस्त के अवसर पर ..

मुंबई, 02 अगस्त (वार्ता) मशहूर शायर और गीतकार शकील बदायूं का अपनी जिंदगी के प्रति नजरिया उनकी रचित इन पंक्तियों मे समाया हुआ है।

... मै शकील दिल का हूँ तर्जुमा .कि मोहब्बतों का हूँ राजदान

मुझे फख्र है मेरी शायरी मेरी जिंदगी से जुदा नहीं।

उत्तर प्रदेश के बदांयू कस्बे में 03 अगस्त 1916 को जन्मे शकील अहमद उर्फ शकील बदायूंनी बीए पास करने के बाद वर्ष 1942 में वह दिल्ली पहुंचे जहां उन्होंने आपूर्ति विभाग मे आपूर्ति अधिकारी के रूप मे अपनी पहली नौकरी की। इस बीच वह मुशायरों में भी हिस्सा लेते रहे जिससे उन्हें पूरे देश भर में शोहरत हासिल हुई। अपनी शायरी की बेपनाह कामयाबी से उत्साहित शकील बदायूं ने नौकरी छोड़ दी और वर्ष 1946 मे दिल्ली से मुंबई आ गये। मुंबई में उनकी मुलाकात उस समय के मशहूर निर्माता ए.आर. कारदार उर्फ कारदार साहब और महान संगीतकार नौशाद से हुयी।

नौशाद के कहने पर शकील ने हम दिल का अफसाना दुनिया को सुना देंगे .हर दिल में मोहब्बत की आग लगा देंगे गीत लिखा। यह गीत नौशाद साहब को काफी पसंद आया जिसके बाद उन्हें तुंरत ही कारदार साहब की..दर्द ..के

लिये साईन कर लिया गया। वर्ष 1947 मे अपनी पहली ही फिल्म ..दर्द..के गीत .. अफसाना लिख रही हूं ..की अपार सफलता से शकील बदायूंनी कामयाबी के शिखर पर जा बैठे । शकील बदायूनी के फिल्मी सफर पर यदि एक नजर डालें तो पायेंगे कि उन्होंने सबसे ज्यादा फिल्में संगीतकार नौशाद के साथ ही की। उनकी जोड़ी प्रसिद्ध संगीतकार नौशाद के साथ खूब जमी और उनके लिखे गाने जबर्दस्त हिट हुये।

शकील बदायूंनी और नौशाद की जोड़ी वाले गीतों में कुछ है तू मेरा चांद मैं तेरी चांदनी, सुहानी रात ढल चुकी, वो दुनिया के रखवाले, मन तड़पत हरि दर्शन को, दुनिया में हम आयें है तो जीना ही पड़ेगा, दो सितारो का जमीं पे है मिलन आज की रात, मधुबन मे राधिका नाची रे, जब प्यार किया तो डरना क्या,नैन लड़ जइहें तो मन वा में कसक होइबे करी, दिल तोड़ने वाले तुझे दिल ढूंढ रहा है, तेरे हुस्न की क्या तारीफ करू, दिलरूबा मैने तेरे प्यार में क्या क्या न किया, कोई सागर दिल को बहलाता नहीं प्रमुख है।

शकील बदायूंनी को अपने गीतों के लिये तीन बार फिल्म फेयर अवार्ड से नवाजा गया। इनमें वर्ष 1960 में प्रदर्शित के चौदहवीं का चांद हो या आफताब हो वर्ष 1961 में ..घराना..के गीत हुस्न वाले तेरा जवाब नहीं और 1962 में बीस साल बाद में ..कहीं दीप जले कहीं दिल..गाने के लिये फिल्म फेयर अवार्ड से सम्मानित किया गया। फिल्मी गीतों के अलावा शकील बदायूंनी ने कई गायकों के लिये गजल लिखे हैं जिनमे पंकज उदास प्रमुख रहे हैं। लगभग 54 वर्ष की उम्र में 20 अप्रैल 1970 को शकील इस दुनिया को अलविदा कह गये।

प्रेम आजाद

वार्ता

More News
दबंग 3 से मेरा कोई संबंध नहीं: मलाइका अरोड़ा

दबंग 3 से मेरा कोई संबंध नहीं: मलाइका अरोड़ा

18 Jul 2019 | 12:47 PM

मुंबई 18 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा का कहना है कि फिल्म ‘दबंग 3’ से उनका कोई मतलब नहीं है।

see more..
मुन्ना भाई 3 की शूटिंग का बेसब्री से इंतजार : संजय दत्त

मुन्ना भाई 3 की शूटिंग का बेसब्री से इंतजार : संजय दत्त

18 Jul 2019 | 12:39 PM

मुंबई 18 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के माचो मैन संजय दत्त का कहना है कि वह मुन्ना भाई सीरीज की तीसरी फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

see more..
रीबॉक जैसे ब्रांड से जुड़ना अद्भुत : वरूण धवन

रीबॉक जैसे ब्रांड से जुड़ना अद्भुत : वरूण धवन

18 Jul 2019 | 12:32 PM

नई दिल्ली, 18 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो वरूण धवन का कहना है कि रीबॉक जैसे ब्रांड से जुड़ना उनके लिये अद्भुत अनुभव रहा है।

see more..
बॉलीवुड को अंतराष्ट्रीय स्तर पहचान दिलाई प्रियंका चोपड़ा ने

बॉलीवुड को अंतराष्ट्रीय स्तर पहचान दिलाई प्रियंका चोपड़ा ने

18 Jul 2019 | 12:19 PM

मुंबई 18 जुलाई(वार्ता) बॉलीवुड की देशी गर्ल प्रियंका चोपड़ा उन चुनिंदा अभिनेत्रियों में शुमार की जाती है जिन्होंने अभिनेत्रियों के महज शोपीस के तौर पर इस्तेमाल किये जाने की परंपरागत सोच को न सिर्फ बदला बल्कि बॉलीवुड को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी विशेष पहचान दिलाई।

see more..
मजेदार पारिवारिक ड्रामा थ्रिलर है फैमिली ऑफ ठाकुरगंज : नंदीश

मजेदार पारिवारिक ड्रामा थ्रिलर है फैमिली ऑफ ठाकुरगंज : नंदीश

17 Jul 2019 | 4:43 PM

पटना 17 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता नंदीश संधू का कहना है कि उनकी आने वाली फिल्म फैमिली ऑफ ठाकुरगंज मजेदार पारिवारिक ड्रामा थ्रिलर है, जो दर्शकों को बेहद पसंद आयेगी।

see more..
image