Monday, Jun 24 2019 | Time 18:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दिमागी बुखार के मामले में बिहार और उत्तर प्रदेश को उच्चतम न्यायलय ने दिया नोटिस
  • अभिभाषण में महापुरूषों के राष्ट्र निर्माण में योगदान की अनदेखी अस्वीकार्य
  • मलिक ने राजौरी सड़क हादसे पर जताया शोक
  • अफगानिस्तान में 78 तालिबानी आतंकवादी मारे गये
  • 21 जुलाई को होगा जूनागढ़ मनपा का चुनाव
  • मेहुली 10 मी राइफल और चिंकी 25 मी पिस्टल में जीतीं
  • चिकित्सा सेवा कर्मियों की सुरक्षा के लिए पंजाब का कानून चंडीगढ़ यूटी में लागू होगा
  • जल्द ही ई-चिप वाले पासपोर्ट जारी होंगे
  • मंगोलिया में पांच लोगों की नदी में डूबने से मौत
  • राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बने रहना चाहिए: खूंटिया
  • स्लो ओवर रेट के लिए न्यूजीलैंड टीम पर जुर्माना
  • स्लो ओवर रेट के लिए न्यूजीलैंड टीम पर जुर्माना
  • शाहजहांपुर में युवक की हत्या,गुस्साये परिजनों ने हत्यारोपी के भाई को मार दिया
  • अफगानिस्तान में आठ तालिबानी आतंकवादी ढेर
  • सोने से बनायी गयी सूक्ष्म विश्वकप ट्रॉफी
राज्य


भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति पर करें कार्य : लालजी

भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति पर करें कार्य : लालजी

पटना 10 सितंबर (वार्ता) बिहार के राज्यपाल एवं कुलाधिपति लालजी टंडन ने आज अधिकारियों से कहा कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति पर काम होना चाहिए।

श्री टंडन ने यहां राजभवन में आयोजित समीक्षा बैठक में राज्यपाल सचिवालय के सभी अधिकारियों को कहा कि राज्यपाल सचिवालय, विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में पूरी तरह भ्रष्टाचारमुक्त और तत्परतापूर्वक कार्यों का निष्पादन होना चाहिए। भ्रष्टाचार के विरूद्ध बिल्कुल जीरो टाॅलरेन्स की नीति पर कार्य होना चाहिए। उन्होने कहा कि राजभवन की गरिमा बनाये रखने के लिए टीम भावना से कार्य किया जाना चाहिए। राज्यपाल सचिवालय या विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय कार्यालयों में प्रत्येक कार्य पूरी पारदर्शिता, ईमानदारी एवं निर्धारित समयसीमा के तहत होना चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को अपना शत प्रतिशत प्रदर्शन करना होगा और शुरू की जाने वाली प्रत्येक योजनाओं एवं कार्यक्रमों को सफलता की अंतिम परिणति तक पहुंचाया जाना चाहिए। उन्हाेंने कहा कि प्रशासन बिल्कुल निष्पक्षतापूर्वक चलता है। इस प्रशासनिक तंत्र की कमजोर कड़ी, जो तेजी से अपेक्षित परिणाम देने में बाधक होगी, उसे चिह्नित कर आवश्यक कार्रवाई की जायेगी।

सूरज रमेश

जारी (वार्ता)

image