Saturday, Sep 22 2018 | Time 05:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वेनेजुएला के खिलाफ अमेरिका करेगा कार्रवाई : पोम्पेओ
  • न्यूयॉर्क में तीन नवजात बच्चों,दो लोगों पर चाकू से हमला
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • मलिक के कमाल से पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया
  • राष्ट्रपति ने नौका हादसे की जांच का दिया आदेश
  • नन से दुष्कर्म का आरोपी बिशप मुलक्कल गिरफ्तार
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

मथुरा में योगी ने किया 346 करोड़ 74 लाख की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

मथुरा में योगी ने किया 346 करोड़ 74 लाख की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

मथुरा, 31 अगस्त (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को यहां 346 करोड़ 74 लाख की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण करते हुए कहा कि प्रदेश के चार तीर्थस्थलों का इस प्रकार विकास किया जाएगा कि तीर्थयात्री वहां पर आने के लिए लालाइत रहे।

अक्षय पात्र मंदिर वृन्दावन में ब्रज विकासोत्सव के आयोजन के अवसर पर मुख्यमंत्री ने जहां 52 करोड़ 39 लाख 93 हजार की योजनाओं का लोकार्पण किया वहीं 294 करोड़ 35 लाख सात हजार की योजनाओं का शिलान्यास किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि ब्रज के विकास के लिए पैसे की कमी नहीं होने दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि भारत को ब्रज क्षेत्र ने अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलायी है । इसलिए ब्रज का आध्यात्मिक परिवेश बनाए रखने के लिए यहां की संस्कृति का संरक्षण एवं संवर्धन आवश्यक है क्योकि ब्रज क्षेत्र की पहचान यहां की अनूठी संस्कृति से है। प्रभुपाद ने विश्व में ब्रज संस्कृति की ध्वजा फहराई जिसे यहां के संतो ने बरकरार रखा है। ब्रज की संस्कृति विश्व में सबसे पुरानी है। दुनिया में कोई देश नहीं जिसकी संस्कृति इतनी पुरानी है। राधा और कृष्ण की लीलाओं के स्थल यहां आज भी मौजूद हैं। ब्रज भक्ति और साधना का इतना अनूठा स्थल है कि दुनिया के लोग यहां आने के लिए लालाइत रहते हैं। रसखान ने तो यहां तक कह दिया था कि वह ब्रज में किसी भी रूप में अगले जन्म में रहना चाहते हैं।

श्री योगी ने कहा कि वाह्य पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए यहां पर सालिड वेस्ट मैनेजमेन्ट योजना लागू की जा रही है लेकिन इसकी सफलता नागरिकों के सहयोग पर निर्भर है । अकेले नगर निगम इसे नहीं कर सकता है।

सं त्यागी

जारी वार्ता

image