Tuesday, Sep 18 2018 | Time 20:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285
  • एनएसयूआई के प्रदेशाध्यक्ष अभिमन्यू पूनिया हमले में घायल
  • शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285
  • फोटो कैप्शन-दूसरा सेट
  • संविधान सर्वोच्च, ‘हिन्दू राष्ट्र’ में मुसलमानों की भी जगह : भागवत
  • पंजाब की 22 जिला परिषदों, 150 पंचायत समितियों के चुनाव कल
  • झारखंड की स्वास्थ्य परियोजनाओं को मिलेगा पूर्ण सहयोग : नड्डा
  • अवैध हथियार की आपूर्ति करने वाला सरगना गिरफ्तार
  • इंफोसिस को पूर्व सीएफओ को 12 करोड़ देने का निर्देश
  • पेंशनभोगियों की सहूलियत के लिए किये गये अनेक सुधार : जितेंद्र
  • मैडम तुसाद में सनी लियोन ने अपने पुतले का किया अनावरण
  • खालसा कालेज ने क्रास कंट्री में हासिल किया पहला स्थान
  • खालसा कालेज ने क्रास कंट्री में हासिल किया पहला स्थान
  • तारांकित प्रश्नों का निर्धारित अवधि से पहले ही उत्तर देकर फिर रचा इतिहास
  • आठ संसदीय समितियों का पुनर्गठन
दुनिया Share

जाकिर नाईक ने मलेशिया सरकार को धन्यवाद दिया

जाकिर नाईक ने मलेशिया सरकार को धन्यवाद दिया

कुआलालम्पुर 12 जुलाई (वार्ता) अपने उग्र और भड़काऊ भाषणाें के कारण विवादों में रहने वाले मुस्लिम धर्म उपदेशक जाकिर नाईक ने उसे भारत सरकार को प्रत्यर्पित नहीं करने के लिए मलेशिया सरकार काे धन्यवाद दिया है और भारत सरकार की जमकर आलोचना की है।

मलेशियाई समाचार पत्र ‘ द स्ट्रैट टाइम्स” ने नाईक का हवाला देते हुए कहा“ मेरे खिलाफ कोई भी सबूत जुटाने में नाकाम रहने के कारण भारत सरकार ने कुछ ऐसी वीडियों क्लिपों अौर संदर्भ से बाहर कही गई बातों का सहारा लिया ताकि मुझे अातंकवाद , भड़काऊ भाषण देने और काले धन को वैध बनाने का दोषी ठहराया जा सके।”

नाईक ने यह दावा भी किया कि जो कोई भी बयान भारत सरकार मेरा कह रही है और जिसे मानवता के खिलाफ बता रही है वे सच नहीं है और इनके साथ छेड़छाड़ की गई है।

नाईक ने मलेशिया सरकार काे धन्यवाद देते हुए कहा “ इस फैसले से मेरी आस्था यहां की न्यायपालिका और सरकार के प्रति काफी मजबूत होती है और यह इसकी बहुविविधता का प्रमाण है। मैं कभी भी एेसा कोई काम नहीं करूंगा जिससे मलेशिया सरकार के कानून का उल्लंघन होता हो अथवा जिससे कोई असंतुलन पैदा होता हो।”

गौरतलब है कि मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर माेहम्मद ने पिछले सप्ताह यह कहकर नाईक काे भारत को प्रत्यर्पित करने से मना कर दिया था कि जब तक वह मलेशिया सरकार के लिए कोई दिक्कत खड़ी नहीं कर रहा है, तब तक उसे प्रत्यर्पित नहीं किया जाएगा, क्योंकि उसे मलेशिया की नागरिकता प्राप्त है।

भारत सरकार ने जाकिर को आतंकी गतिविधियों और मनी लांड्रिंग के मामलों में वांछित बताया है। लेकिन, जाकिर ने बयान दिया कि जब तक उसे कथित रूप से अनुचित अभियोजन का डर लगा रहेगा, वह भारत नहीं लौटेगा।

जितेन्द्र

वार्ता

More News
पाकिस्तान के स्कूल में झंडा फराने के दौरान करंट लगने से चार मरे

पाकिस्तान के स्कूल में झंडा फराने के दौरान करंट लगने से चार मरे

18 Sep 2018 | 5:42 PM

इस्लामाबाद 18 सितम्बर (वार्ता) पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एक निजी स्कूल में आज झंडा फहराने के दौरान करंट लगने से एक शिक्षक और तीन छात्रों की मौत हो गयी।

 Sharesee more..
image