Wednesday, Oct 16 2019 | Time 22:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सायना और श्रीकांत पहले दौर में बाहर, समीर प्रीक्वार्टर में
  • कांग्रेस के कर्नाटक से रास सदस्य राममूर्ति का इस्तीफा
  • बेंगलुरु को चित कर दिल्ली पहली बार फाइनल में
  • संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवम्बर से शुरू होने की संभावना
  • उप्र में त्यौहारों के मद्देनजर 30 नवम्बर तक अधिकारियों का अवकाश नहीं हो स्वीकृत
  • जालौन:ट्रक ने मारी बाइक को टक्कर , दो की मौत एक घायल
  • बिहार में नहरों, तटबंधों और जलाशयों की ड्रोन से होगी निगरानी
  • झारखंड विधानसभा चुनाव में 21 सीटों पर प्रत्याशी खड़े करेगा फॉरवर्ड ब्लॉक
  • बिहार में युवती की सिर कटी लाश समेत छह शव बरामद
  • फोटो कैप्शन: दूसरा सेट
  • भारत को महान देश बनाने में महाराष्ट्र का बहुत बड़ा योगदान: मोदी
  • सेल्फी लेने के चक्कर में पार्वती नदी में गिरीं दो लड़कियां, एक लापता
  • शाओमी ने नोट 8 सीरीज के फोन लांच किये
  • जस्टिस मिश्रा को सुनवाई से अलग करने की अर्जी पर बुधवार को फैसला
Parliament


‘50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था’ सिर्फ गणित का गुना भाग नहीं: सीतारमण

‘50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था’ सिर्फ गणित का गुना भाग नहीं: सीतारमण

नयी दिल्ली, 13 जुलाई (वार्ता) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारतीय अर्थव्यवस्था के वर्ष 2024-25 तक 50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाये जाने को लेकर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के आरोपों को खारिज करते हुये शुक्रवार को कहा कि यह सिर्फ साहूकारी और कुछ वर्षाें में अर्थव्यवस्था के बढ़ने से संभव नहीं हो सकता है बल्कि इसके लिए महंगाई, मुद्रा विनिमय दर और राजस्व घाटे को नियंत्रण में रखना होता है।
श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आम बजट पर राज्यसभा में हुयी चर्चा का जबाव देते हुये कहा कि यदि यह सिर्फ अंकगणितीय गुना भाग होता होता तो कांग्रेस के 60 वर्षाें के कार्यकाल में भी संभव हो गया होता है। उन्होंने कहा कि सभी सामाजिक कल्याण कार्याें के आवंटन में बढोतरी के साथ ही वित्तीय अनुशासन का पालन करते हुये राजस्व घाटा को सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की तुलना में 3़ 3 प्रतिशत पर रखते हुये अर्थव्यवस्था को गति देने के उपाय किये गये हैं। इसमें सभी वर्गाें को ध्यान में रखा गया है।
उन्होंने कहा कि 50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का जो रोडमैप पेश किया गया है उससे अगले कुछ वर्षाें के लिए विभिन्न क्षेत्रों में काम करने का लक्ष्य भी दिया गया है और इसको हासिल किये बगैर इस लक्ष्य को हासिल नहीं किया जा सकता है।
उन्होंने श्री चिदंबरम द्वारा आयकर और जीएसटी संग्रह के लक्ष्य को लेकर दिये गये आंकड़ों का तुलनात्मक व्याख्या करते हुये कहा कि पूर्व वित्त मंत्री ने सिर्फ व्यक्तिगत आयकर का उल्लेख किया है जबकि इसमें प्रतिभूति लेनदेन कर(एसटीटी) और कार्पोरेट कर भी शामिल होता है। इसके मद्देनजर बजट में जो लक्ष्य रखे गये हैं वे हासिल करने योग्य है। इसी तरह से जीएसटी का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता की श्री चिदंबरम ने जीएसटी राजस्व में 45 प्रतिशत की बढोतरी से जुड़े लक्ष्य के आंकड़े पेश किये जबकि बजट में इसमें सिर्फ 14.1 प्रतिशत की बढोतरी का लक्ष्य रखा गया है जिसे हासिल किया जा सकता है।
शेखर सत्या
जारी. वार्ता

More News
ऐतिहासिक विधेयकों को पारित कराकर संसद का सत्र संपन्न

ऐतिहासिक विधेयकों को पारित कराकर संसद का सत्र संपन्न

07 Aug 2019 | 5:05 PM

नयी दिल्ली, 07अगस्त (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे से संबंधित संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाने के ऐतिहासिक संकल्प,राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने संबंधी विधेयक तथा तीन तलाक जैसे महत्वपूर्ण विधेयकों और बजट को पारित कराने के साथ ही संसद का सत्र बुधवार को संपन्न हो गया।

see more..
उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या बढाने वाले विधेयक पर संसद की मुहर

उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या बढाने वाले विधेयक पर संसद की मुहर

07 Aug 2019 | 4:24 PM

नयी दिल्ली, 07 अगस्त (वार्ता) उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या 30 से बढ़ाकर 33 करने वाले विधेयक को आज राज्यसभा ने बिना चर्चा के सर्वसम्मति से पारित कर दिया जिससे इस पर संसद की मुहर लग गयी।

see more..
राज्यसभा में हुआ रिकॉर्ड कामकाज: नायडू

राज्यसभा में हुआ रिकॉर्ड कामकाज: नायडू

07 Aug 2019 | 3:44 PM

नयी दिल्ली 07 अगस्त (वार्ता) राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने 249 वें सत्र के दौरान सदन में रिकाॅर्ड कामकाज होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा कि इस बार 33 विधेयक पास हुए और सौ प्रतिशत से अधिक कामकाज हुआ जिसके लिए सत्तारूढ़ गठबंधन और विपक्ष दोनों बधाई के पात्र हैं।

see more..
कांग्रेस के विरोध के कारण अटका जलियांवाला बाग न्यास विधेयक

कांग्रेस के विरोध के कारण अटका जलियांवाला बाग न्यास विधेयक

07 Aug 2019 | 3:14 PM

नयी दिल्ली 07 अगस्त (वार्ता) विपक्षी दल कांग्रेस के विरोध के कारण जलियांवाला बाग राष्ट्रीय स्मारक (संशोधन) विधेयक आज राज्यसभा में पारित नहीं हो सका।

see more..
image