Wednesday, Jan 22 2020 | Time 22:02 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दहेज में बाइक नहीं देने पर विवाहिता की हत्या
  • हेमंत ने सात ग्रामीणों की हत्या की जांच के लिए दिया एसआईटी गठित करने का आदेश
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • महिला सशक्तीकरण पर आधारित फिल्म है ‘छोटकी ठकुराइन’
  • महाराष्ट्र ने 256 पदकों के साथ बरकरार रखा अपना खिताब
  • महाराष्ट्र ने 256 पदकों के साथ बरकरार रखा अपना खिताब
  • मनोरंजन संग संदेश देगी ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ : आयुष्मान
  • राजपथ पर दिखेगी यूपी के सर्वधर्म समभाव की झलक
  • पटना में बनेगा 25 हजार अभ्यर्थियों के बैठने की क्षमता वाला परीक्षा केंद्र
  • धर्मेंद्र प्रधान ने सेल की ‘सर्विस स्कीम’ की लांच
  • पुलवामा में एक आतंकवादी ढेर, दो जवान शहीद
  • सीएए: अमरिंदर ने केंद्र की तुलना नाज़ी सरकार से की, बादल को भेजी ‘मीन कैम्फ‘ की प्रति
  • फुटबॉलर पीके बनर्जी अस्पताल में भर्ती
मनोरंजन


जन्म के बाद पिता मीना को अनाथालय छोड़ आये

जन्म के बाद पिता मीना को अनाथालय छोड़ आये

(जन्मदिवस 01 अगस्त )

मुंबई 31 जुलाई (वार्ता) अपने दमदार और संजीदा अभिनय से सिने प्रेमियों के दिलों पर छा जाने वाली ट्रेजडी क्वीन मीना कुमारी को उनके पिता अनाथालय छोड़ आये थे।

एक अगस्त 1932 का दिन था। मुंबई में एक क्लीनिक के बाहर मास्टर अली बक्श नाम के एक शख्स बड़ी बेसब्री से अपनी तीसरी औलाद के जन्म का इंतजार कर रहे थे। दो बेटियों के जन्म लेने के बाद वह दुआ कर रहे थे कि अल्लाह इस बार बेटे का मुंह दिखा दे। तभी अंदर से बेटी होने की खबर आयी तो वह माथा पकड़ कर बैठ गये। मास्टर अली बख्श ने तय किया कि वह बच्ची को घर नहीं ले जायेंगे और वह बच्ची को अनाथालय छोड़ आये लेकिन बाद में उनकी पत्नी के आंसुओं ने बच्ची को अनाथालय से घर लाने के लिये उन्हें मजबूर कर दिया। बच्ची का चांद सा माथा देखकर उसकी मां ने उसका नाम रखा ‘माहजबीं”। बाद में यही माहजबीं फिल्म इंडस्ट्री में मीना कुमारी के नाम से मशहूर हुयी।

वर्ष 1939 मे बतौर बाल कलाकार मीना कुमारी को विजय भट्ट की “लेदरफेस” में काम करने का मौका मिला। वर्ष 1952 मे मीना कुमारी को विजय भट्ट के निर्देशन में ही बैजू बावरा में काम करने का मौका मिला। फिल्म की सफलता के बाद मीना कुमारी बतौर अभिनेत्री फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने मे सफल हो गयी। वर्ष 1952 मे मीना कुमारी ने फिल्म निर्देशक कमाल अमरोही के साथ शादी कर ली।

वर्ष 1962 मीना कुमारी के सिने करियर का अहम पड़ाव साबित हुआ। इस वर्ष उनकी आरती, मैं चुप रहूंगी और साहिब बीबी और गुलाम जैसी फिल्में प्रदर्शित हुयी। इसके साथ ही इन फिल्मों के लिये वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिये नामित की गयी। यह फिल्म फेयर के इतिहास मे पहला ऐसा मौका था जहां एक अभिनेत्री को फिल्म फेयर के तीन नोमिनेशन मिले थे।

वर्ष 1964 मे मीना कुमारी और कमाल अमरोही की विवाहित जिंदगी में दरार आ गयी। इसके बाद वह और कमाल अमरोही अलग अलग रहने लगे। कमाल अमरोही की फिल्म “पाकीजा” के निर्माण में लगभग चौदह वर्ष लग गये। कमाल अमरोही से अलग होने के बावजूद उन्होंने शूटिंग जारी रखी क्योंकि उनका मानना था कि पाकीजा जैसी फिल्मों में काम करने का मौका बार-बार नहीं मिलता। मीना कुमारी के करियर में उनकी जोड़ी अशोक कुमार के साथ काफी पसंद की गयी। उनको उनके बेहतरीन अभिनय के लिये चार बार फिल्म फेयर के सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार से नवाजा गया है। इनमें बैजू बावरा, परिणीता, साहिब बीबी और गुलाम और काजल शामिल है।

मीना कुमारी यदि अभिनेत्री नहीं होती तो शायर के रूप में अपनी पहचान बनाती। हिंदी फिल्मों के जाने माने गीतकार और शायर गुलजार से एक बार मीना कुमारी ने कहा था ये जो एक्टिग मैं करती हूं उसमें एक कमी है, ये फन, ये आर्ट मुझसे नहीं जन्मा है, ख्याल दूसरे का, किरदार किसी का और निर्देशन किसी का। मेरे अंदर से जो जन्मा है, वह लिखती हूं जो मैं कहना चाहती हूं वह लिखती हूं।

मीना कुमारी ने अपनी वसीयत में अपनी कविताएं छपवाने का जिम्मा गुलजार को दिया जिसे उन्होंने “नाज” उपनाम से छपवाया। सदा तन्हा रहने वाली मीना कुमारी ने अपनी रचित एक गजल के जरिये अपनी जिंदगी का नजरिया पेश किया है।

.. चांद तन्हा है आसमां तन्हा

दिल मिला है कहां कहां तन्हा

राह देखा करेगा सदियों तक

छोड़ जायेगें ये जहां तन्हा ..

लगभग तीन दशक तक अपने संजीदा अभिनय से दर्शको के दिल पर राज करने वाली हिन्दी सिने जगत की महान अभिनेत्री मीना कुमारी 31 मार्च 1972 को सदा के लिये अलविदा कह गयी। मीना कुमारी के करियर की अन्य उल्लेखनीय फिल्में है जिनमें आजाद, एक ही रास्ता, यहूदी, दिल अपना और प्रीत पराई, कोहीनूर, दिल एक मंदिर, चित्रलेखा, फूल और पत्थर, बहू बेगम, शारदा, बंदिश, भींगी रात, जवाब,दुश्मन आदि शामिल हैं।

 

More News
48 वर्ष की हुईं नम्रता शिरोड़कर

48 वर्ष की हुईं नम्रता शिरोड़कर

22 Jan 2020 | 12:26 PM

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री एवं पूर्व मिस इंडिया नम्रता शिरोड़कर बुधवार को 48 वर्ष की हो गयी।

see more..
लव आजकल में सलमान के सुपरफैन होंगे कार्तिक आर्यन

लव आजकल में सलमान के सुपरफैन होंगे कार्तिक आर्यन

22 Jan 2020 | 12:19 PM

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन अपनी आने वाली फिल्म लव आजकल में दबंग स्टार सलमान खान के सुपरफैन बने नजर आयेंगे।

see more..
खुद को मीठा खाने से रोकती हैं दिशा पाटनी

खुद को मीठा खाने से रोकती हैं दिशा पाटनी

22 Jan 2020 | 12:12 PM

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री दिशा पाटनी खुद को मीठा खाने से रोकती है और इसके लिये उन्होंने स्पेशल ट्रिक अपनायी है।

see more..
प्रियंका दुनिया की सबसे सक्सेसफुल और इंस्पिरेशनल 100 महिलाओं में शामिल

प्रियंका दुनिया की सबसे सक्सेसफुल और इंस्पिरेशनल 100 महिलाओं में शामिल

22 Jan 2020 | 12:07 PM

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा दुनिया की सबसे सक्सेसफुल और इंस्पिरेशनल 100 महिलाओं में शामिल की गयी है।

see more..
image