Wednesday, Jan 23 2019 | Time 23:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर संघर्षविराम का उल्लंघन किया
  • नाईजीरिया सैनिकों ने 58 डकैतों को मार गिराया
  • काला सागर मे जहाज दुघर्टना में छह भारतीयों की मौत
  • भारत की अर्थव्यवस्था को समावेशी अर्थव्यवस्था बनाना जरूरी - कमलनाथ
  • सीबीआई ने गुजरात में पेसो अधिकारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • सवा साल में यमुना होगी निर्मल : गडकरी
  • चाल धंसने से चार मजदूरों की मौत
  • संबद्ध महाविद्यालय के शिक्षकों को मिली उत्तर पुस्तिका मूल्यांकन की अनुमति
  • अलियेव को हराकर बजरंग ने पंजाब रॉयल्स को दिलाई जीत
  • अलियेव को हराकर बजरंग ने पंजाब रॉयल्स को दिलाई जीत
  • फोटाे कैप्शन दूसरा सेट
  • पवार की मौजूदगी में राकांपा का दामन थामेंगे वाघेला
  • पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों का अतिरिक्त प्रभार
  • महिला जूनियर हॉकी टीम शिविर के लिए 33 संभावित घोषित
दुनिया Share

अमेरिका को रूस के साथ शिखर बैठक से खास उम्मीद नहीं

अमेरिका को रूस के साथ शिखर बैठक से खास उम्मीद नहीं

वाशिंगटन 16 जुलाई (रायटर) अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जोन बोलटोन ने कहा सोमवार को अमेरिका और रूस के साथ होने वाली शिखर बैठक से उन्हें कोई खास उम्मीद नहीं है

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सोमवार को हेलसिंकी में उनकी मुलाकात होगी। जनवरी 2017 में श्री ट्रम्प के पद संभालने के बाद से उनकी यह पहली बैठक होगी।

अमरीकी टीवी नेटवर्क सीबीएस से बातचीत में श्री ट्रंप ने कहा है रूसी राष्ट्रपति से मुलाक़ात से कुछ बुरा नहीं होगा और हो सकता है कि शायद कुछ अच्छे परिणाम निकले, पर इस मुलाक़ात से मुझे बड़ी उम्मीदें नहीं हैं।

रूस के अमेरिकी राजदूत जॉन हंट्समैन ने “फॉक्स न्यूज संडे’ के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि दोनों पक्ष की बैठक से ज्यादा उम्मीद न ही करें।

श्री हंट्समैन ने कहा “यह तथ्य है कि इस तरह की वार्तालाप के लिए हमारे देश के प्रमुख यहां एक साथ मिल रहे हैं जो कि एक बड़ी बात है।” शिखर सम्मेलन बैठक में दोनों नेताओं की अन्य चीजों, परमाणु प्रसार और सीरिया में संघर्ष पर चर्चा करने की उम्मीद है।

श्री ट्रम्प ने कहा कि वह वर्ष 2016 के अमरीकी चुनाव के दौरान कथित रूप से हैकिंग में शामिल 12 रूसी लोगों की बात उठायेंगे। लेकिन पुतिन ने बार-बार इस बात से इंकार करते रहे हैं। हालांकि श्री ट्रम्प ने उनके प्रत्यर्पण के बारे में अभी कुछ नहीं सोचा है।

सीबीएस साक्षात्कार में श्री ट्रम्प ने ओबामा प्रशासन और डेमोक्रेटिक पार्टी पर हैकिंग के लिए जिम्मेदार ठहराया, रूस को नहीं।

बोल्टन ने रविवार को कहा कि उन्हें यह विश्वास नहीं हो रहा है कि श्री पुतिन को रूसी खुफिया अधिकारियों की कथित भूमिका के प्रयासों के बारे में पता नहीं है। जबकि रूसी खुफिया अधिकारियों की इसमें कथित भूमिका रही है।

रायटर

उप्रेती

image