Thursday, Nov 21 2019 | Time 23:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जेएनयू छात्रों की मांग जायज : दीपंकर
  • छत्तीसगढ़ में कार दुर्घटना में आठ लोगों की मौत
  • बाइक और हाइवा की टक्कर में दो की मौत, दो घायल
  • भारत ने करतारपुर तीर्थयात्रियों पर शुल्क माफी का मुद्दा उठाया
  • दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत
  • सीईसी ने की झारखंड विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा
  • कार से साढ़े पांच लाख नकद जब्त
  • सेविका से 25 हजार रिश्वत लेते सीडीपीओ गिरफ्तार
  • एसिड अटैक जघन्य अपराध पर उच्च न्यायालय गंभीर
  • दिल्ली के नकली जीरे के तार शाहजहांपुर से जुड़े,दो गोदाम सीज
  • झामुमो छोड़ आजसू में आई वर्षा गाड़ी रांची से लड़ेंगी चुनाव
  • शाह ने झारखंड में बोला झूठ, नक्सल मुक्त नहीं हुआ प्रदेश : कांग्रेस
  • योगी ने प्रदान की 450 बीमार लोगों को आर्थिक सहायता
  • यू पी टीईटी 2017 का परिणाम दो माह में घोषित करें-उच्च न्यायालय
  • शिवसेना नेताओं के खिलाफ वकील ने दर्ज करायी शिकायत
भारत


गोरखपुर की आयशा खान “एक दिन की उच्चायुक्त” बनी

गोरखपुर की आयशा खान “एक दिन की उच्चायुक्त” बनी

नयी दिल्ली, 10 अक्टूबर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के गोरखपुर की आयशा खान को ब्रिटेन की “एक दिन का उच्चायुक्त” प्रतियोगिता का विजेता घाेषित किया गया है।

दिल्ली विश्वविद्यालय के एसजीटीबी खालसा कॉलेज की पत्रकारिता स्नातक सुश्री खान को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित एक प्रतियोगिता में विजय घोषित किया गया। इससे वह सांकेतिक रूप से एक दिन के लिए भारत में ब्रिटेन का उच्चायुक्त बनी। इस प्रतियोगिता में 18 से 23 वर्ष की लड़कियाें को आमंत्रित किया गया था। यह प्रतियोगिता लैंगिक समानता के लिए आयोजित की गयी थी। सुश्री खान ने यह प्रतियोगिता जीतने के बाद राजधानी के प्रीतम पुरा एपीजे स्कूल का दौरा किया जहां ब्रिटिश काउंसिल लैंगिक मुद्दे पर कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। उन्होंने असंगठित क्षेत्र की कई महिलाओं से मुलाकात भी की और फेसबुक पर एक विचार-विमर्श कार्यक्रम भी आयोजित किया। वह गुरु जमबेश्वर विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन में एम ए कर रही है। वह अहिंसा, समानता और मानवाधिकार मुद्दों पर काफी सक्रिय रहती है।

बाइस वर्षीय सुश्री खान को इस प्रतियोगिता की विजयी बनने के बाद ब्रिटेन के गणमान्य लोगों के साथ मुलाकात करने और कई सत्रों की अध्यक्षता करने का अवसर प्राप्त हुआ है।

भारत मेें ब्रिटेन के उप-उच्चायुक्त सर डोमिनिक एसक्विथ ने कहा है कि उन्होंने आयशा के साथ काम करने में काफी प्रसन्नता जतायी। उन्होंने कहा कि सुश्री खान ने कई मुद्दाें पर विश्वासपूर्वक संवेदनशील और कुशल तरीके से बातचीत की। उन्हें उम्मीद में सुश्री खान को अच्छा अनुभव प्राप्त हुआ होगा। इस प्रतियोगिता से भारत और ब्रिटेन में लैगिंक समानता को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।

इससे पहले यह प्रतियोगिता दो बार आयोजित की जा चुकी है।

अरविंद.श्रवण

वार्ता

More News
केज कल्चर से मत्स्य पालन हो :गिरिराज

केज कल्चर से मत्स्य पालन हो :गिरिराज

21 Nov 2019 | 11:13 PM

नयी दिल्ली 21 नवम्बर (वार्ता) पशुपालन एवं मत्स्यपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने केज कल्चर विधि से मत्स्य पालन करने पर जोर देते हुए गुरुवार को कहा कि इस तकनीक से मत्स्य उत्पादन बढाया जा सकता है ।

see more..
लगातार बैठे  रहने से  पल्मोनरी एम्बोलिस्म  से मौत का खतरा,टाइट जीन्स भी जिम्मेदार

लगातार बैठे रहने से पल्मोनरी एम्बोलिस्म से मौत का खतरा,टाइट जीन्स भी जिम्मेदार

21 Nov 2019 | 10:51 PM

नयी दिल्ली 21 नवंबर (वार्ता) देश में दिल के दौरे से मौत के बाद सर्वाधिक मौतें पल्मोनरी एम्बोलिस्म (फेफड़ों की धमनियों में रक्त की आपूर्ति बाधित)से हाेती हैं और बहुत देर तक बैठे रहने और बेहद टाइट जींस पहनने वाले व्यक्ति इसकी चपेट में आकर मौत के शिकार हो सकते हैं।

see more..
आंकड़ों और प्रक्रिया तक सीमित न रहे कैग : मोदी

आंकड़ों और प्रक्रिया तक सीमित न रहे कैग : मोदी

21 Nov 2019 | 10:42 PM

नयी दिल्ली 21 नवम्बर (वार्ता) भारतीय अर्थव्यवस्था को 50 खरब डालर तक पहुंचाने में नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग ) की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि इस संगठन को केवल आंकड़ों और प्रक्रिया तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए बल्कि सुशासन के ‘माध्यम’ के रूप में आगे आना चाहिए।

see more..
महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे

महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे

21 Nov 2019 | 9:43 PM

नयी दिल्ली, 21 नवंबर (वार्ता) महाराष्ट्र में कांग्रेस तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेताओं के बीच पिछले कुछ दिनों से चल रहे बैठक के दौर के बाद शिव सेना के साथ गठबंधन सरकार बनने के आसार बढ गये हैं और शुक्रवार को इस बारे में घोषणा की जा सकती है।

see more..
लगातार बैठे  रहने से  पल्मोनरी एम्बोलिस्म  से मौत का खतरा,टाइट जीन्स भी जिम्मेदार

लगातार बैठे रहने से पल्मोनरी एम्बोलिस्म से मौत का खतरा,टाइट जीन्स भी जिम्मेदार

21 Nov 2019 | 9:43 PM

नयी दिल्ली 21 नवंबर (वार्ता) देश में दिल के दौरे से मौत के बाद सर्वाधिक मौतें पल्मोनरी एम्बोलिस्म (फेफड़ों की धमनियों में रक्त की आपूर्ति बाधित)से हाेती हैं और बहुत देर तक बैठे रहने और बेहद टाइट जींस पहनने वाले व्यक्ति इसकी चपेट में आकर मौत के शिकार हो सकते हैं।

see more..
image