Sunday, Sep 23 2018 | Time 22:06 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मानव तस्करी का प्रमुुुख केन्द्र बना पूर्वोतर: मीर
  • राहुल गांधी 27 और 28 को रीवा तथा सतना जिले के दौरे पर रहेंगे
  • रमन ने की आंध्र के विधायक और पूर्व विधायक की हत्या की निन्दा
  • क्रिकेट प्रतियोगिताओं में प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के भत्तों में वृदि्ध
  • छोटा उदेपुर में नदी में डूबने से दो युवकों की मौत
  • जम्मू कश्मीर में 90:10 के अनुपात से होगा बीमा योजना के तहत भुगतान
  • कांग्रेस सभी वर्गों को लेकर चलती है साथ- पायलट
  • मुजफ्फरपुर के पूर्व महापौर और उनके चालक की हत्या
  • कायेस और महमूदुल्लाह के अर्धशतकों से बंगलादेश के 249
  • संंप्र्रग सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का श्रेय ले रहे हैं प्रधानमंत्री: जेना
  • आदिवासियों के नाम पर हुई वोट बैंक की राजनीति : रघुवर
  • पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती
  • आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा
  • करंट लगने से मजदूर की मौत, छह घायल
  • अपराधियों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
खेल Share

रेड बॉल क्रिकेट में गेंदबाजों की चुनौती अधिक: चहल

रेड बॉल क्रिकेट में गेंदबाजों की चुनौती अधिक: चहल

बेंगलुरू, 14 अगस्त (वार्ता) भारतीय लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कहा है कि सीमित प्रारूप की तुलना में टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजों को अधिक दिमाग लगाकर और रणनीति के साथ गेंदबाजी करनी पड़ती है क्योंकि बल्लेबाज़ इसमें आक्रामकता नहीं बल्कि ठहराव के साथ खेलते हैं।

चहल की लगभग दो वर्ष बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी हुई है, वह हाल में दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ समाप्त चार दिवसीय मैच में भारत ए का हिस्सा थे जिसे मेजबान टीम ने 1-0 से जीत लिया। अलुर में दूसरे मैच के बाद चहल ने कहा,“ मेरे लिये दो वर्ष बाद बड़े प्रारूप में खेलना आसान नहीं है। मुझे खुद को इसके अनुरूप ढालने के लिये समय की जरूरत है क्योंकि बल्लेबाजों पर अधिक दबाव नहीं होता है।”

उन्होंने कहा,“ वनडे और ट्वंटी 20 में रन रेट अधिक होता है और बल्लेबाज आक्रामकता से खेलते हुये आउट हो जाते हैं। लेकिन टेस्ट प्रारूप में आपको अपनी सूझबूझ से ही बल्लेबाजों को आउट करना होता है क्योंकि वह बहुत धीमे रेट से खेलते हैं।”

भारत ए के लिये सीरीज़ में चहल का प्रदर्शन संतोषजनक रहा जिन्होंने दो गैर आधिकारिक टेस्टों में 55.75 के औसत से चार विकेट निकाले। उन्होंने कहा,“आपको रेड बॉल के साथ दिमाग लगाने की जरूरत होती है क्याेंकि यहां आप 30 से 35 ओवर तक गेंदबाजी करते हैं जबकि टी-20 में आपको केवल चार ओवर करने होते हैं।”

28 वर्षीय स्पिनर ने आखिरी बार 2016 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला था लेकिन उन्हें भारत के लिये टेस्ट प्रारूप में अधिक माैका नहीं मिला, हालांकि सीमित ओवर प्रारूप में वह चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के साथ राष्ट्रीय टीम के नियमित खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा कि वह 2016 से ही सीमित ओवर खेल रहे हैं लेकिन टेस्ट में समय नहीं मिला। चहल ने कहा,“ यदि आप रेड बॉल से खेलते हैं तो आपकी गेंदबाजी में सुधार होता है और दिमाग तेज होता है। आपको उन परिस्थितियों में खुद को ढालने का मौका मिलता है जहां स्पिनरों को अधिक मदद नहीं मिलती है।”

 

More News
भारत ने छह स्वर्ण के साथ जीता ट्रैक एशिया कप

भारत ने छह स्वर्ण के साथ जीता ट्रैक एशिया कप

23 Sep 2018 | 9:26 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) भारतीय साइक्लिस्टों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को अंतिम दिन इंदिरा गांधी स्टेडियम काम्प्लेक्स स्थित साइक्लिंग वेलोड्रोम में छह स्वर्ण सहित 13 पदक जीतकर ट्रैक एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया।

 Sharesee more..
झारखंड को 6-0 से पीटकर दिल्ली क्वार्टरफाइनल में

झारखंड को 6-0 से पीटकर दिल्ली क्वार्टरफाइनल में

23 Sep 2018 | 9:20 PM

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) दिल्ली ने झारखंड को रविवार को 6-0 से पीटकर ओडिशा के कटक में खेली जा रही सीनियर राष्ट्रीय महिला फुटबॉल प्रतियोगिता के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया।

 Sharesee more..
हरियाणा ने जम्मू-कश्मीर को तीन विकेट से हराया

हरियाणा ने जम्मू-कश्मीर को तीन विकेट से हराया

23 Sep 2018 | 8:36 PM

चेन्नई, 23 सितम्बर (वार्ता) कप्तान अमित मिश्रा की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से हरियाणा ने जम्मू-कश्मीर को विजय हजारे ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी के मैच में रविवार को तीन विकेट से हरा दिया।

 Sharesee more..

पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती

23 Sep 2018 | 8:35 PM

 Sharesee more..
image