Thursday, Sep 19 2019 | Time 06:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्रीलंका में 16 नवंबर को होंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव
  • हौथी विद्रोहियों ने दुबई, अबू धाबी में दी हमले की धमकी
  • चुनाव नतीजे के कारण संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाग नहीं लेंगे नेतन्याहू : रिपोर्ट
  • बंगलादेश ने रोहिंग्या संकट सुलझाने के लिए वैश्विक प्रयास की मांग की
  • खड्ड में गिरकर सगे भाइयों की हुई मौत
  • ट्रंप ने रोबर्ट ओ-ब्रायन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया
  • समर्थ सिंह बने यूपी की विजय हजारे टीम के कप्तान
खेल


रेड बॉल क्रिकेट में गेंदबाजों की चुनौती अधिक: चहल

रेड बॉल क्रिकेट में गेंदबाजों की चुनौती अधिक: चहल

बेंगलुरू, 14 अगस्त (वार्ता) भारतीय लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कहा है कि सीमित प्रारूप की तुलना में टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजों को अधिक दिमाग लगाकर और रणनीति के साथ गेंदबाजी करनी पड़ती है क्योंकि बल्लेबाज़ इसमें आक्रामकता नहीं बल्कि ठहराव के साथ खेलते हैं।

चहल की लगभग दो वर्ष बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी हुई है, वह हाल में दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ समाप्त चार दिवसीय मैच में भारत ए का हिस्सा थे जिसे मेजबान टीम ने 1-0 से जीत लिया। अलुर में दूसरे मैच के बाद चहल ने कहा,“ मेरे लिये दो वर्ष बाद बड़े प्रारूप में खेलना आसान नहीं है। मुझे खुद को इसके अनुरूप ढालने के लिये समय की जरूरत है क्योंकि बल्लेबाजों पर अधिक दबाव नहीं होता है।”

उन्होंने कहा,“ वनडे और ट्वंटी 20 में रन रेट अधिक होता है और बल्लेबाज आक्रामकता से खेलते हुये आउट हो जाते हैं। लेकिन टेस्ट प्रारूप में आपको अपनी सूझबूझ से ही बल्लेबाजों को आउट करना होता है क्योंकि वह बहुत धीमे रेट से खेलते हैं।”

भारत ए के लिये सीरीज़ में चहल का प्रदर्शन संतोषजनक रहा जिन्होंने दो गैर आधिकारिक टेस्टों में 55.75 के औसत से चार विकेट निकाले। उन्होंने कहा,“आपको रेड बॉल के साथ दिमाग लगाने की जरूरत होती है क्याेंकि यहां आप 30 से 35 ओवर तक गेंदबाजी करते हैं जबकि टी-20 में आपको केवल चार ओवर करने होते हैं।”

28 वर्षीय स्पिनर ने आखिरी बार 2016 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला था लेकिन उन्हें भारत के लिये टेस्ट प्रारूप में अधिक माैका नहीं मिला, हालांकि सीमित ओवर प्रारूप में वह चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के साथ राष्ट्रीय टीम के नियमित खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा कि वह 2016 से ही सीमित ओवर खेल रहे हैं लेकिन टेस्ट में समय नहीं मिला। चहल ने कहा,“ यदि आप रेड बॉल से खेलते हैं तो आपकी गेंदबाजी में सुधार होता है और दिमाग तेज होता है। आपको उन परिस्थितियों में खुद को ढालने का मौका मिलता है जहां स्पिनरों को अधिक मदद नहीं मिलती है।”

 

More News
भारत ने तुर्कमेनिस्तान को 5-0 से हराया

भारत ने तुर्कमेनिस्तान को 5-0 से हराया

18 Sep 2019 | 11:44 PM

ताशकंद, 18 सितम्बर (वार्ता) भारत की युवा टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए श्एएफसी अंडर- 16 फुटबाल चैम्पियनशिप क्वालीफायर्स के ग्रुप बी के अपने पहले मैच में तुर्कमेनिस्तान को बुधवार को 5-0 से हरा दिया।

see more..
यू मुम्बा ने यूपी योद्धा को दी 39-36 से मात

यू मुम्बा ने यूपी योद्धा को दी 39-36 से मात

18 Sep 2019 | 11:44 PM

पुणे, 18 सितंबर (वार्ता) यू मुम्बा ने यूपी योद्धा को बुधवार को पुणे के श्री शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, बालेवाड़ी में खेले गए 95वें मैच में 39-36 से हरा दिया।

see more..
विराट अर्धशतक से भारत ने जीता पहला टी-20

विराट अर्धशतक से भारत ने जीता पहला टी-20

18 Sep 2019 | 11:44 PM

मोहाली, 18 सितम्बर (वार्ता) विराट कोहली की नाबाद 72 रन की कप्तानी पारी से भारत ने दक्षिण अफ्रीका को दूसरे ट्वंटी-20 मुकाबले में बुधवार को सात विकेट से पराजित कर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

see more..
दिनेश मोंगिया ने क्रिकेट से लिया संन्यास

दिनेश मोंगिया ने क्रिकेट से लिया संन्यास

18 Sep 2019 | 9:43 PM

नयी दिल्ली, 18 सितंबर (वार्ता) पूर्व भारतीय ऑलराउंडर और 2003 विश्वकप टीम का हिस्सा दिनेश मोंगिया ने बुधवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से रिटायरमेंट लेने की घोषणा कर अपने क्रिकेट करियर पर विराम लगा दिया।

see more..
image