Thursday, Feb 21 2019 | Time 11:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ढाका में इमारत में आग, 70 की मौत
  • वेनेजुएला शक्तिशाली राष्ट्र बनेगा: मादुरो
  • डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद लाएंगे आपातकाल खत्म करने का प्रस्ताव
  • ट्रम्प ने लगायी आईएस में शामिल महिला के स्वदेश लौटने पर रोक
  • रामपुर में दो पक्षों के बीच मारपीट एवं फायरिंग में दो की मृत्यु,एक घायल
  • ढाका में इमारत में आग, 69 की मौत
  • उन्नाव में बस पलटने से दो बच्चों समेत छह की मृत्यु, 12 घायल
  • मोदी द्विपक्षीय वार्ता के लिए दक्षिण कोरिया पहुंचे
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 फरवरी)
  • बंगलादेश: ढाका में इमारत में आग, 45 की मौत
  • किम जोंग के साथ और मुलाकातों की उम्मीद : ट्रम्प
  • इराक में घुसपैठ करने वाले आईएस के 24 आतंकवादी हिरासत में
  • तुर्की में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान विस्फोट, पांच सैनिक घायल
  • पाकिस्तान ने राजौरी में संघर्ष विराम उल्लंघन कर की गोलीबारी
  • पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से कश्मीर में शांति बाधित : डीजीपी
लोकरुचि Share

कुशीनगर की बेटियां बनी हिम्मत और जज्बे की मिसाल

कुशीनगर की बेटियां बनी हिम्मत और जज्बे की मिसाल

कुशीनगर 26 जनवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश में कुशीनगर के कसया क्षेत्र में सैलून चलाकर परिवार का भरण पोषण करने वाली दो सगी बहनें हिम्मत और जज्बे की मिसाल बन चुकी है।

दरअसल, सैलून चलाकर परिवार का भरण पोषण करने वाले ध्रुव को फालिज होते ही मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा मगर उसकी दो पुत्रियों ने हिम्मत और जज्बे की अनूठी मिसाल पेश करते हुये पिता के छोटे से व्यवसाय को अपना कर परिवार को भुखमरी की कगार से बचा लिया। उनके इस काम की चहुंओर प्रशंसा हो रही है।

जिले के कसया नगर पालिका के बनवारी टोला निवासी ध्रुव नारायन शर्मा गुमटी में सैलून चलाते थे जिससे नौ सदस्यों के परिवार गुजर बसर करता था। करीब तीन साल पहले ध्रुव को फालिज मार गया और वह बिस्तर पर पड़ गये। घर में झांकती भूख से व्याकुल ज्योति ने बड़ी हिम्मत दिखाते हुये पिता का सैलून खुद चलाने का फैसला कर लिया। बाद में बहन नेहा भी साथ देने लगी।

लड़कियों को ग्राहकों की दाढ़ी-बाल बनाते देखते तो कुछ दंग रह जाते तो कुछ ताने देते। क्या-क्या न सुना। न केवल वे लाचार पिता का सहारा बन गईं बल्कि विपरीत परिस्थितियों में हौसले और संघर्ष का प्रतीक भी। जिसने जिंदगी की लाचारियों पर जीत दर्ज की। सगी बहनों ज्योति शर्मा (18) और नेहा शर्मा (16) का पूरे क्षेत्र में अभिनंदन हो रहा है। इनके जज्बे को सलाम करना अपने आप में गवाह होना चाहिए। सबने कहा, इन बेटियां कुशीनगर की शान हैं। एक वादा ऐसा कि पिता की आंखें छलक पड़ीं । बीमार पिता ध्रुव नारायण शर्मा ने बेटी ज्योति और नेहा पर नाज जताया।

ध्रुव नारायन शर्मा की सात बेटियों में रंजना, बबिता, कविता और ममता की शादी हो चुकी है। ज्योति जब छोटी थी, तभी दुकान पर पिता के काम में हाथ बंटाती थी। तीन साल पहले पिता के शरीर के बाएं हिस्से में फालिज पड़ा। वह काम करने लायक नहीं रहे, तब ज्योति ने इंटर करने के बाद पढ़ाई छोड़ घर का खर्च चलाने के लिए पिता का सैलून संभाल लिया। उसकी मदद को 11 वीं में पढने वाली बहन नेहा भी आ गई। लोगों की आलोचना से बेपरवाह दोनों बहनें अपने काम में जुटी रहीं।

समाजसेवी डॉक्टर जेपी शर्मा की मदद वे कसया में ब्यूटीशियन का कोर्स कर रही हैं। छोटी गुंजन (15) दसवीं में है।ज्योति का कहना है कि हम समाज को यह बताना चाहते हैं कि बेटी और बेटों में कोई फर्क नहीं होता। कोई ऐसा काम नहीं है, जो बेटियां नहीं कर सकी।

More News
राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

12 Feb 2019 | 10:47 AM

पटना 12 फरवरी (वार्ता) राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के रॉकबैंड पाटिलीपुत्रा ओपन एयर तले परफाॅर्म करने जा रहे हैं।

 Sharesee more..
आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

12 Feb 2019 | 10:08 AM

बड़वानी, 12 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के बड़वानी से कुछ दूर बड़वानी खुर्द की ए एन एम चंद्रलता सोलंकी निराले अंदाज में टीकाकरण का संदेश देकर आकर्षण का केंद्र बिंदु बनी हुई है।

 Sharesee more..
औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

11 Feb 2019 | 4:44 PM

औरंगाबाद 11 फरवरी (वार्ता) बिहार में औरंगाबाद जिले के ऐतिहासिक पौराणिक और धार्मिक स्थल देव को पर्यटन के राष्ट्रीय मानचित्र पर सुस्थापित करने तथा देसी-विदेशी सैलानियों को आकर्षित करने के उद्देश्य से दो दिवसीय देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से शुरू होगा।

 Sharesee more..
तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

05 Feb 2019 | 4:43 PM

इटावा, 05 फरवरी (वार्ता) शहरीकरण की अंधाधुंध रफ्तार के बीच लगभग गायब हो चुकी रंग बिरंगी तितलियों ने चंबल घाटी को सतरंगी बना रखा है।

 Sharesee more..
image