Wednesday, Aug 21 2019 | Time 20:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फिसड्डी टीम पुणेरी ने चैंपियन बेंगलुरु कोे लुढ़काया
  • मेरे और किसी परिजन के खिलाफ कोई आरोप नहीं : चिदम्बरम
  • हिंदू युवा वाहिनी के सन्नी राजा हत्याकांड का ईनामी आरोपी गिरफ्तार
  • राज ठाकरे के समर्थन में उतरे उद्धव ठाकरे
  • मनु गाँधी की डायरी का गुरुवार को होगा लोकार्पण
  • भाजपा में शामिल होने के दो दिन बाद ही पलटे गुजराती लोक गायक, कहा- किसी एक दल का नहीं होता कलाकार
  • सीबीआई, ईडी की लुकाछिपी के बीच चिदम्बरम पहुंचे कांग्रेस मुख्यालय
  • भारत, एस्टोनिया ने व्यापार, तकनीकी सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की
  • चिदम्बरम प्रेस कांफ्रेंस के लिए कांग्रेस दफ्तर पहुंचे।
  • उत्तराखंड में आपदा के बाद पांच जलविद्युत परियोजनाएं बंद
  • ‘ट्रंप ने मैक्रों से जी-7 शिखर सम्मेलन पर की चर्चा
  • मथुरा से पांच तस्कर गिरफ्तार 66 लाख की शराब बरामद
  • कंपनी विलय के संबंध में नियत तिथि और अधिग्रहण तिथि पर सर्कुलर
  • हैदराबाद को दूसरी राजधानी बनाने की रिपोर्टों का खंडन
  • सिंधू आसान जीत के साथ तीसरे दौर में
खेल


दिल्ली के दिग्गज क्रिकेटर राकेश शुक्ला का निधन

दिल्ली के दिग्गज क्रिकेटर राकेश शुक्ला का निधन

नयी दिल्ली, 29 जून (वार्ता) दिल्ली के दिग्गज क्रिकेटर और पूर्व भारतीय टेस्ट खिलाड़ी राकेश शुक्ला का शनिवार को निधन हो गया। वह 71 वर्ष के थे।

अपने समय के बेहतरीन लेग स्पिनर माने जाने वाले शुक्ला ने भारत की तरफ से एक टेस्ट खेला था और प्रथम श्रेणी करियर में उन्होंने 121 मैच खेले थे। शुक्ला ने हालांकि भारत की तरफ से एक ही टेस्ट खेला लेकिन उन्हें इंग्लिश काउंटी क्रिकेट में खेलने का अपार अनुभव था।

शुक्ला ने क्रिकेट से संन्यास के बाद दिल्ली क्रिकेट की कोच, मैनेजर और चयनकर्ता के रुप में सेवा की थी।

राकेश चंद्र शुक्ला का जन्म उत्तर प्रदेश के कानपुर में चार फरवरी 1948 को हुआ था। वह अपने करियर में भारत, बंगाल और दिल्ली की तरफ से खेले थे। उन्होंने अपना एकमात्र टेस्ट चेन्नई में श्रीलंका के खिलाफ सितंबर 1982 में खेला था।

दिल्ली क्रिकेट के मजबूत स्तंभ माने जाने वाले शुक्ला ने इस एकमात्र टेस्ट में कुल 152 रन देकर दो विकेट हासिल किए थे। उन्होंने 121 प्रथम श्रेणी मैचों में 3798 रन बनाने के अलावा 295 विकेट हासिल किए थे। उनका प्रथम श्रेणी करियर 1969 से लेकर 1986 तक चला था। उन्होंने 23 लिस्ट ए मैचों में 14 विकेट हासिल किए थे।

रणजी ट्राफी में उनका काफी शानदार रिकॉर्ड था और उन्हें एक बेहतरीन ऑलराउंडर माना जाता था। लेकिन इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद उन्हें भारत की तरफ से एक से ज्यादा मैच खेलने का मौका नहीं मिल पाया।

उनके करियर का सबसे यादगार क्षण उस समय आया था जब 1981-82 में कर्नाटक के खिलाफ रणजी ट्राफी के फाइनल में उन्होंने राजेश पीटर के साथ नौंवें विकेट के लिए 118 रन की अविजित साझेदारी की थी और दिल्ली को कर्नाटक के 705 रन के विशाल स्कोर के खिलाफ शानदार खिताबी जीत दिलाई थी।

 

More News
ईस्ट बंगाल को शूट कर केरल पहली बार डूरंड के फाइनल में

ईस्ट बंगाल को शूट कर केरल पहली बार डूरंड के फाइनल में

21 Aug 2019 | 8:35 PM

कोलकाता, 21 अगस्त (वार्ता) गोकुलम केरल एफसी ने बुधवार को सेमीफाइनल मुकाबले में 16 बार की विजेता टीम ईस्ट बंगाल को पेनल्टी शूटआउट में हराकर पहली बार डूरंड कप फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली।

see more..
चैंपियन मणिपुर ने पश्चिम बंगाल स्कूल को हराया

चैंपियन मणिपुर ने पश्चिम बंगाल स्कूल को हराया

21 Aug 2019 | 8:15 PM

नयी दिल्ली, 21 अगस्त (वार्ता) गत चैंपियन मणिपुर की यूनीक मॉडल अकादमी ने सुब्रतो कप फुटबॉल टूर्नामेंट में अपने अभियान की शानदार शुरुआत करते हुए अंडर-14 के पूल डी में पश्चिम बंगाल स्कूल को 4-0 से हरा दिया।

see more..
सिंधू आसान जीत के साथ तीसरे दौर में

सिंधू आसान जीत के साथ तीसरे दौर में

21 Aug 2019 | 7:54 PM

बासेल, 21 अगस्त (वार्ता) गत रजत पदक विजेता भारत की पीवी सिंधू ने विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में अपने अभियान की शानदार शुरुआत करते हुए चीनी ताइपे की पाई यू पो को लगातार गेमों में बुधवार को 21-14, 21-15 से हराकर तीसरे दौर में जगह बना ली।

see more..
बीएसएफ के जवानों ने जीते 31 स्वर्ण सहित 57 पदक

बीएसएफ के जवानों ने जीते 31 स्वर्ण सहित 57 पदक

21 Aug 2019 | 7:41 PM

नयी दिल्ली, 21 अगस्त (वार्ता) देश की प्रथम रक्षा पंक्ति में तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवान खेल के मैदानों में भी प्रथम पंक्ति में अपना नाम दर्ज करा रहे हैं और चीन के चेंगदू में आयोजित 18वें ‘वर्ल्ड पुलिस एंड फायर गेम्स’ में इन सीमा प्रहरियों ने अपनी क्षमता का लोहा मनवाते हुए 31 स्वर्ण सहित कुल 57 पदक जीत लिए।

see more..
image