Saturday, Apr 20 2019 | Time 16:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • लखनऊ कैंट में तैनात नायक मनोज सिंह बिष्ट ने फांसी लगाकर दी जान
  • नौसेना के विध्वंसक पोत इम्फाल का जलावतरण
  • सिद्धू की नोटबंदी और जीएसटी पर मोदी को चुनौती
  • बराड़ बने शिअद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष
  • अगर भाजपा सत्ता में आयी तो कांग्रेस जिम्मेदार: आप
  • प्रज्ञा भारती को कलेक्टर भोपाल ने नोटिस जारी किया
  • चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेब-सीरीज पर प्रतिबंध लगाया
  • बलियानाला: प्रशासन ने दिये 65 भवनों को खाली करने के निर्देेश
  • 200 सीटें भी नहीं जीत पायेगा राजग, चुनाव के बाद भूतपूर्व प्रधामंत्री बन जायेंगे मोदी - अहमद पटेल
  • बैट की संस्थापक मैगी अमृतराज का निधन
  • सत्ती पर चुनाव आयोग की कार्रवाई उचित: राठौर
  • पांड्या-राहुल पर 20-20 लाख रूपये का जुर्माना
  • मोदी ने ‘समावेशी विकास का हाईवे’ तैयार किया: नकवी
  • मोदी चुनिंदा उद्योगपतियों के चौकीदार, जनता दूसरा मौका नहीं देगी : राहुल
  • साध्वी प्रज्ञा ने शहीदों का अपमान किया : आशा कुमारी
दुनिया


आईएस ने ली काबुल आत्मघाती बम हमले की जिम्मेदारी

आईएस ने ली काबुल आत्मघाती बम हमले की जिम्मेदारी



काहिरा 23 जुलाई (रायटर) आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने काबुल में आत्मघाती बम हमले को अंजाम देने की जिम्मेदारी ली है। आईएस की समाचार एजेंसी अमाक ने यह जानकारी दी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, आईएस ने कहा है कि अफगानिस्तान के निर्वासित उप राष्ट्रपति अब्दुल राशिद दोस्तम को निशाना बनाकर राजधानी काबुल हवाई अड्डे के नजदीक किये गये आत्मघाती बम हमले को अंजाम दिया गया। उप राष्ट्रपति के स्वागत में आत्मघाती हमलावर को विस्फोटकों से भरी जैकेट दी गयी। फिदायीन हमलावर ने श्री दोस्तम के आगमन के अवसर पर मनाये जा रहे जश्न के बीच विस्फोट करके खुद को उड़ा लिया। इसके अलावा आईएस ने इस संबंध में कोई अन्य जानकारी नहीं दी।

श्री दोस्तम रविवार को स्वदेश लौटने के कुछ ही समय बाद राजधानी काबुल के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास एक आत्मघाती हमले में बाल-बाल बचे गये थे लेकिन हमले में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक घायल हो गए।

पुलिस ने बताया कि काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास जिस समय यह आत्मघाती हमला हुआ उस समय श्री दोस्तम सरकारी अधिकारियों और समर्थकों की एक बड़ी भीड़ के साथ हवाई अड्डे से निकल रहे थे।

श्री दोस्तम के प्रवक्ता बशीर अहमद तयांज ने बताया कि दोस्तम का काफिला निकलने के दौरान विस्फोट की आवाज सुनाई दी। वह बख्तरबंद वाहन से चल रहे थे और सुरक्षित हैं।

गौरतलब है कि श्री दोस्तम मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों के कारण पिछले साल के मई से तुर्की में निर्वातसित थे।

दिनेश

रायटर

More News
अफगानिस्तान में 10 आतंकवादी ढ़ेर, आठ गिरफ्तार

अफगानिस्तान में 10 आतंकवादी ढ़ेर, आठ गिरफ्तार

20 Apr 2019 | 2:28 PM

काबुल 20 अप्रैल (शिन्हुआ) अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांतों में पिछले 24 घंटों के दौरान सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 10 आतंकवादी मारे गये जबकि आठ आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

see more..
पेरू के पूर्व राष्ट्रपति को तीन साल की जेल

पेरू के पूर्व राष्ट्रपति को तीन साल की जेल

20 Apr 2019 | 2:28 PM

लीमा 20 अप्रैल (शिन्हुआ) पेरू की एक अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति पेड्रो पाबलो कुजिंस्की को भ्रष्टाचार के मामले में तीन वर्ष कारावास की सजा सुनाई है।

see more..
नये साम्राज्यवादियों को हरा कर दम लेंगे: मादुरो

नये साम्राज्यवादियों को हरा कर दम लेंगे: मादुरो

20 Apr 2019 | 9:59 AM

काराकस 20 अप्रैल (शिन्हुआ) वेनेजुएला के मौजूदा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने कहा है कि उनका देश अपनी स्वतंत्रता को बनाए रखने और संपदा की रक्षा करने के लिए साम्राज्यवादियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है तथा उन्हें हरा कर ही दम लेगा।

see more..
image