Wednesday, Nov 21 2018 | Time 23:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी गरीबों के साथ क्रूर मजाक : भाकपा-माले
  • राज्यपाल ने जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग की
  • बंदी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
  • रेल परियोजनाओं के कार्य में लायें तेजी : रघुवर
  • नवीन ने मोदी को पोलावरम परियोजना बंद करने के लिए पत्र लिखा
  • मसानजोर टूरिस्ट कॉम्पलेक्स का शीघ्र होगा लोकार्पण
  • मिर्जापुर में दूसरे दिन भी अराजक तत्वों ने किया कई जगह पथराव
  • अमित शाह ने किया बीकानेर में रोड शो
  • ट्रैक्टर से कुचलकर एक की मौत
  • गुजरात में नदी से मिले जनधन योजना के खातों के 350 से अधिक एटीएम कार्ड
  • अखनूर में पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया
  • अखनूर में पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया
  • एसटीएफ ने मुठभेड़ में किए दो पेशेवर लुटेरे गिरफ्तार
  • कांग्रेस के नेता सत्ता का मक्खन खाने को बेकरार: तोमर
India Share

माल्या प्रकरण में मोदी-जेटली की चुप्पी पैदा करती है संदेह : कांग्रेस

माल्या प्रकरण में मोदी-जेटली की चुप्पी पैदा करती है संदेह : कांग्रेस

नयी दिल्ली 14 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि बैंकों के नौ हजार करोड़ रुपए लेकर फरार शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर पिछले 48 घंटे में जो तथ्य सामने आए हैं, उन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली की चुप्पी से जाहिर होता है कि इस आर्थिक अपराधी को भगाने में उनकी भूमिका रही है।
कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) जिस तरह से माल्या को बचाने में लगे रहे वह चिंता का विषय है और प्रधानमंत्री तथा वित्त मंत्री को इस बारे में जवाब देना चाहिए। माल्या की फरारी कैसे हुई इसको लेकर जो रहस्योदघाटन हो रहे हैं उन पर श्री मोदी और श्री जेटली की तरफ से कोई जवाब नहीं आ रहा है और यह संदेह पैदा करता है कि माल्या को भगाने में उनका हाथ रहा है।
उन्होंने कहा कि श्री जेटली संसद भवन के कॉरिडोर में विजय माल्या से मुलाकात की बात कर रहे हैं लेकिन कांग्रेस नेता पी एल पुनिया दावा कर रहे हैं कि उन्होंने श्री जेटली और माल्या को संसद के केंद्रीय कक्ष में बैठकर लम्बी बातचीत करते हुए देखा है। देश के प्रतिष्ठित प्रशासनिक अधिकारी रहे श्री पुनिया सम्मानित राजनेता हैं और वह कह रहे हैं कि लंदन जाने से पहले माल्या ने श्री जेटली से लम्बी बात की है। उनकी चुनौती है कि सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग देखी जाए और यदि वह गलत साबित हुए तो राजनीति छोड़ देंगे।
प्रवक्ता ने कहा कि इस मामले में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि माल्या के साथ मुलाकात की बात श्री जेटली अब स्वीकार कर रहे हैं जबकि उसे भागे ढाई साल से ज्यादा हो चुके हैं। इस दौरान राज्यसभा में इस मुद्दे पर चर्चा भी हुई है और श्री जेटली सदन के नेता हैं लेकिन उन्होंने यह खुलासा उस समय भी नहीं किया। पिछले 30 माह के दौरान उन्होंने यह उल्लेख कहीं नहीं किया कि माल्या उनसे मिला था।
उन्होंने सवाल किया कि श्री जेटली को बताना चाहिए कि इतने लम्बे समय तक इस मुद्दे पर उनकी चुप्पी की असली वजह क्या है। साथ ही पिछले 48 घंटे के दौरान इस प्रकरण में जो भी रहस्य खुलकर सामने आ रहे हैं उनको लेकर वह चुप क्यों है। उन्होंने कहा कि देश जानना चाहता है कि माल्या को भगाने में किसका सहयोग रहा है।
अभिनव सचिन
वार्ता

More News
नोटबंदी का रबी अभियान पर असर नहीं हुआ था :कृषि मंत्रालय

नोटबंदी का रबी अभियान पर असर नहीं हुआ था :कृषि मंत्रालय

21 Nov 2018 | 6:40 PM

नयी दिल्ली 21 नवम्बर (वार्ता) कृषि मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि 2016-17 में नोटबंदी का रबी अभियान पर विपरीत असर नहीं हुआ था। कृषि मंत्रालय ने मीडिया में नोटबंदी का किसानों पर हुए असर की खबर पर टिप्पणी करते हुए आज कहा कि उसका मत है कि रबी अभियान पर नोटबंदी का विपरीत असर नहीं हुआ था।

 Sharesee more..
टीआरएस सांसद से मिले राहुल

टीआरएस सांसद से मिले राहुल

21 Nov 2018 | 6:28 PM

नयी दिल्ली, 21 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरए) से मंगलवार को इस्तीफा देने वाले लोकसभा सदस्य के विशेश्वरैया रेड्डी से आज यहां मुलाकात की।

 Sharesee more..
नवाचार परिषद् से एक हजार संस्थान जुड़े: जावड़ेकर

नवाचार परिषद् से एक हजार संस्थान जुड़े: जावड़ेकर

21 Nov 2018 | 6:04 PM

नयी दिल्ली, 21 नवंबर (वार्ता) देश में नवाचार को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने भारतीय नवाचार परिषद् का गठन किया है जिससे एक हज़ार उच्च शिक्षण संस्थानों को जोड़ा गया है।

 Sharesee more..
image