Wednesday, Sep 26 2018 | Time 13:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • उत्तरी दिल्ली में इमारत गिरी, दो बच्चों की मौत
  • ताइ‌वान को हथियार ना बेचे अमेरिका: चीन
  • ईरान पर अमेरिका नीत पाबंदियां ‘आर्थिक आतंकवाद’: रूहानी
  • रुपये की संदर्भ दर
  • दिल्ली में सुबह का मौसम खुशनुमा
  • अंपायरिंग से नाराज़ धोनी ने किया कटाक्ष
  • अंपायरिंग से नाराज़ धोनी ने किया कटाक्ष
  • अमेरिकी वैज्ञानिकों की जासूसी के आरोप में चीनी नागरिक गिरफ्तार
  • भाजपा के बंगाल बंद का मिलाजुला असर
  • कुछ शर्तों के साथ आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता बरकरार
  • केजरीवाल ने मनमोहन को जन्मदिन की बधाई दी
  • उत्तरी दिल्ली में इमारत गिरी, मलबे में दबे लोग
  • ‘नागराज’ फैसले की समीक्षा की आवश्यकता नहीं : सुप्रीम कोर्ट
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
India Share

माल्या प्रकरण में मोदी-जेटली की चुप्पी पैदा करती है संदेह : कांग्रेस

माल्या प्रकरण में मोदी-जेटली की चुप्पी पैदा करती है संदेह : कांग्रेस

नयी दिल्ली 14 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि बैंकों के नौ हजार करोड़ रुपए लेकर फरार शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर पिछले 48 घंटे में जो तथ्य सामने आए हैं, उन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली की चुप्पी से जाहिर होता है कि इस आर्थिक अपराधी को भगाने में उनकी भूमिका रही है।
कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) जिस तरह से माल्या को बचाने में लगे रहे वह चिंता का विषय है और प्रधानमंत्री तथा वित्त मंत्री को इस बारे में जवाब देना चाहिए। माल्या की फरारी कैसे हुई इसको लेकर जो रहस्योदघाटन हो रहे हैं उन पर श्री मोदी और श्री जेटली की तरफ से कोई जवाब नहीं आ रहा है और यह संदेह पैदा करता है कि माल्या को भगाने में उनका हाथ रहा है।
उन्होंने कहा कि श्री जेटली संसद भवन के कॉरिडोर में विजय माल्या से मुलाकात की बात कर रहे हैं लेकिन कांग्रेस नेता पी एल पुनिया दावा कर रहे हैं कि उन्होंने श्री जेटली और माल्या को संसद के केंद्रीय कक्ष में बैठकर लम्बी बातचीत करते हुए देखा है। देश के प्रतिष्ठित प्रशासनिक अधिकारी रहे श्री पुनिया सम्मानित राजनेता हैं और वह कह रहे हैं कि लंदन जाने से पहले माल्या ने श्री जेटली से लम्बी बात की है। उनकी चुनौती है कि सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग देखी जाए और यदि वह गलत साबित हुए तो राजनीति छोड़ देंगे।
प्रवक्ता ने कहा कि इस मामले में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि माल्या के साथ मुलाकात की बात श्री जेटली अब स्वीकार कर रहे हैं जबकि उसे भागे ढाई साल से ज्यादा हो चुके हैं। इस दौरान राज्यसभा में इस मुद्दे पर चर्चा भी हुई है और श्री जेटली सदन के नेता हैं लेकिन उन्होंने यह खुलासा उस समय भी नहीं किया। पिछले 30 माह के दौरान उन्होंने यह उल्लेख कहीं नहीं किया कि माल्या उनसे मिला था।
उन्होंने सवाल किया कि श्री जेटली को बताना चाहिए कि इतने लम्बे समय तक इस मुद्दे पर उनकी चुप्पी की असली वजह क्या है। साथ ही पिछले 48 घंटे के दौरान इस प्रकरण में जो भी रहस्य खुलकर सामने आ रहे हैं उनको लेकर वह चुप क्यों है। उन्होंने कहा कि देश जानना चाहता है कि माल्या को भगाने में किसका सहयोग रहा है।
अभिनव सचिन
वार्ता

More News

26 Sep 2018 | 1:20 PM

 Sharesee more..

दिल्ली में सुबह का मौसम खुशनुमा

26 Sep 2018 | 1:18 PM

 Sharesee more..

26 Sep 2018 | 12:50 PM

 Sharesee more..
कुछ शर्तों के साथ आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता बरकरार

कुछ शर्तों के साथ आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता बरकरार

26 Sep 2018 | 12:27 PM

नयी दिल्ली, 26 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने कुछ शर्तों के साथ आधार कार्ड की संवैधानिक वैधता बुधवार को बरकरार रखी।

 Sharesee more..
image