Wednesday, May 27 2020 | Time 18:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक से प्रवासियों को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन पहुंची बोकारो
  • रामगढ़ में कलयुगी बेटे की पिता की हत्या
  • ट्रैक्टर खरीदने पर 50 प्रतिशत सब्सिडी मात्र अफवाह: बल्ल
  • बिहार में कोरोना के शिकार हुए 3006
  • सांसद, विधायक, डाक्टर, पत्रकार, इंजीनियर,व्यापारी, ट्रांसपोर्टर को क्वारंटीन करने से छूट
  • चंपावत में पूर्णबंदी का उल्लंघन करने पर 42 लोगों के खिलाफ कार्रवाई
  • डिसइन्फेक्टेंट के सुरक्षित प्रयोग के पक्ष में उद्योग जगत और शोध इकाइयां
  • हरियाणा सरकार अंतिम वर्ष में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के निशुल्क पासपोर्ट बनवाएगी
  • बाराबंकी में दो और कोरोना संक्रमित,संख्या बढ़कर हुई 121
  • लॉकडाऊन : दुकान में बैठाकर छोले-भटूरे खिलाने का वीडियो वायरल होने के बाद दुकान सील
  • हाईकोर्ट ने प्रवासियों की जांच में तेजी और जांच क्षमता बढ़ाने के दिये निर्देश
  • गोण्डा में एक और कोरोना पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या हुई 28
  • ईरान में कोविड-19 के मामले 140,000 से अधिक
दुनिया


नीरव मोदी की जमानत याचिका फिर खारिज

नीरव मोदी की जमानत याचिका फिर खारिज

लंदन, 26 अप्रैल (वार्ता) लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भगोड़े भारतीय हीरा व्यापारी नीरव मोदी को झटका देते हुए शुक्रवार को एक बार फिर उसकी जमानत याचिका नामंजूर कर दी।

इसके पहले मार्च में भी इसी कोर्ट ने नीरव की जमानत याचिका खारिज की थी। वह सबसे बड़ा बैंक घोटाला करने के बाद भारत से फरार है।

रिपोर्टों के अनुसार वीडिया कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नीरव ने अदालत के समक्ष अपनी उपस्थिति दर्ज करायी। इस मामले से जुड़े सूत्रों के अनुसार नीरव कम से कम छह सप्ताह तक जेल की सलाखों के पीछे रहेगा और इसके बाद वह जमानत के लिए ऊपरी अदालत में याचिका दायर कर सकता है।

क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस(सीपीएस) ने नीरव की जमानत याचिका का विरोध करते हुए वेस्टमिंस्टर कोर्ट से कहा कि हीरा व्यापारी ने बैंक धोखाधड़ी मामले में गवाह बैंक के एक पूर्व कर्मचारी को सूचना सार्वजनिक करने पर गंभीर नतीजा भुगतने की चेतावनी दी थी।

नीरव पर आरोप है कि उसने पंजाब नेशनल बैंक(पीएनबी) से करीब 13 ,500 करोड़ रुपए उधार लिये थे और उसे चुकाया नहीं। उसने धोखाधड़ी से पीएनबी से लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) और फॉरेन लेटर्स ऑफ क्रेडिट (एफएलसी) के जरिए ये रकम प्राप्त की थी। भारत सरकार नीरव को प्रत्यर्पण के जरिए देश में वापिस लाने की कोशिश कर रही है।

आशा जितेन्द्र

वार्ता

image