Thursday, Nov 15 2018 | Time 22:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी ने आसियान के साथ व्यापार पर दिया जोर
  • गाजा चक्रवात: चित्तूर में शुक्रवार को सभी स्कूलों में छुट्टी की घोषणा
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • मध्यप्रदेश में 2907 प्रत्याशी चुनाव मैदान में
  • स्कूल के शौचालय से युवक का शव बरामद
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में आठ लोगों की मौत , सात घायल
  • दहेज हत्या मामले में पति और ससुर को आजीवन कारावास
  • नाबालिग के साथ दुष्कर्म
  • पंसारे हत्या मामले में अमोल आठ दिन की एसआईटी हिरासत में
  • अखाड़ा भवन ध्वस्तीकरण मामले में नगर निगम आयुक्त एवं पुलिस को नोटिस
  • विकास लक्ष्य हासिल नहीं कर सका झारखंड : झाविमो
  • 84 के सिख दंगा पीड़ितों को मुआवजे के भुगतान पर सरकार से जवाब तलब
  • जौनपुर बिजली विभाग के बिल घोटाले की जांच करेंगी एमडी
  • विजयी पदार्पण चाहेंगी मनीषा, दिग्गज सरिता वापसी पर उत्साहित
बिजनेस Share

सेंसेक्स 95.32 अंक की बढ़त के साथ 38,017.49 अंक पर खुला। शुरुआती कारोबार में ही 38,043.27 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद बाजार में बिकवाली शुरू हो गयी। इंफोसिस और कोल इंडिया जैसी कंपनियों ने बाजार को सँभालने की कोशिश की, लेकिन यह लाल निशान में बना रहा। यूरोप में अधिकतर शेयर बाजारों के लाल निशान में खुलने से अचानक घरेलू बाजारों में भी बिकवाली तेज हो गयी।
कारोबार की समाप्ति से पहले 37,361.20 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ सेंसेक्स गत दिवस के मुकाबले 509.04 अंक टूटकर 37,413.13 अंक पर बंद हुआ। यह 02 अगस्त के बाद का इसका निचला स्तर है। सेंसेक्स की 30 में से 25 कंपनियों में गिरावट और शेष पाँच में बढ़त रही।
निवेश धारणा इस कदर कमजोर रही कि बीएसई के सभी 20 समूहों के सूचकांक लाल निशान में रहे। टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद समूह में ढाई फीसदी की गिरावट रही। एफएमसीजी और दूरसंचार समूहों के सूचकांक भी दो प्रतिशत से ज्यादा टूटे।
सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प, पावरग्रिड और टाटा स्टील के शेयर तीन से साढ़े तीन प्रतिशत तक लुढ़के। कोल इंडिया में करीब एक प्रतिशत की तेजी रही।
निफ्टी 38.75 अंक की तेजी के साथ 11,476.85 अंक पर खुला। इसका ग्राफ भी लगभग सेंसेक्स की तरह ही रहा। कारोबार के दौरान इसका उच्चतम स्तर 11,479.40 अंक और निचला स्तर 11,274 अंक दर्ज किया गया। अंतत: यह सोमवार की तुलना में 150.60 अंक नीचे 11,287.50 अंक पर बंद हुआ। यह इसका भी 02 अगस्त के बाद का निचला स्तर है। निफ्टी की 50 में से 44 कंपनियों के शेयरों में बिकवाली तथा अन्य छह में लिवाली का जोर रहा।
मझौली और छोटी कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 1.36 प्रतिशत लुढ़ककर 16,006.49 अंक पर और स्मॉलकैप 1.37 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,488.01 अंक पर रहा।
अजीत /शेखर
जारी (वार्ता)
More News

15 Nov 2018 | 8:09 PM

 Sharesee more..

अक्टूबर में निर्यात करीब 18 फीसदी बढ़ा

15 Nov 2018 | 7:56 PM

 Sharesee more..

देहरादून सर्राफा बाजार में सोना चमका

15 Nov 2018 | 6:53 PM

 Sharesee more..
image