Thursday, May 28 2020 | Time 21:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने की दर 42 60 फीसदी
  • हरियाणा में कोरोना के 123 नये मामले, कुल संख्या 1504 हुई, 19 लोगों की मौत
  • क्वारंटाइन अवधि पूरी करने वाले प्रवासी श्रमिकों को उपलब्ध हो रोजगार : नीतीश
  • मथुरा में तीन और कोरोना पॉजिटिव,संक्रमित के संपर्क में आने पर11 पुलिसकर्मी क्वारन्टाइन
  • सारण में ट्रेन से कटकर युवती की मौत
  • सारण में कुख्यात गिरफ्तार
  • दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 16000 के पार
  • आईसीसी ने 10 जून तक टाला टी-20 विश्व कप के भविष्य का फैसला
  • आईसीसी ने 10 जून तक टाला टी-20 विश्व कप के भविष्य का फैसला
  • झांसी पहुंचे साढ़े चौंतीस हजार श्रमिकों के रोजगार के लिए प्रशासन ने किया मंथन
  • पेरासिटामोल का निर्यात खुला
  • सेना ने स्कूल को बनाया 100 बिस्तरों वाला कोविड केयर सेंटर
  • कोविड- खिलाफ सफलता प्राप्ति के लिए विश्व और राष्ट्रीय स्तर पर प्रयास
  • सूडान में गिद्ध की भेंट चढ़ती बच्ची को बचाने की बजाय फोटो लेनेवाले कार्टर की तरह याचिकाकर्ता : मेहता
  • कोलकाता हवाई अड्डे पर 1745 यात्रियों का आगमन
राज्य » अन्य राज्य » HDIE


हिमाचल उपचुनाव: पच्छाद में 72.85 प्रतिशत और धर्मशाला में 65.38 प्रतिशत हुआ मतदान

शिमला, 21 अक्टूबर (वार्ता) हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले की धर्मशाला और सिरमौर जिले की पच्छाद (सुरक्षित) विधानसभा सीटों के लिये आज हुये उपचुनाव में क्रमश: 65.38 प्रतिशत और 72.85 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर उम्मीदवारों की राजनीतिक किस्मत इवीएम में लॉक कर दी। दोनों उपचुनाव में औसतन 69.11 प्रतिशत मतदान हुआ।
राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने यहां यह जानरकारी देते हुये दोनों विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं का लोकतंत्र के इस पर्व में बड़ी संख्या में भाग लेने के लिये आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ और पांच बजे तक चला। मतदान पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहा। उप चुनाव के लिये इन विधानसभा क्षेत्रों में कुल 202 मतदान केंद्र बनाए गये थे। इनमे से पच्छाद में 113 और धर्मशाला में 89 मतदान केंद्र थे। इनके अलावा धर्मशाला के दाड़ी में एक सहायक मतदान केंद्र भी स्थापित किया गया था। सुबह के समय ठंड के कारण मतदान धीमा रहा लेकिन दिन चढ़ते ही मतदाता बड़ी संख्या में मतदान केंद्रों पर उमड़े।
धर्मशाला से भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) उम्मीदवार विशाल नेहरिया ने सिद्धपुर मतदान बूथ पर मतदान किया। सांसद किशन कपूर ने भी धर्मशाला में मतदान किया। धर्मशाला में नेहरिया का मुकाबला कांग्रेस के विजय इंद्र सिंह से है। शिमला से सांसद सुरेश कश्यप ने पच्छाद में मतदान किया। पच्छाद सीट से भाजपा की रीना कश्यप ने भी परिवार सहित मतदान किया। पच्छाद सीट से कांग्रेस प्रत्याशी गंगूराम मुसाफिर ने परिवार सहित डीलमन पंचायतघर बूथ पर वोट डाले।
दोनों सीटों पर परम्परागत रूप से मुकाबला राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) और विपक्षी कांग्रेस के बीच है। पच्छाद सीट पर भाजपा की रीना कश्यप के मुकाबले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गंगू राम मुसाफिर मैदान में हैं। भाजपा से बागी हुई दयाल प्यारी भी बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव मैदान में मौजूद हैं। इस सीट पर दो और निर्दलीय उम्मीदवार भी हैं।
धर्मशाला सीट से भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) विधायक एवं खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रहे किशन कपूर तथा सिरमौर जिले की पच्छाद सीट से पार्टी के विधायक सुरेश कश्यप के गत लोकसभा चुनावों में जीत दर्ज कर संसद में पहुंचने के कारण ये उपचुनाव कराए गये।
पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के पोलिंग बूथ संख्या 60 मानगढ़ तथा पोलिंग बूथ संख्या 89 मजगांव-शमलाटी में मतदान के दौरान वीवीपैट मशीन खराब हो गई थी जिसे तुरंत बदल दिया गया। खनियारा मतदान केंद्र संख्या 32 पर ईवीएम मशीन खराब निकली। धर्मशाला में सात और पच्छाद में पांच प्रत्याशी मैदान में हैं। उपचुनावों की मतगणना 24 अक्तूबर को सुबह आठ बजे होगी। पच्छाद विधानसभा क्षेत्र की मतगणना राजगढ़ कॉलेज, जबकि धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र की मतगणना धर्मशाला कॉलेज भवन में होगी।
सं.रमेश2230 वार्ता
More News
दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा का इस्तीफा

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा का इस्तीफा

11 Feb 2020 | 11:57 PM

नयी दिल्ली, 11 फरवरी (वार्ता) दिल्ली विधानसभा चुनाव में करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने मंगलवार को पद से इस्तीफा दे दिया।

see more..
दिल्ली में आप की सुनामी, जीत की हैट्रिक के साथ केजरीवाल तीसरी बार बनेंगे मुख्यमंत्री

दिल्ली में आप की सुनामी, जीत की हैट्रिक के साथ केजरीवाल तीसरी बार बनेंगे मुख्यमंत्री

11 Feb 2020 | 11:01 PM

नयी दिल्ली 11 फरवरी (वार्ता) दिल्ली विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी की सुनामी ने 22 साल बाद सत्ता में वापसी के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सपने को एक बार फिर चकनाचूर कर दिया और अरविंद केजरीवाल जीत की हैट्रिक के साथ तीसरी बार मुख्यमंत्री बनेंगे।

see more..
image