Thursday, Sep 20 2018 | Time 14:35 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • निदेशक मंडल में ज्यादा महिलाओं के रहने से बेहतर होता है बैंकों का प्रदर्शन : आईएमएफ
  • फिलीपींस में भूस्खलन से चार मरे, कई मलबे में फंसे
  • इमरान की मोदी को चिट्ठी,बातचीत बहाल करने का अनुरोध किया
  • कांग्रेस ने मोदी के कार्यक्रम के विरोध का किया ऐलान
  • आशा कार्यकर्ता मिली मोदी से
  • एयरसेल-मैक्सिस करार: जांच के लिए ईडी को तीन माह की मोहलत
  • तीन तलाक जारी अध्यादेश मुस्लिम महिलाओं के लिए अवांछित: माकपा
  • लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें बढ़ी
  • सोना 10 रुपये लुढ़का;चांदी 100 रुपये उछली
  • प्रख्यात कवि विष्णु खरे पंच तत्त्व में विलीन
  • सं रा ने कोरियाई सम्मेलन के परिणामों का किया स्वागत
  • सीमेंट एजेंसी के कर्मचारी की गोली मारकर हत्या
  • मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी मामले में फैसला सुरक्षित
  • विमान में खराबी से 30 यात्री चोटिल
भारत Share

श्री गुप्ता कहते हैं कि आदिवासी नागरिकों के व्यवहार को बदलना आसान नहीं था। शौच के लिए जंगलों में जाने वाली यहां की बड़ी आबादी को समझाना बड़ी चुनौती थी, जिसे स्थानीय लोगों के प्रयास से आसानी से सुलझा लिया गया। शहर में सफाई आधी रात को शुरु होती है और सुबह तक मशीन से सफाई की जाती है। स्वच्छता अभियान में लोगों की सहभागिता सुनिश्चित की गई है। बस अड्डा, सरकारी स्कूलों और अस्पतालों में शौचालयों की सफाई का प्रबंधन नगर परिषद ही करती है। इसकी निगरानी का दायित्व शहर के उत्साही नागरिकों को सौंपा गया है, जो शहर के समाजसेवी हैं।
नगर परिषद आयुक्त गणेश लाल खराडी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने डूंगरपुर के स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) की महिलाओं से सीधी बातचीत की थी। इन महिलाओं ने सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य कर किया है। दूसरे राज्यों की महिला समूह भी यहां प्रशिक्षण के लिए आने लगी हैं।
शहरी कार्य मंत्रालय ने 73 शहरों की रैंकिंग के लिए जनवरी 2016 में स्वच्छ सर्वेक्षण-2016 शुरू किया था। इसके बाद 434 शहरों की रैंकिंग के लिए जनवरी-फरवरी 2017 में स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 आयोजित किया गया। हाल में पूरा होने वाले स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 में 4203 शहरों की रैंकिंग की गयी।
चौथे स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 का आयोजन 4 जनवरी से 31 जनवरी-2019 तक किया जाएगा। इसमें स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) के तहत सभी शहरों की श्रेणी तय की जाएगी।
सत्या संजीव
वार्ता
More News

आशा कार्यकर्ता मिली मोदी से

20 Sep 2018 | 2:20 PM

 Sharesee more..
मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी मामले में फैसला सुरक्षित

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी मामले में फैसला सुरक्षित

20 Sep 2018 | 1:55 PM

नयी दिल्ली 20 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने भीमा कोरेगांव मामले में पांच मानवाधिकार कार्यकताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ दायर याचिका पर गुरुवार को फैसला सुरक्षित रख लिया।

 Sharesee more..

20 Sep 2018 | 1:54 PM

 Sharesee more..
image