Tuesday, Sep 25 2018 | Time 10:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ताइवान को 33 करोड़ डॉलर के रक्षा उपकरण बेचेगा अमेरिका
  • मोदी ने पं दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर दी श्रद्धांजलि
  • मोदी और शाह भोपाल में भाजपा कार्यकर्ता महाकुंभ में होंगे शामिल
  • इजरायल सेना की गोलीबारी में फिलीस्तीनी की मौत
  • उ कोरिया के साथ दूसरी शिखर बैठक जल्द ही : ट्रम्प
  • मेडागास्कर में अमेरिकी राजनयिक की रहस्यमयी मौत
  • रूहानी ने शत्रुतापूर्ण नीति को लेकर अमेरिका को दी चेतावनी
  • गुटेरेस ने की ईरान में हुए आतंकवादी हमले की निंदा
  • कश्मीर पर चर्चा किये बगैर भारत-पाक के बीच वार्ता संभव नहीं : फवाद
  • तेलंगाना में कांग्रेस, टीटीडीपी और भाकपा गठबंधन जहरीला मिलाप: डॉ लक्ष्मण
  • संरा में सुषमा ने कई देशों के विदेश मंत्रियों, वैश्विक नेताओं से की मुलाकात
भारत Share

पेट्रोल-डीजल,विपक्ष के निशाने पर सरकार .सहयोगी भी घबराये

नयी दिल्ली 04 सितम्बर (वार्ता) पेट्रोल-डीजल और गैस की बेतहाशा बढ़ती कीमतों को लेकर मोदी सरकार पर विपक्ष के निशाना साधने के साथ-साथ सत्तारुढ़ गठबंधन में शामिल कुछ दल भी अगले आम चुनाव पर इसके संभावित असर को भांपते हुए इनके दाम कम करने का सरकार पर दबाव बनाने लगे हैं।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल और डालर के मुकाबले रुपए में रिकार्ड गिरावट से आयात महंगा हो जाने की वजह से पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। सरकार रसोई गैस पर सब्सिडी कम करने के लिए इसकी कीमत में हर माह मामूली बढ़ोतरी कर रही है तो बिना सब्सिडी वाली गैस के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।
पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदम्बरम ने मोदी सरकार को पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतों पर घेरते हुए कहा कि ‘ज्यादा शुल्कों’ की वजह से उपभोक्ताओं को महंगाई झेलनी पड़ रही है।
श्री चिदम्बरम ने सरकार से मांग की है कि पेट्रोल और डीजल को तुरंत वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) कानून के दायरे में लाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि करों में कटौती करके दोनों ईंधन के दाम कम किये जा सकते हैं और उपभोक्ताओं को राहत दी जा सकती है। केंद्र सरकार राज्यों पर इसका ठीकरा नहीं फोड़ सकती है।
उन्होंने कहा, “ भाजपा को यह पता होना चाहिए की 19 राज्यों में उसकी सरकारें हैं। केंद्र और राज्य मिलकर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी कानून के दायरे में ला सकते हैं। कांग्रेस दोनों ईंधन को तुरंत जीएसटी कानून के दायरे में लाने की मांग करती है।”
आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहले पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने और रुपये की कीमत गिरने पर मनमोहन सरकार पर कड़े प्रहार करते थे लेकिन अब वैसी ही परिस्थितियां उनकी सरकार के कार्यकाल में आयीं तो वह मौन साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि महंगाई के लिए पहले कांग्रेस सरकार और अब भाजपा सरकार जिम्मेदार है,आम आदमी लगातार हो रहा है।
मिश्रा.श्रवण
जारी.वार्ता
More News

आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 26 सितंबर)

25 Sep 2018 | 8:25 AM

 Sharesee more..

प्रधानमंत्री ने इब्राहिम सोलिह को बधाई दी

24 Sep 2018 | 11:32 PM

 Sharesee more..
बच्चियों के खतना का मामला संविधान पीठ के सुपुर्द

बच्चियों के खतना का मामला संविधान पीठ के सुपुर्द

24 Sep 2018 | 11:02 PM

नयी दिल्ली, 24 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय में प्रचलित बालिकाओं के खतना की प्रथा को चुनौती देने वाली याचिका संविधान पीठ के आज सुपुर्द कर दी।

 Sharesee more..
शरद ने भी की जेपीसी से राफेल सौदे की जांच की मांग

शरद ने भी की जेपीसी से राफेल सौदे की जांच की मांग

24 Sep 2018 | 10:55 PM

नयी दिल्ली 24 सितम्बर (वार्ता) लोकतांत्रिक जनता दल के वरिष्ठ नेता शरद यादव ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार पारदर्शी व्यवस्था में विश्वास करती है तो उसे राफेल विमान सौदा घोटाले की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने पर सहमत होना चाहिए।

 Sharesee more..
अयोध्या विवाद: फारूकी मामले में शुक्रवार को आ सकता है फैसला

अयोध्या विवाद: फारूकी मामले में शुक्रवार को आ सकता है फैसला

24 Sep 2018 | 10:16 PM

नयी दिल्ली, 24 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय में जारी अयोध्या विवाद से संबंधित एक पहलू को संविधान पीठ को भेजे जाने या न भेजे जाने को लेकर 28 सितंबर को फैसला आ सकता है।

 Sharesee more..
image