Saturday, Jul 20 2019 | Time 10:27 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • 4094 तीर्थयात्रिओं का नया जत्था अमरनाथ रवाना
  • केरल में भारी बारिश के बाद चार बांधों के शटर खोले
  • संरा ने जापान में आगजनी हमले में लोगों की मौत पर दुख प्रकट किया
  • रूस सुनिश्चित करे कि ईरान इसके नागरिकों के अधिकारों का सम्मान करे: कोसाचेव
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 21 जुलाई)
  • विदेश सचिव ने टैंकर जब्त करने को लेकर आपात बैठक बुलाई
  • चीन के गैस फैक्ट्री में विस्फोट, 10 की मौत, 19 घायल
  • अमेरिकी सेना की मेजबानी करने को तैयार सऊदी किंग
  • हंट ने ईरान को टैंकर मामले पर चेताया
  • आतंकवादी ने किया पुलिस टीम पर हमला, एक की मौत
  • अदालत से सम्मन मिलने के बाद कोसोवो के प्रधानमंत्री ने इस्तीफा दिया
  • बिना शर्त ईरान से बातचीत को तैयार : पोंपियो
  • चुनाव से पहले विपक्ष के कई नेता भाजपा में आएंगे : पाटिल
भारत


श्रीमती स्वराज ने बताया कि दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए हैं कि दोनों रक्षा मंत्रियों तथा विदेश मंत्रियों के बीच निरंतर संपर्क बनाये रखने के लिए हॉट लाइन स्थापित की जायेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि बैठक में दक्षिण एशिया की स्थिति पर भी काफी बातचीत हुई। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की दक्षिण एशिया नीति का भारत समर्थन करता है और पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद को समर्थन देने की नीति को बंद करने का उनका आह्वान भारत की नीति से मेल खाता है। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में वहां के लोगों के बीच चल रही मेल मिलाप की प्रक्रिया पर भारत और अमेरिका के प्रयासों पर भी चर्चा हुई।
रक्षा मंत्री सीतारमण ने बताया कि शांति एवं स्थिरता सुनिश्चित करने के हर संभव रास्ते को लेकर सहयोग बढाने का दोनों देशों ने संकल्प लिया ताकि लोगों की तरक्की और समृद्धि की आकांक्षाओं को पूरा किया जा सके। उन्होंने कहा कि हम आतंकवाद और सुरक्षा के लिए हर चुनौती का मिलकर मुकाबला करेंगे। इस संबंध में दोनों देशों ने लक्ष्य हासिल करने की कार्यप्रणाली को लेकर भी विचार विमर्श किया।
उन्होंने कहा कि सैन्य साजो सामान के आदान प्रदान से संबंधित महत्वपूर्ण समझौते लिमोआ तथा विमानवाहक पोतों के अलावा अन्य पोतों से भी हेलिकॉप्टरों के अभियान संबंधी समझौते के बाद आज दोनों देशों ने एक और महत्वपूर्ण सैन्य समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं। संचार अनुकूलता एवं सुरक्षा समझौता (कॉमकासा) से भारत को अमेरिका से उच्च रक्षा प्रौद्योगिकी सुलभ हो सकेगी और इससे भारत की रक्षा तैयारियां सुदृढ होंगी।
रक्षा मंत्री ने दोनों देशों के बीच बढती सामरिक साझेदारी में रक्षा सहयोग को द्विपक्षीय संबंधों का प्रमुख कारक बताया। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में तालमेल बढाने के लिए दोनों देशों की तीनों सेनाओं के बीच अगले साल संयुक्त सैन्य अभ्यास का निर्णय लिया गया है। पहली बार आयोजित यह अभ्यास भारत के पूर्वी तट पर होगा।
संजीव सचिन
जारी वार्ता
More News
जगमग हुआ सफदरजंग मकबरा

जगमग हुआ सफदरजंग मकबरा

20 Jul 2019 | 12:00 AM

नयी दिल्ली,19 जुलाई (वार्ता) सत्रहवीं सदी का प्रसिद्ध मुगलकालीन सफदरजंग मकबरा आज से शाम को अब रौशनी में जगमगाया करेगा। लाल किला, पुराना किला, हुमायूं का मकबरा की तरह यह अब रोज रात में एलईडी बल्ब से प्रकाशमान रहेगा।

see more..
राष्ट्रीय राजमार्गों पर दिसंबर से सिर्फ फास्टैग से भुगतान

राष्ट्रीय राजमार्गों पर दिसंबर से सिर्फ फास्टैग से भुगतान

20 Jul 2019 | 12:00 AM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) सरकार ने इस साल 01 दिसम्बर से राष्ट्रीय राजमार्गों पर के सभी टोल प्लाजा पर सिर्फ फास्टैग से टोल भुगतान स्वीकार करने का निर्णय लिया है।

see more..
सबसे हल्की बुलेट प्रूफ जैकेट ‘भाभा कवच’ लांच

सबसे हल्की बुलेट प्रूफ जैकेट ‘भाभा कवच’ लांच

20 Jul 2019 | 12:00 AM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) देश की सबसे हल्की बुलेट प्रूफ जैकेट ‘भाभा कवच’ आज यहां अंतर्राष्ट्रीय पुलिस प्रदर्शनी में लांच की गयी। सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम मिश्र धातु निगम लिमिटेड (मिधानी) और आर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड द्वारा बनायी गयी यह अत्याधुनिक बुलेट प्रूफ जैकेट ए के -47 रायफल, 5.56 इंसास , एसएलआर तथा 7.62एमएम की रायफल से दागी गयी गोली को भी झेलने में सक्षम है।

see more..
रक्षा मंत्री द्रास में करगिल युद्ध स्मारक पर शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि

रक्षा मंत्री द्रास में करगिल युद्ध स्मारक पर शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि

19 Jul 2019 | 10:32 PM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जम्मू-कश्मीर के करगिल से पाकिस्तानी घुसपैठियों को खदेड़ने के लिए चलाये गये ‘ऑपरेशन विजय’ की 20वीं वर्षगांठ के अवसर पर शनिवार को द्रास में करगिल युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

see more..
image