Friday, Nov 16 2018 | Time 21:08 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आंध्र में केन्द्रीय जांच एजेंसियों को मिली शक्तियां वापस ली गयीं
  • कोविंद जाएंगे वियतनाम और ऑस्ट्रेलिया की यात्रा पर
  • सुरजेवाला ने माहेश्वरी के निधन पर जताया शोक
  • राम नाईक से मिले केन्द्रीय मंत्री पियूष गोयल
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में छह लोगों की मौत , 19 घायल
  • आंध्र में प्रवेश पर रोक की अधिसूचना अभी नहीं मिली: सीबीआई
  • उत्तर प्रदेश में चल रही है ‘एक जनपद एक उत्पाद योजना’ : चौधरी
  • पुरूष और महिला समाज के दो महत्वपूर्ण घटक हैं:नाईक
  • आईआईटी रुड़की ने अमेरिकी विश्वविद्यालय के साथ लीडरशिप कार्यक्रम
  • मनीषा और सरिता के मुक्कों से निकली जीत
  • मनीषा और सरिता के मुक्कों से निकली जीत
  • हरियाणा में एक आईएएस और 16 एचसीएस अधिकारियों के तबादले
  • स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की ऋण स्वीकृति में न हो विलंब : नीतीश
  • हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल के पत्रकारों को भी मिलेंगे लाभ: देवव्रत
भारत Share

श्री सुरजेवाला ने कहा कि भारत बंद निरंकुश सरकार पर तेल के दामों में बेतहाशा वृद्धि पर अंकुश लगाने के लिए दबाव बनाने के वास्ते किया गया है। उन्होंने कहा कि उनकी मांग डीजल और पेट्रोल को वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) के दायरे में लाने की है ताकि इनके दाम में बड़ी कमी लाकर लोगों को राहत दिलायी जा सके।
प्रवक्ता ने कहा कि मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से पेट्रोल के दाम 28 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दाम 27 प्रति लीटर से ज्यादा बढ़े हैं। सरकार ने तेल दाम पर कई बार कर लगाए हैं और लोगों की जेबों पर लगातार डाका डाला जा रहा है। सरकार अनावश्यक कर थोपकर डीजल और पेट्रोल से अब तक 11 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की कमायी कर चुकी है। तेल के दाम बढ़ने से महंगाई आसमान छू रही है।
उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर सूचना के अधिकार के तहत मांगी गयी एक ताजा जानकारी से खुलासा हुआ है कि सरकार पेट्रोल और डीजल को देश में जहां क्रमश: लगभग 80 और 74 रुपए प्रति लीटर की दर से बेच रही है उसी पेट्रोल डीजल को 15 अन्य मुल्कों को भारत से 37 रुपए तथा 34 रुपए प्रति लीटर की दर से बेचा जा रहा है।
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम गिर रहे हैं लेकिन मोदी सरकार इसमें लगातार बढोतरी कर रही है। केंद्र सरकार चाहे तो तेल के दाम में तत्काल कमी ला सकती है लेकिन वह ऐसा नहीं कर रही है इसलिए सभी राजनीतिक दलों, स्वयंसेवी संगठनों तथा आंदोलनकारियों को एकजुट होकर भारत बंद को सफल बनाना चाहिए।
अभिनव सत्या
वार्ता
More News
राष्‍ट्रीय महिला आयोग में तीन सदस्‍य मनोनीत

राष्‍ट्रीय महिला आयोग में तीन सदस्‍य मनोनीत

16 Nov 2018 | 8:50 PM

नयी दिल्ली 16 नवंबर (वार्ता) महिला और बाल विकास मंत्रालय ने राष्ट्रीय महिला आयोग के सदस्य के रूप में तीन सदस्य मनोनीत किये हैं। आधिकारिक जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय महिला आयोग अधिनियम 1990 की धारा 3 के तहत श्रीमती चन्‍द्रमुखी देवी, श्रीमती सोसो शैजा और श्रीमती कमलेश गौतम सदस्य मनोनीत किये गये हैं।

 Sharesee more..
आंध्र में प्रवेश पर रोक की अधिसूचना अभी नहीं मिली: सीबीआई

आंध्र में प्रवेश पर रोक की अधिसूचना अभी नहीं मिली: सीबीआई

16 Nov 2018 | 8:45 PM

नयी दिल्ली, 16 नवम्बर (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि उसे आंध्र प्रदेश में प्रवेश पर रोक संबंधी कोई अधिसूचना राज्य सरकार से अभी तक प्राप्त नहीं हुई है।

 Sharesee more..
कांग्रेस ने झारखंड के लिए गठित की चुनाव समिति

कांग्रेस ने झारखंड के लिए गठित की चुनाव समिति

16 Nov 2018 | 8:39 PM

नयी दिल्ली, 16 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस ने झारखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवारर को 30 सदस्यों की प्रदेश चुनाव समिति गठित की।

 Sharesee more..
image