Wednesday, Jun 26 2019 | Time 19:27 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • शिकायत निवारण नियमावली से सरकारी सेवकों को काफी फायदा होगा: नीतीश
  • बिट्टू की हत्या के पीछे गहरी साजिश : बादल
  • गर्मी-उमस के कारण पंजाब-हरियाणा में बिजली मांग में रिकार्ड तोड़ वृद्धि
  • सशक्त टीम के रुप में उभर रही है महिला फुटबॉल टीम : एंब्रोस
  • सशक्त टीम के रुप में उभर रही है महिला फुटबॉल टीम : एंब्रोस
  • व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार कर रणनीतिक साझीदारी मजबूत करेंगे भारत और अमेरिका
  • इनेलो का एकमात्र राज्यसभा सांसद भाजपा में शामिल
  • हैंडबाल की इंटरनेशनल चैंपियनशिप की मेजबानी का दावा करेगा भारत
  • प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए राज्य में शैक्षणिक वातावरण जरूरी -भूपेश
  • फरीदाबाद, रेवाड़ी, यमुनानगर में बनेंगे एडीआर केंद्र
  • नीतीश के समक्ष नगर विकास एवं आवास विभाग ने दिया प्रस्तुतीकरण
  • तीन और सदस्य लोकसभा की सभापति तालिका में शामिल
  • जल संचय के लिए व्यक्तिगत पहल की जरुरत: शेखावट
  • सुप्रीम कोर्ट ने लगाई सक्सेना की विदेश यात्रा पर रोक
  • वित्त मंत्री, आयुष राज्य मंत्री तथा इस्पात राज्य मंत्री ने उपराष्ट्रपति से भेंट की
भारत


सीवर में मौत पर दिल्ली सरकार को नोटिस

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने पश्चिमी दिल्ली के मोती नगर में सीवर की सफाई करते समय जहरीली गैस से चार लागों की मौत के मामले में दिल्ली के मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया है।
आयोग ने इससे संबंधित मीडिया रिपोर्टों का संज्ञान लेते हुए दिल्ली के मुख्य सचिव और पुलिस आयुक्त को नोटिस जारी करके चार सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा है। आयोग ने यह बताने को भी कहा है कि इस मामले में संबंधित अधिकारियों के खिलाफ क्या कार्रवाई की गयी है और मृतकों के परिजनों को क्या सहायता दी गयी है।
आयोग ने कहा है कि उसने वर्ष 2000 में इसी तरह के मामले का संज्ञान लेने तथा संबंधित विभागों के साथ विचार विमर्श के बाद सीवर प्रणाली के संचालन तथा रख-रखाव के बारे में सुरक्षा संहिता और दिशानिर्देशों को अंतिम रूप दिया था। सभी संबंधित एजेन्सियों के लिए इनका पालन करना जरूरी है। आयोग समय-समय पर इस बात पर जोर देता रहा है कि अधिकारी कर्मचारियों को सुरक्षित उपकरण तथा साजो -सामान उपलब्ध कराएं। इन दिशानिर्देशों का पालन नहीं किये जाने से निर्दोष लोगों की जान जा रही है।
मीडिया रिपोर्टों के अनुसार मोती नगर के डीएलएफ कैपिटल ग्रीन्स अपार्टमेंट में पांच कर्मचारी नौ अगस्त को सीवर साफ करने गये थे। इनमें से दो सरफराज और पंकज बिना सुरक्षित साजो-सामान के सीवर टैंक में उतर गये और बेहोश हो गये। इसके बाद राजा और उमेश को इनका पता लगाने के लिए अंदर भेजा गया लेकिन वे भी बेहोश हो गये। इसके बाद विशाल को अंदर भेजा गया और जहरीली गैस का पता चलते ही उसने मदद के लिए आवाज लगायी।
आयोग ने मीडिया रिपोर्ट के हवाले से कहा है कि अग्नि शमन विभाग को हादसे की जानकारी दी गयी। फायर टेंडरों के पहुंचने से पहले लोगों ने दो कर्मचारियों को निकाल लिया था। बाद में पांचों को अस्पताल ले जाया गया जहां चार को मृत घोषित कर दिया गया। पांचवें कर्मचारी को उपचार के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल लाया गया।
मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि कर्मचारियों को किसी तरह के सुरक्षा उपकरण नहीं मुहैया कराये गये थे और वे कपड़े से अपना मुंह ढक कर रखते थे। इन कर्मचारियों को लाने वाला ठेकेदार फरार है।
संजीव अाशा
वार्ता
More News
अमिताभ कांत का कार्यकाल दो साल बढ़ा

अमिताभ कांत का कार्यकाल दो साल बढ़ा

26 Jun 2019 | 7:02 PM

नयी दिल्ली 26 जून (वार्ता) सरकार ने नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत (सीईओ) का कार्यकाल दो साल बढ़ा दिया है।

see more..
सामंत गोयल रॉ के प्रमुख और अरविंद कुमार गुप्तचर ब्यूरो के निदेशक नियुक्त

सामंत गोयल रॉ के प्रमुख और अरविंद कुमार गुप्तचर ब्यूरो के निदेशक नियुक्त

26 Jun 2019 | 6:55 PM

नयी दिल्ली 26 जून (वार्ता) सरकार ने भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी अरविंद कुमार को गुप्तचर ब्यूरो और श्री सामंत गोयल को अनुसंधान एवं विश्लेषण शाखा (रॉ) का प्रमुख नियुक्त किया है।

see more..
image