Sunday, Sep 23 2018 | Time 09:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी
  • चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की
  • सीरियाई विद्रोही इदलिब में तुर्की से करेंगे सहयोग
  • नाइजीरिया में नौका से चालक दल के 12 सदस्यों का अपहरण
  • उ कोरिया को ईंधन देने वालों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा : अमेरिका
  • साेमालिया में दो कार बम विस्फोट, दो घायल
  • तंजानिया नौका हादसे में मृतकों की संख्या 218 हुई
  • नन से दुष्कर्म के आरोपी बिशप की जमानत याचिका खारिज
  • सैन्य परेड पर हमले में अमेरिकी सहयोगियों का हाथ : खोमैनी
  • अमेरिकी सेना का 18 आतंकवादियों को मारने का दावा
भारत Share

ईरान, अफगानिस्तान के साथ त्रिपक्षीय बैठक, चाबहार, आतंकवाद पर चर्चा

नयी दिल्ली/ काबुल 11 सितम्बर (वार्ता) भारत ने आज अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में ईरान तथा अफगानिस्तान के साथ त्रिपक्षीय बैठक की जिसमें अन्य मुद्दों के साथ चाबहार बंदरगाह और आतंकवाद से निपटने में सहयोग पर चर्चा हुई।
यह तीनों देशों के बीच पहली त्रिपक्षीय बैठक है। इसमें संबंधित देशों के उपविदेश मंत्रियों तथा समकक्षों ने हिस्सा लिया। बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में बताया गया है, “ बैठक में मुख्य रूप से आर्थिक सहयोग बढ़ाने पर बात की गयी जिसमें चाबहार बंदरगाह भी शामिल है। साथ ही आतंकवाद और ड्रग्स तस्करी रोकने की दिशा में सहयोग तथा अफगानिस्तान के नेतृत्व में शांति एवं सुलह प्रक्रियाओं को समर्थन जारी रखने पर चर्चा की गयी।”
चाबहार बंदरगाह के पूरी तरह विकसित हो जाने के बाद पाकिस्तान के जल क्षेत्र में प्रवेश किये बिना ईरान से सीधे सामान भारत लाये जा सकेंगे। मुख्य रूप से ईरान से कच्चे तेल के आयात के लिए यह बंदरगाह महत्त्वपूर्ण है। यह बंदरगाह सिस्तान बलुचिस्तान इलाके में है जो ईरान के दक्षिणी तट पर स्थित है। वहाँ से भारत के पश्चिमी तट पर सीधे माल भेजा जा सकता है। राष्ट्रपति हसर रोहानी ने पिछले साल दिसंबर में इसके पहले फेज का उद्घाटन किया था।
बैठक की अध्यक्षता अफगानिस्तान के उपविदेश मंत्री हकमत खलील करजई ने की। भारत की ओर से विदेश सचिव विजय गोखले और ईरान की ओर से उपविदेश मंत्री अब्बास अराग्ची ने इसमें हिस्सा लिया। बैठक ऐसे समय में हो रही है यह बैठक पिछले सप्ताह नयी दिल्ली में भारत और अमेरिका के बीच ‘दो जमा दो’ वार्ता के बाद हो रही है जिसमें दोनों दशों ने माना था कि युद्ध की त्रासदी झेल चुके अफगानिस्तान के लिए व्यापार का विकास जरूरी है।
मंगलवार की बैठक में तीनों देश अगले साल भारत में अगले चरण की वार्ता पर सहमत हुये हैं।
अजीत.श्रवण
वार्ता
More News
आेलांद के बयान पर कांग्रेस और भाजपा में घमासान

आेलांद के बयान पर कांग्रेस और भाजपा में घमासान

22 Sep 2018 | 11:56 PM

नयी दिल्ली, 21 सितंबर (वार्ता) राफेल विमान सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद के बयान को लेकर कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच आरोप-प्रत्यारोपों की झड़ी लग गयी है जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर तीखा हमला बोलते हुये उन्हें ‘भ्रष्ट’ तथा ‘चोर’ तक कह दिया वहीं भाजपा ने उनके बयान को शर्मनाक बताते हुये कहा कि पूरा गांधी परिवार भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है।

 Sharesee more..
राफेल सौदे पर गलतबयानी कर रहे राहुल: अकबर

राफेल सौदे पर गलतबयानी कर रहे राहुल: अकबर

22 Sep 2018 | 10:22 PM

नयी दिल्ली 22 सितम्बर(वार्ता) भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) नेता एवं केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की यह कहते हुए खिंचायी की कि वह राफेल सौदे पर गलतबयानी कर रहे हैं और इसे दोहरा भी रहे हैं।

 Sharesee more..
चर्चा, बहस, असहमति लोकतंत्र के जरूरी पहलू : प्रणव

चर्चा, बहस, असहमति लोकतंत्र के जरूरी पहलू : प्रणव

22 Sep 2018 | 10:13 PM

नयी दिल्ली 22 सितम्बर (वार्ता) पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आज कहा कि चर्चा, बहस और असहमति लोकतंत्र के आवश्यक पहलू हैं।

 Sharesee more..
सर्जिकल स्ट्राइक की वर्षगांठ पर ‘पराक्रम पर्व ’

सर्जिकल स्ट्राइक की वर्षगांठ पर ‘पराक्रम पर्व ’

22 Sep 2018 | 9:58 PM

नयी दिल्ली 22 सितम्बर (वार्ता) सरकार जम्मू-कश्मीर में सीमा पार आतंकवादी ठिकानों पर सेना की सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ पर देश भर में तीन दिन का ‘पराक्रम पर्व’ मनायेगी।

 Sharesee more..
image