Monday, Nov 19 2018 | Time 09:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राहुल, सोनिया, प्रणव और मनमोहन ने इंदिरा को किया याद
  • इजरायली प्रधानमंत्री ने रक्षा मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार लेने की घोषणा की
  • अलीगढ़ में भीषण सड़क हादसा, छह बस यात्रियों की मृत्यु, 10 घायल
  • मोदी ने इंदिरा गांधी को किया याद
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 नवंबर)
  • एटा में भागवत कथा के दौरान फायरिंग में किशोर की मृत्यु
  • फ्रांस में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के बावजूद पेट्रोल, डीजल की बढ़ी कीमतें रहेंगी बरकरार
  • ट्रंप नहीं सुनेंगे खशोगी की हत्या का ऑडियो टेप
  • तालिबान के साथ शांति समझौता चाहते हैं खलिलजाद
  • इजरायल में जल्द चुनाव संभव नहीं : नेतन्याहू
  • सबरीमला : श्रद्धालु गिरफ्तार, विजयन के निवास के बाहर प्रदर्शन
  • विजयन के निवास के बाहर श्रद्धालुओं ने किया प्रदर्शन
  • सबरीमला में तनाव बरकरार, भक्ति गीत गाने पर श्रद्धालु गिरफ्तार
  • एचएएल बनायेगा स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान: भामरे
  • सबरीमला मेें मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन: केरल मानवाधिकार आयोग
भारत Share

ईपीएस-95 पेंशनधारकों ने दिया देशभर में धरना

नयी दिल्ली 12 सितंबर (वार्ता) कर्मचारी पेंशन योजना 1995 -ईपीएस के पेंशनधारकों ने कम से कम 7,500 रुपये मासिक पेंशन और अंतरिम राहत के रूप में 5000 रुपये महंगाई भत्ते की मांग को लेकर बुधवार को देशभर में सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (सीबीटी) में कामगारों के प्रतिनिधियों के घरों और कार्यालयों के सामने धरना दिया।
निवृत्त कर्मचारी समन्वय एवं लोक कल्याण संस्था ने आज यहां बताया कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज में 44 सदस्य हैं, जिनमें 10 कामगारों के प्रतिनिधि हैं। ईपीएस पेंशनधारकों ने बुधवार को इन्हीं कामगारों के प्रतिनिधियों के घरों के बाहर धरना दिया और उनसे सरकारी अधिकारियों के समक्ष अपनी मांग को उठाने की बात कही।
ईपीएफ राष्ट्रीय संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमांडर अशोक राउत ने कहा कि अगर प्रतिनिधि सीबीटी के सदस्य होकर कर्मचारियों की आवाज नहीं उठा सकते तो उनको इसमें रहने का कोई अधिकार नहीं है। देश भर में कामगारों के प्रतिनिधि माने जाने वाले 10 सीबीटी के सदस्यों के घर हैदराबाद, नयी दिल्ली, विशाखापटनम, जलगांव (महाराष्ट्र), लखनऊ, चंडीगढ़ और कोलकाता में हैं। सीबीटी के जिन सदस्यों के घर और कार्यालय के सामने धरना दिया, उनमें सर्वश्री जी. संजीवा रेड्डी, वृजेश उपाध्याय, एम. जगदीश्वर राव, प्रभाकर जी. बाणासुरे, अशोक सिंह, एडी नागपाल, ए. के. पदमनाभन, शंकर साहा और रमन पांडे शामिल है।
श्री राउत का कहना है कि केंद्र के पास पेंशन कोष में चार लाख करोड़ रुपए से अधिक राशि जमा हैं, जिस पर सरकार ब्याज कमा रही है, लेकिन कर्मचारियों को उनका हक नहीं मिल रहा है। ईपीएस-95 में हर महीने इसके सदस्यों को कम से कम 200 से एक हजार रुपये पेंशन मिलती है। इसमें 60 लाख पेंशनधारक है, जिनमें से करीब 40 लाख सदस्यों को हर महीने 1500 रुपये से कम पेंशन मिल रही है और अन्य कर्मचारियों को दो हजार रुपये से ढाई हजार रुपये मासिक पेंशन मिल रही है।
सत्या आशा
वार्ता
More News
मोदी ने इंदिरा गांधी को किया याद

मोदी ने इंदिरा गांधी को किया याद

19 Nov 2018 | 9:07 AM

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का उनकी जयंती पर स्मरण किया है।

 Sharesee more..

आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 नवंबर)

19 Nov 2018 | 8:51 AM

 Sharesee more..
भाजपा ने तेलंगाना के लिए जारी की छठी सूची

भाजपा ने तेलंगाना के लिए जारी की छठी सूची

18 Nov 2018 | 11:11 PM

नयी दिल्ली, 18 नवंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने तेलंगाना विधानसभा चुनावों के लिए रविवार को छठी सूची जारी करते हुए छह उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की। इससे पहले पार्टी ने आज सुबह पांचवीं सूची जारी करके 19 उम्मीदवारों के नाम घोषित किये थे।

 Sharesee more..
राजनाथ ने पंजाब की घटना पर अमरिंदर से की बात

राजनाथ ने पंजाब की घटना पर अमरिंदर से की बात

18 Nov 2018 | 8:01 PM

नयी दिल्ली, 18 नवंबर (वार्ता) गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पंजाब के अमृतसर में रविवार को निरंकारी भवन पर हमले में निर्दोष लोगों की मौत पर गहरा क्षोभ व्यक्त किया और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से बात कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा।

 Sharesee more..
image