Thursday, Jun 20 2019 | Time 23:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वार्नर के विस्फोटक शतक से ऑस्ट्रेलिया चोटी पर
  • रूपाणी ने खनन सेक्टर को उद्योग का दर्जा देने की घोषणा की
  • कैलाश मानसरोवर यात्रा का पहला दल पहुंचा चीन
  • प्रधानमंत्री मोदी कल 40 हजार लोगों के साथ करेंगे योग
  • हिमाचल में बस खाई में गिरी, 32 लोगों की मौत और 33 घायल
  • हिमाचल में बस खाई में गिरी, 30 लोगों की मौत और 33 घायल
  • म्यांमार के चुनाव अधिकारियों को चुनाव प्रबंधन के गुर सिखाए गए
  • हत्या करने वाले गिरोह का इनामी बदमाश गिरफ्तार
  • अमरनाथ यात्रा के इंतजामों की समीक्षा के लिए उच्च स्तरीय बैठक
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • मुरादाबाद में दबंगों की युवती के पिता की हत्या,चार गिरफ्तार
  • परामर्श
  • प्रधानमंत्री चमकी बुखार का जायजा लेने बिहार आयें : डॉ ठाकुर
  • प्रधानमंत्री चमकी बुखार का जायजा लेने बिहार आयें-डॉ ठाकुर
भारत


ईपीएस-95 पेंशनधारकों ने दिया देशभर में धरना

नयी दिल्ली 12 सितंबर (वार्ता) कर्मचारी पेंशन योजना 1995 -ईपीएस के पेंशनधारकों ने कम से कम 7,500 रुपये मासिक पेंशन और अंतरिम राहत के रूप में 5000 रुपये महंगाई भत्ते की मांग को लेकर बुधवार को देशभर में सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (सीबीटी) में कामगारों के प्रतिनिधियों के घरों और कार्यालयों के सामने धरना दिया।
निवृत्त कर्मचारी समन्वय एवं लोक कल्याण संस्था ने आज यहां बताया कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज में 44 सदस्य हैं, जिनमें 10 कामगारों के प्रतिनिधि हैं। ईपीएस पेंशनधारकों ने बुधवार को इन्हीं कामगारों के प्रतिनिधियों के घरों के बाहर धरना दिया और उनसे सरकारी अधिकारियों के समक्ष अपनी मांग को उठाने की बात कही।
ईपीएफ राष्ट्रीय संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमांडर अशोक राउत ने कहा कि अगर प्रतिनिधि सीबीटी के सदस्य होकर कर्मचारियों की आवाज नहीं उठा सकते तो उनको इसमें रहने का कोई अधिकार नहीं है। देश भर में कामगारों के प्रतिनिधि माने जाने वाले 10 सीबीटी के सदस्यों के घर हैदराबाद, नयी दिल्ली, विशाखापटनम, जलगांव (महाराष्ट्र), लखनऊ, चंडीगढ़ और कोलकाता में हैं। सीबीटी के जिन सदस्यों के घर और कार्यालय के सामने धरना दिया, उनमें सर्वश्री जी. संजीवा रेड्डी, वृजेश उपाध्याय, एम. जगदीश्वर राव, प्रभाकर जी. बाणासुरे, अशोक सिंह, एडी नागपाल, ए. के. पदमनाभन, शंकर साहा और रमन पांडे शामिल है।
श्री राउत का कहना है कि केंद्र के पास पेंशन कोष में चार लाख करोड़ रुपए से अधिक राशि जमा हैं, जिस पर सरकार ब्याज कमा रही है, लेकिन कर्मचारियों को उनका हक नहीं मिल रहा है। ईपीएस-95 में हर महीने इसके सदस्यों को कम से कम 200 से एक हजार रुपये पेंशन मिलती है। इसमें 60 लाख पेंशनधारक है, जिनमें से करीब 40 लाख सदस्यों को हर महीने 1500 रुपये से कम पेंशन मिल रही है और अन्य कर्मचारियों को दो हजार रुपये से ढाई हजार रुपये मासिक पेंशन मिल रही है।
सत्या आशा
वार्ता
More News
कुल्लू बस दुर्घटना पर राष्ट्रपति ने गहरा दुख जताया

कुल्लू बस दुर्घटना पर राष्ट्रपति ने गहरा दुख जताया

20 Jun 2019 | 10:36 PM

नयी दिल्ली, 20 जून(वार्ता) राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में गुरुवार को भीषण बस दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति गहरी संवेदना जताई है ।

see more..
मोदी और राहुल ने कुल्लू बस दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया

मोदी और राहुल ने कुल्लू बस दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया

20 Jun 2019 | 10:20 PM

नयी दिल्ली, 20 जून(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में भीषण बस दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है ।

see more..
जापान योग निकेतन  को प्रधानमंत्री योग सम्मान

जापान योग निकेतन को प्रधानमंत्री योग सम्मान

20 Jun 2019 | 10:15 PM

नयी दिल्ली 20 जून (वार्ता) योग को प्रोत्साहन देने और इसके विकास में उल्लेखनीय योगदान के लिए इस वर्ष का प्रधानमंत्री योग सम्मान गुजरात के स्वामी राजर्षि मुनि और इटली की एंटोनिएटा रोजी तथा जापान और बिहार के योग संस्थानों को प्रदान किया जायेगा। यह चयन विभिन्न श्रेणियों में प्राप्त 79 नांमाकनों में से किया गया है।

see more..
इटली ,जापान  और भारत को वर्ष 2019 का प्रधानमंत्री योग सम्मान

इटली ,जापान और भारत को वर्ष 2019 का प्रधानमंत्री योग सम्मान

20 Jun 2019 | 10:06 PM

नयी दिल्ली 20 जून (वार्ता) योग को प्रोत्साहन देने और इसके विकास में उल्लेखनीय योगदान के लिए इस वर्ष का प्रधानमंत्री योग सम्मान गुजरात के स्वामी राजर्षि मुनि और इटली की एंटोनिएटा रोजी तथा जापान और बिहार के योग संस्थानों को प्रदान किया जायेगा। यह चयन विभिन्न श्रेणियों में प्राप्त 79 नांमाकनों में से किया गया है।

see more..
image