Monday, May 27 2024 | Time 12:27 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


उत्तराखंड में यात्री बस पलटी,कई यात्री घायल

देहरादून, 13 अप्रैल (वार्ता) उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जनपद में शनिवार सुबह एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पलट गई जिसमें कम से कम 20 यात्री घायल हो गये।
मौके पर पहुंचे स्थानीय थाना पुलिस और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की रेस्क्यू टीम ने उसमें सवार यात्रियों को बाहर निकालकर नजदीकी अस्पताल में दाखिल किया है। जिनमें तीन गंभीर घायलों को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में भेजा गया है जबकि सत्रह (17) को अन्य अस्पतालों में भेजा गया।
टिहरी पुलिस के प्रवक्ता संतोष कुमार सोनियाल ने ‘यूनीवार्ता’ को बताया कि आज जनपद नियंत्रण केंद्र (डीसीआर ) से सूचना मिली कि थाना मुनि की रेती क्षेत्र में भद्रकाली से नरेंद्र नगर की तरफ एक यात्री बस पलट गई है। सूचना के आधार पर थाना नरेंद्र नगर, मुनि की रेती पुलिस, फायर ब्रिगेड और एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम घटनास्थल पहुंचे। उन्होंने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त बस में करीब 32 यात्री मौजूद थे।
श्री सोनियाल ने बताया कि बस यात्रियों के हवाले से बताया कि चालक तेजी से बस को चल रहा था। मोड पर बस अनियंत्रित होकर सड़क पर पड़ी हुई बजरी से फिसल कर पलट गई। उन्होंने बताया कि सामान्य घायलों का उपचार राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश में चल रहा है। हिम्मत सिंह रावत पुत्र नामालुम, उम्र 60वर्ष, कृष्णा देवी पत्नी दिग्विजय, निवासी ढाल वाला, मुनि की रेती, टिहरी गड़वाल, उम्र 32वर्ष, सुषमा देवी पत्नी दरमायन, निवासी धौंतरी, उत्तरकाशी,उम्र 30वर्ष को गंभीर अवस्था में एम्स में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि दुर्घटना में वाहन चालक प्रवेश पुत्र मिठ्ठन सिंह, निवासी जोशियारा, उत्तरकाशी,उम्र 31वर्ष भी सामान्य रुप से घायल हुए। इसके अलावा, 16 अन्य यात्री अपने-अपने गंतव्यों को चले गए।
सुमिताभ.संजय
वार्ता
More News
प्रज्वल के राजनयिक पासपोर्ट रद्द करने के अनुरोध पर केंद्र से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली: परमेश्रर

प्रज्वल के राजनयिक पासपोर्ट रद्द करने के अनुरोध पर केंद्र से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली: परमेश्रर

26 May 2024 | 10:57 PM

बेंगलुरु, 26 मई (वार्ता) कर्नाटक के गृह मंत्री डॉ जी परमेश्वर ने रविवार को घोषणा की कि राज्य सरकार को यौन शोषण के आरोपी हासन के सांसद प्रज्वल रेवन्ना (33) के राजनयिक पासपोर्ट को रद्द करने के अनुरोध के संबंध में केंद्र से अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

see more..
image