Thursday, Jun 13 2024 | Time 12:17 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


आगामी बजट सत्र के दौरान पुलिस वाटर स्पोर्ट्स टीम का गठन होगा: सिंह

ऊना 06 मार्च (वार्ता) हिमाचल प्रदेश में जलक्रीड़ा को बढ़ावा देने के लिए अब सरकार के स्तर पर जल्द प्रयास शुरू किए जाएंगे। इस बात का ऐलान सोमवार को पुलिस की 22वीं अखिल भारतीय जल क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे प्रदेश के खेल मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने किया।
इस मौके पर स्थानीय विधायक देवेंद्र कुमार भुट्टो और पुलिस विभाग के महानिदेशक डॉ संजय कुंडू भी मौजूद रहे। अखिल भारतीय पुलिस जलक्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि विक्रमादित्य सिंह ने प्रतियोगिता के विजेता और उप विजेता खिलाड़ियों को पुरस्कारों से नवाजा। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में वाटर स्पोर्ट्स जैसी बड़ी प्रतियोगिता की मेजबानी करके इतिहास रच दिया है।
उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता में खुद हिमाचल की कोई टीम नहीं थी। बावजूद इसके जिस प्रकार प्रतियोगिता का प्रबंधन और संचालन किया गया यह काबिले तारीफ है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में जल क्रीड़ाओं अपार संभावनाएं मौजूद हैं और उनका दोहन सरकार के स्तर पर जल्द किया जाएगा।
उन्होंने पुलिस महानिदेशक को पुलिस वाटर स्पोर्ट्स टीम का गठन करने के लिए राज्य सरकार का पूर्ण समर्थन प्रदान करने का आश्वासन दिया है और कहा कि आगामी बजट सत्र के दौरान, वह हिमाचल प्रदेश पुलिस वाटर स्पोर्ट्स टीम बनाने के लिए बजट का प्रावधान करेंगे। उन्होंने युवा सेवा एवं खेल विभाग तथा पर्यटन विभाग द्वारा इस क्षेत्र में जल क्रीड़ा एवं पर्यटन को विकसित करने के लिए मास्टर प्लान तैयार करने की आवश्यकता पर बल दिया, जिससे युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त हों। इस अवसर पर जल क्रीड़ाओं की तीन श्रेणियों ( रोइंग, कयाकिंग एवंकैनोइंग) में विजेता टीमों को 12 ट्राफियां भी प्रदान की हैं।
उन्होंने कहा कि चरणबद्ध तरीके से इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए हिमाचल प्रदेश को पर्यटन और खेल दोनों दृष्टि से अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर उभारने के लिए प्रयास होंगे। विक्रमादित्य सिंह ने ऐलान किया कि पुलिस की राष्ट्रीय जल क्रीड़ा प्रतियोगिता का स्थल अंदरोली जल्द ही प्रदेश के खेल कैलेंडर में शामिल किया जाएगा।
सं.संजय
वार्ता
image