Monday, May 27 2024 | Time 11:53 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


पंजाब में भाजपा पैसे देकर विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रही: आप

चंडीगढ़, 27 मार्च (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब ने आरोप लगाया कि आचार संहिता लागू होने के बाद भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विपक्षी दलों को परेशान कर रही है और राज्य में आप विधायकों और नेताओं को विदेश से फोन कर खरीद-फरोख्त करने की कोशिश कर रही है। भाजपा लोकसभा चुनाव से पहले उन्हें अपनी पार्टी में शामिल होने के लिए प्रलोभन दे रही है।
आप के तीन विधायकों, जगदीप सिंह गोल्डी कंबोज (जलालाबाद), अमनदीप सिंह मुसाफिर(बलुआना) और राजिंदर पाल कौर छीना (लुधियाना दक्षिण) ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया और बताया कि कैसे भाजपा ने उनसे संपर्क किया और अपनी पार्टी में शामिल होने के लिये कितने पैसे की पेशकश की। तीनों विधायकों ने कहा कि वे आम आदमी पार्टी और पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल के सच्चे सिपाही हैं और पार्टी
नहीं छोड़ेंगे।
विधायक जगदीप कंबोज ने कहा कि पहले तो भाजपा ने श्री केजरीवाल जैसे ईमानदार नेता को जेल में डाल दिया। श्री केजरीवाल वह नेता हैं जिन्होंने राजनीति में भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी और हमेशा काम की राजनीति की। उन पर झूठे मामले दर्ज किये गये और बिना किसी सबूत के जेल भेज दिया गया। कंबोज ने कहा कि वे (भाजपा) श्री केजरीवाल और आम आदमी पार्टी से डरे हुये हैं, इसलिये जहां वे लोगों का जनादेश हासिल करने में विफल रहे, वहां किसी भी कीमत पर विधायकों सांसदों को खरीदने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कल करीब 12:52 बजे मुझे +35796718959 (साइप्रस) से कॉल आई।
फोन करने वाले ने कहा कि उसका नाम सेवक सिंह है और वह विधायक से बात करना चाहता है।
उन्होंने कहा, “ जब मैंने उसे बताया कि मैं ही हूं, तो उसने पूछा कि क्या मैं बात करने में सहज हूं और मैंने हां कहा। उन्होंने कहा कि एक ऑफर है। हम चाहते हैं कि आप भाजपा
में शामिल हो जायें। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए बहुत अच्छा ऑफर है। मेरी कोई भी डिमांड हो तो मैं बता सकता हूं। मैंने उन्हें कहा कि मेरी कोई डिमांड नहीं है। फिर उन्होंने मुझे भाजपा में शामिल होने के लिए 20-25 करोड़ रुपये की पेशकश की लेकिन मैंने कहा कि मुझे इसकी जरूरत नहीं है। ”
आप नेता ने कहा, “ मैंने उनसे पूछा कि उन्हें मेरा नंबर किससे मिला। मुझे इसमें कोई दिलचस्पी नहीं है और न ही मुझे आपकी जरूरत है क्योंकि आम आदमी पार्टी ने हमारे
लिये जो किया है, हम उसकी कल्पना भी नहीं कर सकते थे। ”
कंबोज ने कहा कि उन्होंने श्री केजरीवाल को गिरफ्तार किया और अब वे उनकी टीम को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली के बाद पंजाब की जनता ने परिवर्तन को चुना। वे जो चाहें कोशिश कर सकते हैं लेकिन वे श्री केजरीवाल और भगवंत मान जी की सोच को नहीं खरीद पायेंगे। वे हमारे विधायकों और सांसदों को खरीदने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हम बिकने वाले नहीं हैं। पंजाब के लोगों ने हम पर भरोसा किया और 2022 के विधानसभा चुनाव में इतिहास रचा। ”
विधायक रजिंदर पाल कौर छीना ने कहा, “ कल करीब 11:00 बजे मेरे पास फोन आया कि मैं सेवक सिंह हूं। यह किसी विदेशी नंबर से कॉल थी, उसने कहा कि वह दिल्ली से बोल रहा है। उन्होंने कहा कि मुझे अपनी पार्टी बदल लेनी चाहिये और उनकी पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो जाना चाहिये। केजरीवाल पर छापा मारा गया और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन हम आम आदमी पार्टी के सिपाही हैं। लोगों ने हम पर भरोसा किया, इसलिए हम उन्हें निराश नहीं करेंगे। हम भगवंत सिंह मान और अरविंद केजरीवाल की सोच पर चलेंगे। अरविन्द केजरीवाल एक विचार हैं। उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है लेकिन उनके साथ जुड़े लाखों स्वयंसेवकों की सोच नहीं बदली जा सकती। हम उनके साथ खड़े हैं। हमें कोई नहीं खरीद सकता। ”
अमनदीप मुसाफिर ने मीडिया को संबोधित करते हुये कहा कि कल दोपहर बाद करीब 12:30 बजे उनके पास फोन आया और बोला कि वह दिल्ली से है। उन्होंने कहा, “ मुझे भाजपा में शामिल होना चाहिये और जब मैंने उनसे इसका कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि मुझे 45 करोड़ रुपये मिलेंगे। मुझे जो भी पद चाहिये था और वाई पल्स सुरक्षा की पेशकश की गयी। उन्होंने कहा कि मैंने उनसे कहा कि हम आम आदमी पार्टी के सिपाही हैं। श्री केजरीवाल और भगवंत मान के सिपाही हैं। हम पंजाब के लोगों द्वारा चुने गये हैं और हम बिक्री के लिए नहीं हैं। भाजपा हमें खरीदना चाहती है, लेकिन आम आदमी पार्टी के विधायक पंजाब की जनता का विश्वास डिगने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र हैं लेकिन भाजपा हमें तानाशाही के रास्ते पर ले जा रही है। जब वे चुनाव जीतने में असफल हो जाते हैं तो वहां ख़रीद फरोख्त कर अपनी सरकार बनाने की कोशिश करते हैं।” ठाकुर.श्रवण
वार्ता
image